सोशल मीडिया पर पैनी नजर,कानून व्यवस्था से खिलबाड़ करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा: डीएम

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ: जिला मजिस्ट्रेट चन्द्र भूषण सिंह की अध्यक्षता में कलैक्ट्रेट सभागार में आगामी 06 दिसम्बर को दृष्टिगत रखते हुए शान्ति समिति की बैठक आहुत की गयी, जिसमें विधायक, राजनैतिक दलों के पदाधिकारी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, सामाजिक, व्यापारिक, धार्मिक संगठन, हिन्दू-मुस्लिम धर्मगुरू आदि उपस्थित रहे। बैठक में उपस्थित सभी प्रबुद्धजनों ने एक अच्छे शहरी नागरिक होने का परिचय देते हुए एकस्वर में स्वीकार किया कि वह किसी भी दशा में शहर का अमन व चैन नहीं बिगड़ने देंगे तथा आपसी सद्भाव व भाईचारा कार्यम रखेंगे।

जिला मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने शान्ति समिति की बैठक के माध्यम से जनपदवासियों से अपील करते हुए कहा कि अयोध्या मामले पर मा0 सुप्रीम कोर्ट द्वारा फैसला सुना दिया गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी मसले पर जब मा0 न्यायालय द्वारा जब कोई निर्णय आ जाता है तो उसे सभी को मान्य होना चाहिये। उन्होंने कहा कि अब निर्णय आ चुका है, किसी भी समुदाय या धार्मिक संगठन द्वारा अब शौर्य दिवस, काला दिवस या विजय दिवस मनाये जाने का कोई औचित्य नहीं रह जाता है। उन्होंने सभी बुद्धिजीवियों का आव्हान करते हुए कहा कि आओ हम सभी लोग संकल्प लें कि आपसी भाईचारे के साथ गंगा-जमुनी सभ्यता का पचिचय देते हुए आपसी प्रेम और सद्भाव के साथ मिलजुल कर रहेंगे। उन्होंने जनपदवासियों से कानून व्यवस्था को सुदृढ़ बनाये रखने की अपील की और कहा कि सोशल मीडिया पर किसी प्रकार की अनर्गल बयानबाजी और ऊटपटांग पोस्ट नहीं करेगा, यदि ऐसा पाया जाता है तो उसके विरूद्ध विधिक एवं दण्डात्मक कानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि उन्हें शान्ति व्यवस्था बनाए रखना आता है, जनपद में शान्ति व्यवस्था बनी रहे इसके लिये जिला एवं पुलिस प्रशासन हर तरह से मुस्तैद है और कानून व्यवस्था खराब न हो इसके लिये हरसम्भव प्रयास किया जाएगा।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अधीक्षक आकाश कुलहरि ने आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि इस सभा में उपस्थित 500 शहरी नागरिक अपने निर्णय और विचार से जनपद के 40 लाख लोगों को प्रभावित कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हम सभी को अपनी-अपनी सोच का दायरा बड़ा करना होगा। हमारी एक सोच हजारो-लाखों के भविष्य को प्रभावित करती है। उन्होंने कहा कि हम सभी बड़ी सोच और बड़े चरित्र वाले हैं इसका उदाहरण हमें प्रत्येक दिन और प्रत्येक क्षण देना होता है, इसलिये किसी के बहकावे में आकर ऐसा कोई कदम न उठाएं जिससे शहर की फिजा खराब हो। उन्होंने कहा कि आप सभी उपस्थित प्रबुद्धजन अपने समुदाय में प्रभावशाली हैं, हम सभी को अच्छे-बुरे का ध्यान रखकर अगला कदम उठाना चाहिये। उन्होंने कहा कि पूरे शहर की जिम्मेदारी पूरे शहर ही नहीं वरन जनपद में अमन व अमान की जिम्मेदारी आप सभी प्रभावशाली व्यक्तियों के कंधों पर है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से देखने में आ रहा है कि सोशल मीडिया पर विभिन्न प्रकार के पोस्ट व कमेंट आ रहे हैं, जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा सोशल मीडिया पर निगाह रखने के लिये तकनीकी रूप से काफी बड़ी तैयारी की गयी है, विभिन्न प्रकार के नये सॉफ्टवेयर लगाये गये हैं, अब कोई भी गलत पोस्ट करने वाला व्यक्ति बच नहीं सकेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में बड़ी संख्या में अनर्गन बयानबाजी एवं पोस्ट करने वालों को चिन्हित किया गया था, परन्तु उनके विरूद्ध कोई बड़ी कार्यवाही नहीं की गयी थी, परन्तु आगे अब ऐसा नहीं होने वाला, हम इस प्रकार के व्यक्तियों के साथ सख्ती ने निपटेंगे। उन्होंने कहा कि शान्ति व्यवस्था से खिलबाड़ करने वालों को किसी भी स्थिति में बख्शा नहीं जाएगा, यदि रासुका भी लगानी पड़ी तो हम लगाएंगे। एसएसपी ने कहा कि चंद लोग जो माहौल को खराब करना चाहते हैं, हम सभी को उनका सामाजिक बहिष्कार करना चाहिये।

विधायक श्री संजीव राजा ने कहा कि शहर की शान्ति और अशान्ति हम शहरवासियों के ही हाथों में है, निर्णय भी शहरवासियों को ही करना है कि वह शान्ति चाहते हैं या अशान्ति। उन्होंने जिला प्रशासन से कहा कि ऐसी टीका-टिप्पणी जो शान्ति व्यवस्था को प्रभावित करती है, करने वालों से साख्ती से निपटा जाए।

विधायक श्री अनिल पाराशर ने कहा कि ताला-चाबी की नगरी के नगरवासियो जनपद में अमन चैन और विकास की कमान आप के हाथों में है। अलीगढ़ आपसी सद्भाव और गंगा-जमुनी तहजीब की नगरी है, आप ने पहले भी आपसी एकता एवं भाईचारे का परिचय दिया है, आगे भी देंगे। उन्होंने प्रशासन से अनुरोध किया कि वह शिकायत निस्तारण और विकास की प्रक्रिया में तेजी लाकर शहर को जल्द ही स्मार्ट सिटी बनायें।

महापौर मो0 फुरकान ने कहा कि अलीगढ़ के होशमंद साथियो जब मा0 सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आ ही गया है, अब दिलों में कोई मलाल नहीं रखना चाहिये। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार सहित जिला प्रशासन को अपना काम करने दीजिये, आप अपने समाज, परिवार की तरक्की पर ध्यान देते हुए भाईचारे के साथ रहें। आओ इसकी शुरूआत हम अलीगढ़ से करते हैं। शिक्षाविद् डा0 रक्षपाल सिंह ने कहा कि जनपद में सभी राजनैतिक दलों के दिल आपस मे जुड़े हैं, कोई प्रतिद्वदिता नहीं है, आपसी प्रेव व सद्भाव कायम है। उन्होंने जिला एवं पुलिस प्रशासन को सोशल मीडिया पर विशेष निगाह रखने का सुझाव दिया। एडवोकेट कैलाश गुप्ता ने कहा कि आगामी 06 दिसम्बर से पूर्व भी कई 06 दिसम्बर आये और चले गये, हम सभी शहरवासी आपसी प्रेम और सद्भाव बनाकर रहते आये हैं और रहेंगे। उन्होंने विश्वास दिलाया कि किसी प्रकार की कोई अड़चन नहीं आएगी।

बैठक में पूर्व जिलाअध्यक्ष बीजेपी ठा0 गोपाल सिंह, पूर्व विधायक जमीर उल्लाह, सीडीओ अनुनय झा, नगर आयुक्त एस0पी0 पटेल, अब्दुल हमीद रजिस्ट्रार एएमयू, एडीएम प्रशासन कृष्णलाल तिवारी, एडीएम सिटी राकेश कुमार मालपाणी, एडीएम वित्त विधान जायसवाल, एसपीआरए अतुल शर्मा, डा0 राजीव अग्रवाल, विष्णु कुमार बन्टी, राकेश सक्सेना, सरदार दलजीत सिंह, सुभाष यादव, ज्ञानेन्द्र मिश्रा, अशोक यादव, पंकज धीरज, रंजीत चौधरी, मुकेश भारद्वाज, मुबीन खान, गट्टापीर, रफीक सिद््दीकी, बनी सिंह, अमित गोस्वामी सहित विभिन्न स्वयंसेवी संगठनों, छात्रनेता, समाजसेवी, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ संभ्रात नागरिक उपस्थित रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com