बेरियाट्रिक सर्जरी पर पहली बार एक दिवसीय लाइव ऑपरेटिव कार्यशाला हुयी

अलीगढ मीडिया ब्यूरो, अलीगढ़ 26 अप्रेलः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कॉलेज के शल्य चिकित्सा विभाग द्वारा बेरियाट्रिक सर्जरी पर पहली बार एक दिवसीय लाइव ऑपरेटिव कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मोटापे तथा उससे सम्बन्धित रोगों की पॉच बड़ी शल्य चिकित्सा मुम्बई के डॉ. रमन गोयल तथा कोलकाता के डॉ. सरफराज बेग द्वारा की गयी। शल्य चिकित्सा दल में कोलकता के डॉ. मुनीर उज जमा, (एनेस्थीसिया) तथा डॉ. अमृत शामिल थे।

जेएन मेडीकल कॉलेज के एनेस्थीसियोलोजी विभाग के प्रोफेसर मुईद अहमद एवं डॉ. शाहीना अली व उॉ. अबुनदीम और उनके दल के सदस्य भी इसमें शामिल रहे। यह शल्य चिकित्सा प्रातः 9.30 से सायं 5 बजे तक की गयी। जिन व्यक्तियों की शल्य चिकित्सा की गयी उनका भार 95-110 किलोग्राम के बीच था और उनकी आयु 45 से 55 वर्ष के मध्य थी। शल्य चिकित्सा के लिये संसाधन जेएनएमसी द्वारा उपलब्ध कराये गये। कारपोरेट चिकित्सालयों में इस शल्य चिकित्सा की लागत प्रति व्यक्ति 4 से 5 लाख रूपये आती है। इस शल्य चिकित्सा से सम्बन्धित व्यक्तियों का भार कम होगा तथा ब्लडप्रेशर, मधुमेह, गठिया एवं हृदय रोग ठीक हो जायेंगे। इस अवसर पर जेएन मेडीकल कॉलेज आडीटोरियम में आयोजित उद्घाटन कार्यक्रम में शल्य चिकित्सा विभाग के अध्यक्ष तथा आयोजन समिति के चैयरमैन प्रो. मोहम्मद असलम ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि मोटापा एक रोग है जिससे ब्लड प्रेशर, हाईपरटेंशन, मधुमेह, गठिया, बांझपन तथा हृदय रोग हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि जेएनएमसी के रेजीडेंट्स एवं अध्यापक इस स्पेशिलिटी को जेएन मेडीकल कॉलेज में विकसित करने पर कार्य करेंगे तथा शल्य चिकित्सा विभाग में बेरियाट्रिक सर्जरी यूनिट शुरू करने से क्षेत्रीय जनता को बहुत लाभ होगा।

जेएन मेडीकल कॉलेज के प्रधानाचार्य एवं सीएमएस प्रो. एससी शर्मा ने कहा कि वर्तमान समय में मोटापे तथा उससे सम्बन्धित रोगों की सर्जरी की आवश्यकता बढ़ गयी है। उन्होंने सर्जरी विभाग में डॉ. रमन गोयल तथा डॉ. सरफराज बेग के आने तथा लाइव सर्जरी के लिये उनका विशेष रूप से आभार व्यक्त किया। डॉ. रमन गोयल जो जेएन मेडीकल कॉलेज के पूर्व छात्र भी रहे हैं ने कहा कि वह अपनी मातृसंस्था में आकर अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह सर्जरी विभाग में बेरियाट्रिक सर्जरी यूनिट की स्थापना में अपना पूर्ण सहयोग देंगे। डॉ. सरफराज बेग ने कहा कि उन्होंने एक चिकित्सक व रोगी के जो संबंध यहॉ देखे हैं इतने मधुर सम्बन्ध बहुत कम चिकित्सा संस्थाओं में देखने को मिलते हैं। उन्होंने कहा कि एएमयू का जेएन मेडीकल कॉलेज देश के अग्रिम पंक्ति के मेडीकल कॉलेज की सूची में शामिल है। कार्यक्रम के आयाजन सचिव प्रो. अफजाल अनीस ने उपस्थितजनों के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर बुशरा सिद्दीकी ने किया।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com