धान एवं मक्का क्रय केन्द्र बन्द पाए जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध होगी कार्यवाही: प्रियदर्शी

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़: मण्डलायुक्त जी.एस. प्रियदर्शी की अध्यक्षता में कमिश्नरी सभागार में मण्डल में धान एवं मक्का क्रय केन्द्रों पर खरीद की समीक्षा के लिए मण्डलीय बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में बताया गया कि मण्डल में धान के स्थापित सभी 67 क्रय केन्द्र क्रियाशील हैं, जिन पर निर्धारित लक्ष्य 11800 के सापेक्ष 9286 मी0टन की खरीद हो चुकी है, जोकि लक्ष्य का 79 प्रतिशत है। गत वर्ष 21 नवम्बर तक कुल 3035 मी0टन की खरीद हुई थी। वर्तमान वर्ष में खरीद गत वर्ष की तुलना में लगभग तीन गुना हो चुकी है। प्रदेश की खरीद 26.5 प्रतिशत हुई है, जबकि अलीगढ़ मण्डल में उसका 03 गुना 79 प्रतिशत खरीद हो चुकी है। धान खरीद की जनपदवार समीक्षा में जनपद एटा 70 प्रतिशत एवं कासगंज 57 प्रतिशत तथा भारतीय खाद्य निगम 30 प्रतिशत के धान क्रय केन्द्रों पर अपेक्षाकृत कम खरीद होने के सम्बन्ध में मण्डलायुक्त ने गहरी नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि इसी माह के अन्त तक निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति सुनिश्चित की जाये।

श्री प्रियदर्शी ने उप निदेशक(मण्डी) के सिकन्दराराऊ मण्डी के निरीक्षण में एस0एफ0सी0 एवं भारतीय खाद्य निगम के केन्द्र बन्द पाये जाने और सभी केन्द्रों पर वारदाने के अभाव में खरीद प्रभावित होने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को तत्काल अपेक्षित कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने जिला खाद्य विपणन अधिकारी, हाथरस को निर्देश दिये कि तत्काल मौके पर जाकर खरीद सुनिश्चित कराएं और बोरों की कमी इत्यादि की कोई समस्या भविष्य में न होने पाये। अन्यथा इनके विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी। जनपद अलीगढ़ में पी0सी0एफ0 क्रय संस्था के 03, जनपद एटा एवं कासगंज में भारतीय खाद्य निगम के 01-01 क्रय केन्द्रों पर सबसे कम खरीद होने पर मण्डलायुक्त ने असंतोष प्रकट करते हुए बैठक में उपस्थित अपर आयुक्त एवं अपर निबन्धक (सहकारिता) एवं क्षेत्रीय प्रबन्धक को आगामी दिवसों में स्वयं केन्द्र पर उपस्थित रहकर धान खरीद कराने के निर्देश दिये।

JNMC में 54 वर्षीय व्यक्ति के 24 किलो ट्यूमर का किया आपरेशन

कमिश्नर ने मक्का क्रय केंद्रो की समीक्षा में पाया कि मण्डल में मक्का खरीद के निर्धारित लक्ष्य 14500 मीट्रिक टन के सापेक्ष मात्र 2329.40 मीट्रिक टन खरीद हुई है जोकि लक्ष्य का 16 प्रतिशत है, पर असन्तोष व्यक्त करते हुए निर्देशित किया गया कि मक्का की खरीद में तत्काल प्रगति लायें। बैठक में उपस्थित अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत तथ्यों के अनुसार जनपद कासगंज एवं एटा में अभी अच्छी मात्रा में मक्का क्रय की जा सकती है। जिला खाद्य विपणन अधिकारी, अलीगढ़, एटा एवं कासगंज को निर्देशित किया गया कि वह तत्काल मक्का खरीद में लक्ष्य के अनुरूप प्रगति लायें। संयुक्त निदेशक (कृषि) द्वारा जनपद एटा के निरीक्षण में मक्का क्रय केन्द्र बन्द पाये जाने पर निर्देश दिये कि किसी भी दशा में क्रय केन्द्र बन्द न रहें। केन्द्र प्रभारी, मिरहची के अन्य राजकीय कार्य होने पर जनपदीय अधिकारी क्रय केन्द्र पर अस्थाई व्यवस्था करें ताकि किसानों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, अधिकारी स्वयं उपस्थित होकर खरीद कराएं।

मण्डलायुक्त ने संयुक्त निदेशक (कृषि) एवं उप निदेशक (मण्डी) को निर्देशित किया कि वह किसानों के प्रतिनिधि के रूप में मण्डल के किसानों से रैण्डम आधार पर दूरभाष पर वार्ता कर धान एवं मक्का खरीद योजना का फीडबैक प्राप्त करें और किसानों को आ रही व्यवहारिक समस्याओं को संज्ञान में लायें, ताकि उनका निराकरण किया जा सके। उन्होंने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसानों का धान एवं मक्का किसी भी दशा में न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर न खरीदा जाए। बैठक में सम्भागीय खाद्य नियंत्रक, उप निदेशक (मण्डी), संयुक्त निदेशक (कृषि), अपर आयुक्त एवं निबन्धक (सहकारिता), सभी जनपदों के जिला खाद्य विपणन अधिकारी, क्रय संस्था पीसीएफ, एसएफसी एवं भारतीय खाद्य निगम के मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com