मुंबई#”चाई-वाई एन्ड रंगमंच – २०२०” पर रंगमंच के दिग्गजों को देखने का सुनहरा अवसर

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, मुम्बई। कोकोनट थियेटर ने “चाई-वाई एन्ड रंगमंच – २०२०” के माध्यम से देश विदेश के रंगमंच के अनेक दिग्गजों को एक मंच पर लाकर लगातार १०८ सेशंस का आयोजन कर एक एतिहासिक उपलब्धि हासिल की है। हर अतिथिवक्ता ने उनकी रंगमंच की भूमिका के अनुसार चुने हुए विशेष विषय पर अपने ऑनलाइन सेशंस किए हैं। उन्होंने अपने यादगार थिएटर अनुभवों को साझा कर रंगमंच के विद्यार्थिओं, नौसीखिए रंगमंच के कलाकारों, लेखक, दिग्दर्शक, संगीतकार, कोरियोग्राफर्स, मेकअप आर्टिस्ट्स, डिज़ाइनर्स, टेक्नीशियन, थिएटर ग्रुप्स और थिएटर बिरादरी से जुड़े सभी लोगों को प्रेरित किया है।
कोकोनट थियेटर के निर्माता और कोकोनट मीडिया बॉक्स एलएलपी के प्रबंध निदेशक श्री रश्मिन मजीठिया का कहना है कोविद -१९ और दुनिया भर में लॉकडाउन के कारण “२०२०” पूरी दुनिया के लिए विशेष रूप से थिएटर उद्योग के लिए एक बहुत ही नुक्शानदायक वर्ष रहा है जो कि जिवंत प्रस्तुति में विश्वास रखता है। डिजिटल प्लेटफॉर्म पर इस तरह कि ऑनलाइन पहल का उद्देश्य पूरे थिएटर फ्रेटरनिटी (राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय) को इन सेशंस के माध्यम से जोड़ना और थिएटर प्रैक्टिशनर्स को मनोरंजित और सक्रिय रखना था।

ईद-उल-जुहा के दिन शहर की यातायात व्यवस्था में परिवर्तन, इन रास्तो पर रहे प्रतिबन्ध

यह एक महत्त्वाकांक्षी और चुनौतीपूर्ण परियोजना थी, क्योंकि भारत और विश्व के विभिन्न हिस्सों से, विभिन्न समय क्षेत्रों से, अलग-अलग रंगमंच की संस्कृतियों से, रंगमंच के दिग्गजों को एक मंच पर लाना और एक के बाद एक सेशंस आयोजित करना एक अत्यंत कठिन कार्य था। विभिन्न भाषाओं जैसे अंग्रेजी, हिंदी, हिंदुस्तानी, गुजराती, बंगाली, मराठी, पंजाबी, कन्नड़, मलयालम, ओडिया, असमिया, डोगरी और कई अन्य भाषाओं में नाटकों का मंचन कर चुके दिग्गजों ने कोकोनट थिएटर के इस मंच पर अपनी उपस्तिथि दर्ज़ की है। कुछ वक्ताओं ने बाल रंगमंच, कठपुतलियों का रंगमंच, शास्त्रीय रंगमंच और लोक कला रंगमंच के बारे में विशेष सत्र किये हैं। दैनिक रूप से हो रहे इन सेशंस को हज़ारों लोग देख अपना मनोरंजन कर रहे हैं। बहुत जल्द सभी सेशंस को कोकोनट थिएटर के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया जाएगा, जो सभी लोगों के लिए निशुल्क उपलब्ध होगा।
पद्म श्री और संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार विजेता श्रीमती रीटा गांगुली, श्री बलवंत ठाकुर, श्री एम.एस.सथ्यू, श्री बंसी कौल, श्री मनोज जोशी, श्रीमती नीलम मानसिंह, श्री वामन केंद्रे, श्री सतीश अलेकर, श्री दादी पुदुमजी और संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार विजेता श्रीमती सुषमा सेठ, श्रीमती डॉली आहलूवालिया, श्री कुलदीप सिंह, श्री महेश दत्तानी, प्रो. अशोक भगत, श्री प्रसन्ना, श्री सुरेश शर्मा (निदेशक-राष्ट्रीय नाट्यविद्यालय), श्री अमोद भट्ट, श्रीमती अंजना पुरी, श्री संजय उपाध्याय, श्रीमती नीना तिवाना, श्री रंजीत कपूर, श्रीमती रोहिणी हट्टंगडी, श्रीमती नादिरा बब्बर, श्रीमती. हिमानी शिवपुरी ने अपने सेशन्स किए हैं।
निष्ठावान प्रतिभागी जैसे आदिल हुसैन, रजत कपूर, शर्मन जोशी, राजपाल यादव, मकरंद देशपांडे, के.के. रैना, लिलेट दुबे, अतुल सत्य कौशिक, राकेश बेदी, सोनाली कुलकर्णी, रघुबीर यादव, पल्लवी एमडी, सुमीत राघवन, लुबना सलीम, दर्शन जरीवाला, इला अरुण, अंजन श्रीवास्तव, आलोक चटर्जी, सलीम आरिफ, सैफ हैदर हसन, टिकू तलसानिया, सचिन खेडेकर, संदीप सोपारकर, नीना कुलकर्णी, जयति भाटिया, सुचित्रा पिल्लई, रमेश तलवार, चंद्रकांत कुलकर्णी, केवल धालीवाल सहित कई अन्य वरिष्ठ रंगमंच एक्सपर्ट्स ने सेशन्स किए हैं।
ग्लोबल थिएटर एक्सपर्ट्स जैसे यू.एस.ए. से तीन बार टोनी अवार्ड विजेता स्कॉट पास्क, इंटरनेशनल प्रोडक्शन डिज़ाइनर नील पटेल (मुग़ल-ए-आज़म द म्यूज़िकल के प्रोडक्शन डिज़ाइनर), लेखक-निर्देशक-कलाकार जेसिका लिटवॉक, लेखक-निर्देशक एना कैन्डिडा कार्नेइरो, विश्व विख्यात लेखक- निर्देशक जेफ बेरॉन और आर्टिस्टिक डायरेक्टर जोनाथन होलेंडर, यूके से आर्टिस्टिक डिरेक्टर ब्रूस गुथरी और अभिनेता-निर्देशक मार्क वेकलिंग, इजिप्त से निर्देशक अमर काबिल, नॉर्वे से कोरियोग्राफर इंग्री फिक्सडल, ऑस्ट्रेलिया के लेखक-निर्देशक डेविड वुड्स और अभिनेता-निर्देशक ग्लेन हेडन, दक्षिण अफ्रीका से लेखक-नाटककार मेगन फ़र्निस और लेखक-कलाकार मोतशाबी टिलेले ने सेशन्स किए हैं।
चाय-वाई एंड रंगमंच के आखिरी ६ सेसन्स के नाम इस प्रकार है
• आदरणीय सुभाष घई सर – ३१ जुलाई २०२० – शाम ७.०० बजे
• श्री नीरज काबी – १ अगस्त २०२० -शाम ४.०० बजे
• श्रीमती सुप्रिया पाठक – १ अगस्त २०२०- शाम ६.०० बजे
• श्रीमती शबाना आज़मी – २ अगस्त २०२० – शाम ६.०० बजे
• आदरणीय शत्रुघ्न सिन्हा सर – ३ अगस्त २०२० -शाम ४.०० बजे श्री रश्मिन मजीठिया – निर्माता, कोकोनट थियेटर – ३ अगस्त २०२० – शाम ६.०० बजे अपने सेशन मे सारे अतिथि वक्ताओ का धन्यवाद करेंगे।
ये सभी दिग्गज अपने काम में बेहद व्यस्त होने के बावजूद विशेष रूप से अपना समय निकालकर सत्र करने के लिए सहमत हुए ताकि रंगमंच की जानकारी और मनोरंजन दोनों ही दर्शकों और उनके चाहनेवालों तक पहुंचा सके।
श्री शत्रुघ्न सिन्हा एक सुपरस्टार और भारतीय सिनेमा के बहुत वरिष्ठ अभिनेता हैं, किंतु मंच के प्रति उनके लगाव और प्रेम के कारण वे आज भी रंगमंच से जुड़े रहे है।
शो मेन श्री सुभाष घाइ एक प्रख्यात फिल्म निर्माता, निर्देशक, स्क्रीन राइटर और शिक्षाविद हैं और हमेशा कला प्रदर्शन को बढ़ावा देते हैं। श्रीमती सुप्रिया पाठक फिल्म, टेलीविजन और रंगमंच की एक मंझी हुई कलाकार हैं और उन्होंने हमेशा दर्शकों का मनोरंजन किया है।
पद्म भूषण पुरस्कृत, पांच बार राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता शबाना आज़मी फिल्म, टेलीविजन और थिएटर की एक सुप्रसिद्ध अभिनेत्री हैं। शबाना जी को भारत के विभिन्न संस्थानों और अन्य देशों द्वारा कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।
श्री रश्मिन मजीठिया जो एक प्रसिद्ध उद्योगपति हैं और कोकोनट थियेटर के निर्माता भी| “चाय-वाई और रंगमंच – २०२०” के पहले सीजन के आखिरी सत्र (१०८ वां) में वे एक थिएटर प्रोड्यूसर के रूप में वर्तमान परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए अपने विचार साझा करेंगे और इस अवसर पर उन सभी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय अतिथि वक्ताओं को धन्यवाद भी देंगे जिन्होंने इस पहल के लिए अपना कीमती समय दिया है। थिएटर की इस ऑनलाइन गतिविधि शुरू करने पीछे उनका कला प्रदर्शन के लिए अपार लगाव दर्शाता है।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

error: Content is protected !!