ऐसे परिवार जिनका कोई व्यक्ति कहीं बाहर से आया है तो वह जिला प्रशासन को खुद बताये: मण्डलायुक्त

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ: मण्डलायुक्त जी0एस0 प्रियदर्शी ने चारों जनपद के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित किया है कि लॉक डाउन की दशा में कोई व्यक्ति भूखा न रहे। ऐसे लोग जो बाहर से आये हैं उनकी स्क्रीनिंग करते हुये उन्हें क्वारंटाइन किया जाये। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इस तरह की व्यवस्थायें की जायें कि लॉक डाउन का शतप्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि होम क्वारंटाइन के साथ साथ इन्स्टीट्यूशनल क्वारंटाइन पर भी विशेष जोर दिया जाये। अपर निदेशक स्वास्थ्य को मण्डल स्तर कन्ट्रौल रूम स्थापित किये जाने के भी निर्देश देते हुये कहा कि इस आपदा के दौर में शासकीय सेवा में रहते हुये हम इस महामारी को रोकने में अपना जो भी योगदान दे सकते हैं, अवश्य दें। यह भी एक पुण्य का कार्य है।

मण्डलायुक्त अलीगढ़ सोमवार को अपने कैम्प कार्यालय पर मण्डलीय अधिकारियों के साथ बैठक कर मण्डल भर के अधिकारियों को लॉक डाउन का शतप्रतिशत अनुपालन कराने तथा लॉक डाउन की स्थिति में किसी भी नागरिक को कोई असुविधा न हो, के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने उपनिदेशक खाद्य आपूर्ति को निर्देशित किया कि ऐसे पात्र परिवार जिनके पास राशन पोर्टेबिलिटी कार्ड नहीं हैं, उन्हें चिन्हित कर राशन कार्ड बनवायें ताकि उन्हें खाद्यान्ह प्राप्त हो सके एवं राशन वितरण के समय सेनीटेशन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखने के निर्देश दिये। इसके साथ ही घुमन्तू परिवारों की भी खाने-पीने की स्थायी व्यवस्था सुनिश्चित की जाये, इसके लिये पुलिस, नगर पंचायत, नगर निगम एवं अपूर्ति विभाग का सहयोग प्राप्त किया जा सकता है। उपनिदेशक पंचायतीराज को निर्देशित किया कि वह ऑकडे तैयार करायें कि ऐसे कितने व्यक्ति हैं जो अन्य जनपदों से अपने-अपने ग्राम में आ चुके हैं, इन सभी की स्क्रीनिंग करने के साथ ही क्वारंटाइन भी कराया जाये, ताकि यदि कोई संक्रमित व्यक्ति है तो उसकी पहचान और सुरक्षा हो सके। गॉवों में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखते हुये स्प्रे और फॉगिंग सहित जागरूकता अभियान भी जारी रखा जाये। ग्राम में अन्टाइड फण्ड का समुचित सदुपयोग सुनिश्चित किया जाये।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि पान मसाला की बिक्री पर पूर्णतः प्रतिबंध लगायें यदि कहीं भी बिक्री एवं उत्पादन हो रहा है, प्रतिष्ठान को सील कर विधिक कार्यवाई की जाये। लॉक डाउन का शतप्रतिशत अनुपालन कराये जाने के लिये सभी पंजीकृत प्राविजन स्टोर्स से डोर-टू-डोर अनिवार्य होम डिलीवरी सुनिश्चित कराई जाये। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि प्राविजन स्टोर्स पर आवश्यक वस्तुओं की कमी न होने पाये। कालाबाजारी एवं घटतौली के साथ ही अधिक दर पर वस्तुओं की बिक्री न हो इसके लिये नोटिस की खानापूर्ति न करते हुये छापामार कार्यवाई अमल में लाई जायें। औषधि प्रशासन को निर्देशित किया गया कि दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित हो इसके लिये प्रोएक्टिव तरीके से कार्य करते हुये आवश्यक दवाओं की इन्वेट्री तैयार करें और ध्यान रखें कि ओवर रेटिंग अथवा ब्लैक मार्केटिंग न होने दी जाये।

एडीएम हाथरस ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा कन्ट्रौल रूम की स्थापना की गयी है, जिसके माध्यम से सभी ग्राम प्रधानों से नियमित बात कर बाहर से आये व्यक्तियों के बारे में जानकारी एवं उनके क्वारंटाइन की भी व्यवस्थायें की जा रहीं हैं। उन्हांने बताया कि जनपद में 3600 व्यक्ति बाहर से आये हैं, जिनके घरों में क्वारंटाइन करते हुये उनके घरों पर तख्ती लगाई गयी है ताकि आस-पास का कोई व्यक्ति उनके सम्पर्क में न आये। मडलायुक्त ने जनपद भर में फल, शब्जी, दाल एवं राशन सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ ही प्रोविजन स्टोर्स से होम डिलीवरी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। एडीएम ने यह भी बताया कि उनके यहॉ 16 सार्वजनिक स्थानों को चिन्हित कर क्वारंटाइन की सभी तरह की व्यवस्थायें की गयीं हैं।

एडीएम कासगंज ने बताया कि जनपद में 130 पंजीकृत प्राविजन स्टोर्स के माध्यम से डोर-टू-डोर होम डिलीवरी सुनिश्चित कराई जा रही है। इसके साथ ही 11 सार्वजनिक स्थानों को चिन्हित कर क्वारंटाइन की सभी तरह की व्यवस्थायें की गयीं हैं। मण्डलायुक्त ने कहा कि जनपद में यदि किसी आवश्यक वस्तुओं की कमी महसूस की जा रही है तो बिना किसी संकोच के पत्राचार किया जाये ताकि शासन को इस बारे में तत्काल अवगत कराया जा सके। उन्होंने लॉक डाउन के शतप्रतिशत अनुपालन के लिये पुलिस को और अधिक सक्रिय किये जाने की आवश्यकता बताई। उपायुक्त श्रम को निर्देशित किया गया कि विभाग में पंजीकृत श्रमिकों के खाते में तत्काल शासन द्वारा निर्धारित आर्थिक सहायता प्रेषित की जाये। आरटीओ को परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने तथा उपायुक्त जिला उद्योग को औद्यौगिक इकाइयों में कार्यरत श्रमिकों का शतप्रतिशत भुगतान सुनिश्चित कराये जाने के कडे निर्देश दिये। बैठक में डीआईजी डा0 प्रीतेन्द्रर सिंह, अपर निदेशक स्वास्थ्य डा0 गीता प्रधान, जेडीसी अतुल मिश्र सहित अन्य अधिकारी उपस्थि रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com