हाथरस#जिलाधिकारी ने विश्व जनसंख्या स्थिरिता दिवस का फीताकाटकर किया शुभारंभ

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, हाथरस। बांग्ला संयुक्त जिला चिकित्सालय परिसर में जनपद के नोडल अधिकारी संजय गोयल, राहत आयुक्त उत्तर प्रदेश लखनऊ, कोविड-19 हेतु नामित नोडल अधिकारी अखिलेश मिश्रा, जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने संयुक्त रूप से विश्व जनसंख्या स्थिरिता दिवस का शुभारंभ फीताकाटकर एवं जनसंख्या नियंत्रण तथा परिवार नियोजन प्रचार प्रसार संबंधित माईकिंग वेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

कस्बे में अलर्ट दिखी गोण्डा पुलिस, कराया सख़्ती से लॉक डाऊन का पालन

नोडल अधिकारी संजय गोयल ने जानकारी देते हुये कहा कि 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत वर्ष 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद द्वारा की गयी थी। उस समय विश्व की जनसंख्या लगभग 500 करोड़ थी, तब से प्रत्येक वर्ष 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है। आयुक्त ने जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक लोग परिवार नियोजन को अपनाएं। क्योंकि परिवार छोटा होगा तो परिवार सुखी रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 11 जुलाई से जुलाई 24 जुलाई तक जनसंख्या पखवाड़ा सप्ताह मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि समाज की अहम भूमिका होती है। वह छोटा परिवार रखें और परिवार नियोजन के साधनों को अपनायें। सरकार की तरफ से चलाये जा रहे कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर अपनी सहभागिता को दर्ज करायें। उन्होंने कहा कि इस पुनीत कार्य के लिए समाज को आगे आना होगा तब ही हम जनसंख्या वृद्धि को रोक सकते हैं।

विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी अभियान को बिना जन सहभागिता के सफल नहीं बनाया जा सकता है। उन्होंने जनपद वासियों से परिवार नियोजन को अपनाने तथा जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए अहम योगदान देने का आव्हान किया। उन्होंने कहा यदि परिवार छोटा होगा तो उसका भरण पोषण एवं शिक्षा दीक्षा अच्छी प्रकार से दी जा सकती है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ बृजेश राठौर ने बताया कि उन्होने कहा कि ब्लॉक स्तर पर भी सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जा रहा है। जनसंख्या के संबंध में जागरूकता फैलाने के लिए आज से लेकर पूरे 15 दिन तक परिवार नियोजन को अपनाने के लिए लोगों को जागरूक किया जायेगा। आशाएं कोविड-19 से संबंधित सर्वेक्षण अभियान तथा संचारी रोग अभियान के साथ परिवार नियोजन संबंधित साधनों को दंपतियों को उपलब्ध करायेगे तथा कम उम्र में शादी न करने, विवाह के बाद कम से कम 2 साल तक बच्चे न पैदा करने, दो बच्चों के बीच कम से कम 3 साल का अंतर रखने तथा विभिन्न प्रकार के परिवार नियोजन के साधनों के बारे में लोगों को जागरूक करेंगी। जिला तथा ब्लॉक स्तर पर लगे परिवार नियोजन काउंसलिंग काउंटर पर लोगों को परिवार नियोजन के बारे में परामर्श दिए जा रहे हैं। परामर्श तथा परिवार नियोजन के साधनों को प्राप्त करने के साथ महिला तथा पुरुष नसबंदी के लिए के लिए अपना पंजीकरण करा सकते हैं तथा निर्धारित दिवस पर नसबंदी करा सकते हैं।
इसके पश्चात उन्होने संयुक्त रूप से जिला अस्पताल का निरीक्षणा किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने सिटी स्कैन कक्ष, वेनटीलेटर कक्ष, कोविड-19 प्रयोग शाला तथा भारतीय जन औषधि केन्द्र का मुआयना किया। उन्होने औषधि केन्द्र प्रभारी को निर्देश दिये कि दवाईयों की कमी न होने पाये तथा कुछ दवाइया उपलब्ध न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये तत्काल दवाइयों को मगाने के निर्देश दियें। अस्पताल परिसर पर नियमित रूप से साफ -सफाई कराने के निर्देश दियें।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com