Video#मुख्यमंत्री योगी और अमित शाह के अलीगढ़ आगमन पर विरोध का ऐलान

अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का 6 फरवरी को अलीगढ़ में कार्यक्रम है जिसमें उनके साथ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी आ रहे हैं। मुख्यमंत्री के होने वाले इस कार्यक्रम को लेकर रविवार को डीएम चंद्र भूषण सिंह ने कैम्प कार्यालय पर सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। जबकि दूसरी ओर अलीगढ़ में 6 फ़रवरी को होने वाले मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को लेकर राष्ट्रीय जाट एकता संगठन ने छुट्टा घूम रहे इन पशुओं के साथ उनका काफिला रोककर विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है. आपको बताते चले कि मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह रामघाट रोड तालानगरी पर बूथ कार्यकर्ता सम्मलेन में शिरकत करने आ रहे है.


…मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर डीएम ने की बैठक
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ का 6 फरवरी को अलीगढ़ में कार्यक्रम है जिसमें उनके साथ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह भी आ रहे हैं। मुख्यमंत्री के होने वाले इस कार्यक्रम को लेकर आज डीएम श्री चंद्र भूषण सिंह ने आज कैम्प कार्यालय पर सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की।
बैठक में डीएम ने सीडीओ व एडीएम सहित समस्त एसडीएम व जिला स्तरीय सभी अधिकारियों को उनके विबजग से सम्बंधित जनहित की योजनाओं के संबमध में निर्देश दिए कि वे शासन की संचालित योजनाओं के होर्डिंग तैयार कराकर कार्यक्रम स्थल पर लगवाना सुनिश्चित करें।
इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी श्री दिनेश चंद्र, एडीएम प्रशासन श्री अजय श्रीवास्तव, एडीएम सिटी श्री श्याम वहादुर सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट श्री नलिनीकांत सिंह सहित कई जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

…अलीगढ़ में गाय और सांड से परेशान हैं किसान: सुनील चौधरी
अलीगढ़ में 6 फरवरी को योगी और अमित शाह के अलीगढ़ आगमन पर राष्ट्रीय जाट एकता संगठन छुट्टा, आवारा घूम रहे पशुओं को कार्यक्रम स्थल पर ले जाकर या योगी जी और अमित शाह का काफिला रोक कर विरोध प्रदर्शन करेगा।
मुख्यमंत्री ने 10 जनवरी तक छुट्टा घूम रहे इन पशुओं को रखने के लिए गौशालाओं का निर्माण करने का वादा किया था जो कि एक जुमला साबित हुआ। अन्नदाता किसान रात दिन मेहनत करके खून पसीने की मेहनत से फसल बोता है उस किसान की पूरे साल की कमाई और अपने बच्चों को पालने के लिए वह फसल ही उसका सहारा होती है अपनी फसल को बचाने के लिए किसान इन पशुओं को कहीं बंद करते हैं तो इन किसानों पर मुकदमा लगा दिया जाता है ऐसे में मुख्यमंत्री से किसान पूछना चाहते हैं कि किसान बेचारे क्या करें ?


युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष रंजीत चौधरी ने कहा कि हमारी मांगें हैं कि- अलीगढ़ में छुट्टा घूम रहे सभी आवारा पशुओं की जल्द से जल्द रखने की व्यवस्था की जाए। और जिन किसानों पर मुकदमे लगे हैं उन मुकदमों को वापिस लिया जाए।

अलीगढ़ के छात्र-छात्राओं की बहुत बड़ी समस्या अलीगढ़ में नए विश्वविद्यालय की स्थापना हो।
राष्ट्रीय जाट एकता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील चौधरी ने बताया किसानों की समस्या और अलीगढ़ के छात्र-छात्राओं की मांग को लेकर राष्ट्रीय जाट एकता संगठन योगी जी और अमित शाह जी को एक ज्ञापन देना चाहता है।और अगर प्रशासन ने ज्ञापन नहीं देने दिया तो इन आवारा पशुओं को इकट्ठा करके मुख्यमंत्री योगी जी और अमित शाह के आगमन पर काफिले को क्वार्सी से ताला नगरी के बीच में रोक कर विरोध प्रदर्शन करेंगें।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक, ट्यूटर के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *