अवैध मिट्टी खनन पर अंकुश लगाइए DMसाहब, गुस्से में हैं तालानगरी क्षेत्र के किसान

अलीगढ मीडिया न्यूज़, हरदुआगंज: प्रदेश के मुखिया आदित्यनाथ योगी ने किसानों की जरूरत के हिसाब से दस ट्रॉली मिट्टी निर्धारित गहराई तक कह खोदने का आदेश खनन माफिया के लिए वरदान बन गया। जेसीबी से दस दस फिट गहराई तक खनन कर माफिया मिट्टी बेचकर खरा सोना बनाकर मालामाल हो रहे हैं। और सरकार को लाखों के राजस्व की चपत लग रही है।
आलम ये है कि हरदुआगंज क्षेत्र में शाम ढलते ही जेसीबी डम्फर दौड़ने लगते हैं। जो आधा दर्जन जगहों से उपजाऊ जमीन से मिट्टी खोदकर बेच रहे है। ये नजारा तालानगरी के आसपास गांव सपेरा भानपुर, कासिमपुर रोड, ढ़सन्ना, साधुआश्रम तक खुलेआम देखने को मिल रहा है। वहीं पुलिस प्रशासन सबकुछ देखकर भी अंजान बना है। इससे किसान गुस्से में है। भाकियू के जिला महासचिव चौधरी वीरेंद्र सिंह ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अवैध खनन पर सख्त कार्यवाही की मांग की है।
…उर्वरा शक्ति को घातक है खनन
क्षेत्र में सक्रिय खनन माफिया किसानों को सब्जबाग दिखाकर ओने पौने दामों में मिट्टी खरीदते कर दस दस फ़ीट गहराई तक मिट्टी खोद रहे है। इससे वर्षात में खनन वाले स्थान के आसपास के खेतों की उर्वरा शक्ति पानी के भाव के साथ गड्ढे में पहुंच जाती है। इसके लिए किसानों को जागरूक होना जरूरी है।
…इलाके की सड़कों को खतरा
क्षेत्र में करोड़ों रुपये की लागत से बन रही सड़कों पर मिट्टी भरकर दौड़ रहे डंफर से सड़क टूट रहीं है। बीच गांव से मिट्टी भरकर दौड़ रहे डंफरों के शोर से लोग परेशान है। जरा सा विरोध करने पर माफिया गुंडई तक दिखाने से नहीम चूकते।
…इलाका पुलिस क्यों हैं मौन?
मुख्यमंत्री ने घर मे इस्तेमाल होने को दस ट्रॉली मिट्टी अपने खेत से खोदने का आदेश देते हुए कहा था कि पुलिस किसान के टैक्टर ट्रॉली को नहीं रोकेगी। मगर अवैध खनन की सूचना उपजिलाधिकारी को देते हुए माफिया पर कार्यवाही करेगी। सूत्र बताते है कि लोगों के लिए मुशीबत बने खनन के खेल में पुलिस की अंटी खूब गरम हो रही है। रहा खनन पर पैनी नजर रखने वाले राजस्व अफसरों का सवाल उनके पौबारह होते जनता देख रही है। माफिया सरकारी जमीनों तक से मिट्टी काटकर बेच रहे है।


…यहां शाम ढलते ही शुरू हो जाता है खनन
हरदुआगंज के गांव ढसन्ना, साधु आश्रम, सपेरा भानपुर रोड, कासिमपुर रोड, के खेतों में दिन रात खनन होता है। फ़र्फ़ इतना कि दिन में ट्रेक्टर ट्रॉली से तो शाम ढलते ही डंफर दौड़ना शुरू कर देते हैं। हैरान करने वाली बात ये है कि खुलेआम हो रहे मिट्टी खनन को रोज हजारो लोग देख रहे हैं। लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों को खनन होते नहीं दिख रहा।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक, ट्यूटर के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *