कानून व्यवस्था के लिए हुयी बैठक#माहौल बिगाड़ने वालों के विरूद्ध की जाएगी कड़ी कानूनी कार्यवाही

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ: मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में अयोध्या में विवादित ढ़ांचा गिराये जाने की 27 वीं वर्षगांठ 06 दिसम्बर पर मण्डल में किसी भी प्रकार से कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल असर न पड़े, इस सम्बन्ध में चारो जनपदों के जिला मजिस्ट्रेट्स एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक का आयोजन किया गया। मण्डलायुक्त अजय दीप सिंह ने सभी पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों शासन की मंशा से अवगत कराते हुए स्पष्ट किया कि मण्डल में कानून व्यवस्था बनाए रखना उनकी सर्वाच्च प्राथमिकता है, शासन द्वारा उन्हें सभी प्रकार के अधिकार एवं निर्णय लेने हेतु अधिकार प्रदान किये गये हैं। जनपद की फिजा खराब न हो, इसके लिए वह सभी प्रकार से ठोस एवं प्रभावी कदम उठा सकते हैं। मण्डलायुक्त ने मीडिया बन्धुओं का आव्हान किया कि राष्ट्र व जनहित में ऐसा कोई बयान, तस्वीर आदि का प्रकाशन एवं परिचालन न करें जिससे सामाजिक सद्भाव एवं समरसता में किसी प्रकार का तनाव उत्पन्न हो।

मण्डलायुक्त ने सभी पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को सोशल मीडिया पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि हमारी सतर्कता ही हमारा हथियार है। मण्डलायुक्त ने बयानवीरों पर विशेष निगाह रखने के निर्देश देते हुए कहा कि अनर्गल बयानवाजी या टीका-टिप्पणी करने वालों के विरूद्ध सख्त से सख्त कदम उठाया जाए, चाहे वह किसी भी दल या संगठन का व्यक्ति क्यों न हो। उन्होंने सोशल मीडिया के प्रति विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि यदि कहीं से भी कोई उत्तेजनात्मक या सामाजिक सद्भाव पर प्रतिकूल असर डालने वाली पोस्ट आती है तो उसके विरूद्ध बिना हिचके कठोर एवं प्रभावी कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाए। पुलिस उप महानिरीक्षक डा0 प्रीतेन्दर सिंह ने सभी पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह आगामी 02 दिनों में जिलास्तर सहित प्रत्येक थानास्तर पर पीस कमेटी की बैठकों का आयोजन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि इस बात पर विशेष ध्यान दिया जाए कि पीस कमेटी में क्षेत्रीय संभ्रांत नागरिकों, मुतवल्लियों, पुजारियों, राजनैतिक दलों, छात्र संगठनों सहित प्रत्येक वर्ग से प्रभावशाली व्यक्ति प्रतिभाग कर रहा हो।

उन्होंने कहा कि पीस कमेटी की बैठक में आपसी भाईचारे एवं सद्भाव पर जोर देते हुए सभी को समझाया जाए कि अब जब देश की सर्वोच्च अदालत द्वारा फैसला सुना दिया गया है, तो अब हम सभी को मानना भी चाहिए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्थानीय सूचना तंत्र को विकसित करने के लिए और अधिक प्रभावी बनाया जाए। मन्दिर-मस्जिद सहित अन्य पूजाघरों पर प्रातःकाल एवं देर रात्रि विशेष निगरानी रखी जाए। रेलवे, बस स्टेशन, नगर के मुख्य चौराहों पर सीसीटीवी कैमरों के द्वारा प्रत्येक आने-जाने वाले व्यक्ति पर पैनी नजर रखने के साथ ही चैकिंग-फ्रैस्किंग सहित डॉग स्क्वायड से भी निरन्तर पैनी निगाह रखी जाए। यातायात चैकिंग को प्रभावी बनाते हुए रूट डायवर्जन सहित आवश्यकतानुसार जगह-जगह पर वैरियर भी लगाए जा सकते हैं। मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है, असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर विधिक एवं कानूनी कार्यवाही की जाए।
जिला मजिस्ट्रेट चन्द्र भूषण सिंह व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने मण्डलायुक्त को बताया कि जनपद में जिला एवं थानावार पीस कमेटी की बैठकों का आयोजन कर लिया गया है। दोनों समुदायों के संभ्रांत, राजनैतिक एवं विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों से अलग से भी विचार-विमर्श कर लिया गया है, सभी ने विश्वास दिलाया है कि वह आगामी 06 दिसम्बर को किसी प्रकार का विजय दिवस, काला दिवस, शौर्य दिवस या फिर बाइक या तिरंगा रैली का आयोजन नहीं करेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि जनपद में धारा 144 लागू होने के साथ ही सेक्टर स्कीम लगाई गयी है। मजिस्ट्रेट्स एवं पुलिस अधिकारियों को उनकी जिम्मेदारियों एवं दायित्वों से भलीभांति परिचित करा दिया गया है।

जिला मजिस्ट्रेट हाथरस एवं एटा द्वारा बताया गया कि थानावार पीस कमेटी की बैठकें आयोजित कर ली गयी हैं, जिलास्तर पर 4 दिसम्बर बुधवार को बैठक आयोजित होना प्रस्तावित है, धारा 144 के साथ ही सेक्टर स्कीम लागू हो। जिला मजिस्ट्रेट कासगंज सी0पी0 सिंह ने बताया कि जनपद कासगंज में 5 दिसम्बर से सेक्टर स्कीम लगाई जाएगी, शान्ति बैठकों का आयोजन थानावार किया जा रहा है।, जनपद में अभी तक किसी भी संगठन या राजनैतिक दल द्वारा, जुलूस, बाई रैली या तिरंगा रैली के निकाले जाने की सूचना नहीं है। स्थानीय सूचना तंत्र विभिन्न प्रकार से अपने दायित्वों को अंजाम दे रहा है। उन्होंने सुझाव दिया कि जनपद में निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित हो जाए तो बेहतर होगा।
बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन शमीम अहमद खान, चारो जनपदों के जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ प्रलिस अधीक्षक, अपर जिलाधिकारी नगर अलीगढ़ राकेश कुमार मालपाणी, सीओ जीआरपी, स्थानीय अभिसूचना के अधिकारीगण, एआरएम रोडवेज लोकेश राजपूत सहित अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com