Police Breaking… अकराबाद पुलिस ने जितेंद्र की हत्या में पकड़े 2 आरोपी

अलीगढ मीडिया ब्यूरो, अलीगढ: थाना अकराबाद क्षेत्र के मिर्जा चांदपुर में मासूम जितेंद्र पुत्र श्रीपाल की हत्या में खुलासा करते 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों में मुजमिल पुत्र साहिल बेग और मंसूर पुत्र जागन बेग है। 5 आरोपी शमी हसीन पुत्र अमीर मोहम्मद, शरीफ पुत्र बशीर, भोला पुत्र अहमद सईद, आसिफ पुत्र मकबूल बेग और लईक पुत्र रहीस मोहम्मद फरार हैं। अकराबाद थाना प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि आरोपियों ने बुन्दू खान व उसके परिवार को फसाने के लिए जितेंद्र की हत्या कर नाले में फेंक दिया था। आरोपियों को पकड़ने वालों में थाना प्रभारी विनोद कुमार, उ.नि. शमीम अहमद, उ.नि. सचिन कुमार, उ. नि. सोहनवीर सिंह कांस्टेबल अंकुर कुमार शामिल रहे।
बुन्दु का कहना है कि रेशमा कि उम्र कम है जिसे कागजो में हेरा फेरी कर उम्र बढाकर अवैध तरीके से लईक से रेशमा की शादी की है, बुन्दु इसमें मा0 उच्चन्यायालय में प्रति शपथ पत्र दाखिल करने की तैयारी कर रहा है इस बात की जानकारी लईक व उसके परिवार को हुई तो उन्होने बुन्दु को किसी केस में फंसाने की योजना बनाई कि बुन्दु शादी वाले मामले में मा0 उच्च न्यायालय नही जायेगा।
लईक का राजकोट गुजरात में दरवाजे के हैण्डल व कुण्डे बनाने का कारखाना है लईक के तहेरे भाई शमी हशीन का भी लईक के साथ राजकोट में दरवाजे के हत्थे व कुण्डे बनाने का कारखाना है। मृतक जितेन्द्र का बड़ा भाई करूआ राजकोट में इनके कारखाने में मजदूरी करता है।
शमी हशीन ने बुन्दु खाँ को किसी केश में फंसाने के लिए गाँव के ही पुराने अपराधी शरीफ पुत्र बशीर से बात की तथा राजकोट में ही काम करने वाले भोला पुत्र अहमद शईद निवासी चाँदपुर मिर्जा को भी अपने साथ मिलाया तथा 10-15 दिन से लईक, शमी हशीन, भोला व शरीफ इस योजना पर काम कर रहे थे। योजना के मुताबिक श्रीपाल के लड़के का अपहरण कर हत्या करने की बात तय हुई कि श्रीपाल के लड़के कलुआ का नाम बुन्दा ने अपनी लडकी के जाने के मामले में लिखाया है तो श्रीपाल सीधा बुन्दा व उसके परिवारीजनो को हत्या में नाम जद कर देगा इस काम के लिए श्रीपाल के साथ उठने बैठने वाले मुजम्मिल पुत्र शाहिल वेग को शामिल किया। श्रीपाल के साथ जाकर रिपोर्ट करायेगा क्योकि श्रीपाल मुजम्मिल की बात मानता है शमी मोहम्मद ने 2000/रु0 भी मुजम्मिन को दिये। बच्चे को उठाने के लिए श्रीपाल के पडोसी मंसूर पुत्र जागन बेग को अपने साथ मिलाया तथा मुजम्मिन ने 1000/रु0 मंसूर को दिये। शमीहशीन ने सहयोग के लिए अपने रिश्ते के फूफा आसिफ s/o मकसूल बेग निवासी चाँदपुर मिर्जा को भी साथ मिलाया। 4-5 दिन पूर्व गांव के प्राइमरी स्कूल में सबकी मीटिग हुयी, जिसके अनुसार मंसूर ने अपना समर सेबिल चलाकर गली में पाइप चला दिया जिससे गली के बच्चे नहाने आये सभी बच्चे चले गये तो मंसूर ने जितेन्द्र को बातो में लगाकर शमी हसीन को सूचना दी शमी हसीन मोटर साईकिल से भोला के साथ आये और जितेन्द्र को बैठाकर ले गये और शमी हसन के घऱ में ऊपर वाली मंजिल पर रखा। दिन में सब लोग श्रीपाल को इधर उधर टहलाते रहे तथा रात्रि में 11-12 मुजम्मिल व आसिफ अन्य लोगो के साथ श्रीपाल को लेकर थाने गये और थाने पर आसिफ ने तहरीर लिखी तथा बुन्दू के भाई सामीन व इस्लाम को नाम जद करा दिया। तहरीर लिखकर आसिफ वापस चला गया। थाने में फोन कर मंसूर व शमी हसीन ने मुजम्मिल से पूछा कि रिपोर्ट किस किस के नाम हुयी, शामीन व इस्लाम की नामजदगी पर आश्वत हो गये। तथा घटना को अंजाम दे दिया । गाँव में जाने पर रात्रि करीब 3 बजे शमीहसीन ने मुजम्मिल को गाँव के बाहर बुलाया तो शमी हमीन, भोला, शरीफ, मंसूर व आसिफ वापस आते हुए मिले बताया कि हमने जितेन्द्र का काम करके नाले में फेक दिया है। इस संबंध में थाना अकराबाद पर मु0अ0सं0 388/18 धारा 364 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया जिसे 302 भा0द0वि0 में तरमीम किया गया।

*गिरफ्तार अभियुक्त-*
1. मुजमिल पुत्र शाहिल वेग नि0 चांदपुर मिर्जा थाना अकराबाद जिला अलीगढ़।
2. मंसूर पुत्र जागन बेग नि0 चांदपुर मिर्जा थाना अकराबाद अलीगढ़।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक, ट्यूटर के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *