जाति, निवास एवं आय प्रमाण पत्र के मामलों का जल्द को निस्तारण: कमिश्नर

अलीगढ मीडिया ब्यूरो,अलीगढ: मण्डलायुक्त अजय दीप सिंह ने अपर आयुक्त शमीम अहमद खॉ एवं जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह के साथ जिलाधिकारी कार्यालय के प्रकीर्ण लीपिक प्रथम, आयुद्ध लिपिक, न्यायिक एवं राजस्व लेखाकार, शिकायत कक्ष, खनन अधिकारी कक्ष, न्याय सहायक, संयुक्त, संग्रह कार्यालय, भूलेख- ग्रामीण एवं शहरी सीलिंग कार्यालयों का सघन निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सर्वप्रथम प्रकीर्ण लिपिक कार्यालय के निरीक्षण में 54 जाति प्रमाण पत्र के मामले अनिस्तारित पायें गये, जो नौकरी से सम्बन्धित वेरिफिकेशन के थे। उन्होंने कहा कि यह बेरोजगार युवकों के नौकरी से सम्बन्धित मामले हैं इसका तत्परता से एक सप्ताह में निस्ताण कर दिया जायें और ऐसे मामलों को प्राथमिकता पर लेते हुये कार्यवाही की जायें। मुख्यमंत्री विवेकाधीन के भी 18 मामले तहसील स्तर लम्बित पायें गये उन्हें समय से निस्तारित करने के निर्देश दिये।

            श्री सिंह ने आयुध लिपिक कार्यालय के निरीक्षण में थानावार रजिस्टर को देखा। मास्टर रजिस्टर के परीक्षण में पाया कि कुछ असलहा धारकों द्वारा लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं कराया गया है उन्हें नोटिस जारी कर नवीनीकरण कराया जाए और रजिस्टर पर यू0आई0डी0 नम्बर अंकित किया जाए। निरीक्षण में थानेवार पत्रावलियों का रखरखाव सुव्यवस्थित ढं़ग से पाया गया। न्यायिक अभिलेखागार में भी थानेवार पत्रावलियां यथास्थान पाई गयीं। न्यायालय अपर नगर मजिस्ट्रेट के कार्यालय के निरीक्षण में 7 मामले पुराने लम्बित पाये गये। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपने-अपने न्यायालयों में नियमित रूप से सुनवाई करते हुए वादो का निस्तारण करें विशेषकर पुराने वादो को शीघ्रता से निस्तारित किया जाए। उन्होंने कहा कि वाद निस्तारण की दैनिक डायरी बनाकर जिलाधिकारी से अवलोकित कराना सुनिश्चित किया जाए।

मण्डलायुक्त ने राजस्व अभिलेखागार के निरीक्षण में फोटोकॉपी मशीन खराब पाए जाने पर जिलाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि एक सप्ताह में मशीन की व्यवस्था कर दी जाए ताकि लोगों को नकल कॉपी आसानी से उपलब्ध कराई जा सके। उन्होंने बन्दोबश्ती रिकॉर्ड के निरीक्षण में रजिस्टरों के कवर जीर्ण-शीर्ण पाए जाने पर बाइंडिग कराने के निर्देश दिये। सभी बस्ते नये कपड़ों में सुव्यवस्थित ढ़ंग से पाए जाने पर संतोष व्यक्त किया। शिकायत कक्ष का निरीक्षण करते हुए कहा कि आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त संदर्भों/शिकायतों का गुणवत्तापरक निस्तारण किया जाए। माह नवम्बर में यह जनपद 52 वें स्थान पर था जिसमें काफी सुधार हुआ है अब 25 वें स्थान पर है, इसमें और उल्लेखनीय सुधार की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जनसुनवाई में भी प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापरक निस्तारण किया जाए जिससे कि शिकायतकर्ता भी संतुष्ट हो सकें।
श्री सिंह ने खनन विभाग के निरीक्षण में पाया कि 384 ईंट-भट्टों के सापेक्ष 248 भट्टों की रॉयल्टी जमा कराई गयी है। प्रवर्तन की कार्यवाही कम होने पर उन्होंने नियमित रूप से अवेध खनन के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने भू-लेख ग्रामीण एवं शहरी सीलिंग कार्यालय का निरीक्षण करते हुए कहा कि भू-माफियाओं एवं सरकारी भूमि पर अतिक्रमण कराए जाने से सम्बन्धित नगर क्षेत्र में कुल 252 अवैध कब्जे हटाए गये हैं इन सभी का सत्यापन कराकर देख लिया जाए कि हटाए गये अवैध कब्जों पर अलीगढ़ विकास प्राधिकरण का कब्जा है या नहीं। उन्होंने कहा कि लेखपालों के रिक्त पदों पर जिलाधिकारी अपने स्तर पर विचार कर कार्यवाही करें। संग्रह कार्यालय के निरीक्षण में राजस्व वसूली कम पाए जाने पर उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों द्वारा जारी आर0सी0 का मिलान कर वसूली की जाए ताकि आर0सी0 के सही धन का आकलन हो सके। उन्होंने संयुक्त कार्यालय में कर्मचारियों एवं अधिकारियों की निजी पत्रावलियों को भी देखा। जनसुचना के 156 मामले लम्बित पाए गये जिसमें सबसे पुराना प्रकरण गत 26 नवम्बर का पाया गया। उन्होंने जनसूचना के लम्बित मामलों का निस्तारण समय से करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर एडीएम प्रशासन अजय कुमार श्रीवास्तव, एडीएम सिटी एस0बी0 सिंह, नगर मजिस्ट्रेट सहित कलैक्ट्रेट के कर्मचारी एवं अधिकारी उपस्थित थे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक, ट्यूटर के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *