मण्डलायुक्त ने की मण्डलीय समीक्षा#लाभार्थीपरक योजनाओं से कोई न रहे बंचित

अलीगढ मीडिया ब्यूरो,अलीगढ: शासन की मंशा के अनुसार कोई भी पात्र व्यक्ति सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न लाभकारी योजनाओं से बंचित न रहे सीडीओ अपने स्तर पर गहन समीक्षा करते हुए ग्रामों का भ्रमण करें, जनपद स्तरीय अधिकारियों से लाभार्थियों का सत्यापन भी कराया जाए। सभी अधिकारी अपने अधिनस्थ कर्मचारियों पर कड़ी नजर रखते हुए भ्रष्टाचार मुक्त कार्यालय बनाया जाए और इस कार्य में संलिप्त पाए जाने पर सम्बन्धित कर्मियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में किए जा रहे विकास कार्यों का निरीक्षण करने वाले अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि कार्य गुणवत्तायुक्त एवं निर्धारित समय के अन्दर पूर्ण हो।
यह बात मण्डलायुक्त अजय दीप सिंह ने कमिश्नरी सभागार में राजस्व वसूली एवं विकास कार्यों की मण्डलीय समीक्षा बैठक करते हुए व्यक्त कही। कर करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा में गत बैठक में दिये गये निर्देशों के अनुपालन में की गयी कार्यवाही पर चर्चा करते हुये समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि अगामी बैठकों में ऐजण्डा अनुसार की गयी कार्यवाही की आख्या रिर्पोट तैयार कर प्रतिभाग किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने समस्त अपर जिलाधिकारी प्रशासन, वित्त/राजस्व को निर्देश देते हुये कहा कि कई विभागों के राजस्व वसूली के आकडों में अन्तर है जिसके कारण सही समीक्षा करने में समस्या आती है इन आकडों को एक सप्ताह में सुधार लिया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनपद, तहसील एवं ब्लाक स्तर पर जो भी बैठक/विभागीय समीक्षा की जा रही है उसका कार्यवृत जारी कराते हुये कमिश्नरी कार्यालय को भी उपलब्ध करायें। उन्होंने समस्त जिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारियों को निर्देश दियें कि राजस्व से जुडे विभागों का समय-समय पर एवं औचक निरीक्षण कर उनके दस्तावेजों एवं अन्य पत्रावलियों व अभिलेखों का परीक्षण करना सुनिश्चित करें।
श्री सिंह ने कर करेत्तर एवं राजस्व वसूली की बैठक में कहा कि वाणिज्य कर, स्टाम्प एवं पंजीयन, आबकारी की वसूली कम है ये सभी अपनी वसूली में तेजी लाकर रैकिंग में सुधार लायें। वाणिज्य कर विभाग की समीक्षा करते हुये उन्होंने निर्देश दियें कि उद्यमियों एवं व्यापारियों से लिए जा रहे टैक्स का विवरण उपलब्ध करायें एवं पोर्टल एवं जनपद स्तर के आकडों में आ रहे अन्तर को सुधारा जाये। स्टाम्प एवं पंजीयन की समीक्षा करते हुए कहा कि जनपदों में अपंजीकृत संपत्तियों को चिहिन्त करते हुये उनका रजिस्ट्रेशन करायें इसके साथ ही जनपदों के 05 बडे बैनामों पर की गयी/की जा रही कार्यवाही की भी एक रिर्पोट तैयार कर बैठक से पूर्व प्रस्तुत करें। परिवहन विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि पिछले माह में बस संचालकों के प्रति काफी शिकायतें प्राप्त हो रही है जिसमें सवारियां को निर्धारित स्थानों से चढ़ानें एवं उतारने में नियमों का पालन नहीं किया जा रहा जिस पर उन्होंने विभाग को समय समय पर विभिन्न मार्गों पर चैकिंग कर चालान करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जनदपों में कुल कितने आर0सी0 जारी हुए के सापेक्ष कितनों की वसूली की गयी तथा शेष वसूली के आंकड़े प्रस्तुत किए जाएं।
मण्डलायुक्त ने विकास कार्यो के तहत स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के लिए गर्भवती महिलाओं की काउंसलिंग करते हुए एम्बुलेंस 102 की सेवाओं से भी अवगत कराया जाए। मुख्य चिकित्साधिकारी चिकित्सालयों में समय से चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने हेतु नियमित रूप से औचक निरीक्षण करते हुए अनुपस्थित के विरूद्ध कार्यवाही करें साथ ही सभी चिकित्सालयों में आवश्यक दवाओं की उपलब्धता बनाये रखें। उन्होंने कहा कि जननी सुरक्षा योजना के तहत लगने वाले सभी टीके समय से लगाये जाएं। संस्थागत प्रसव हेतु आशा की तरह लाभार्थियों का भी यथाशीघ्र प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया जाए। आंगनबाड़ी केन्द्रों पर महिलाओं एवं बच्चों की चैकिंग हेतु मेज एवं कुर्सी की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए उनका विद्युतीकरण भी कराया जाए। उन्होंने सभी मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह कल्याण सेक्टर की योजनाओं का नियमित निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करें कि जनपद में पेंशन, सामूहिक विवाह, पारिवारिक लाभ, महिला कल्याण आदि से सम्बन्धित चलाई जा रही विभिन्न लाभार्थीपरक योजनाओं में कोई प्रार्थना पत्र लम्बित न रहे। उन्होंने कहा कि समाज कल्याण विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न सामाजिक संस्थाओं का भी समय-समय पर निरीक्षण करते हुए यह भी सुनिश्चित करें कि वह सुचारू ढ़ंग से कार्य करें साथ ही इस क्षेत्र में कार्य कर रही संस्थाएं जिनका पंजीकरण नहीं है उन्हें पंजीकृत कराएं। उन्होंने कहा कि लाभार्थीपरक योजनाओं- पेंशन, प्रधानमंत्री आवास, उज्ज्वला, सौभाग्य, अमृत आदि में कोई पात्र व्यक्ति लाभ से बंचित न रह जाए यह सुनिश्चित किया जाए।
श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री समग्र ग्रामों, आदर्श सांसद ग्रामों को सरकार द्वारा संचालित सभी योजनाओं से संतृप्त करते हुए विकास कार्य ससमय पूर्ण किए जाएं। किसी भी विभाग में कोई व्यक्ति अपनी समस्या लेकर आता है तो उसके साथ मधुर व्यवहार करते हुए उसका निदान किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सक्षम अधिकारी अपने कार्यालयों पर पूर्ण नियंत्रण रखे, समय से स्वयं आएं और सुनिश्चित करें कि सभी कर्मचारी समय से उपस्थित हों। उन्होंने रेन बसेरों में रहने वाले निराश्रित लोगों के स्वास्थ्य का परीक्षण चिकित्सकों द्वारा किए जाने पर जोर देते हुए कहा कि प्राइवेट चिकित्सकों से भी सम्पर्क कर के गरीब और निराश्रित लोगों का इलाज कराया जाए। उन्होंने गन्ना किसानों के भुगतान के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि मण्डल में जिन किसानों का भुगतान बकाया हो उन्हें चिन्हित कर उनके भुगतान की कार्यवाही यथाशीघ्र पूर्ण की जाए। सिंचाई विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि नहरों की सफाई का कार्य संतोषजनक है अधिकांश नहरों में सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध है। अधिशासी अभियंता को निर्देश देते हुए कहा कि माचुआ रजवाहा में पानी की समस्या आ रही है, वहां पानी पहुॅचाएं।
श्री सिंह ने सामूहिक विवाह की समीक्षा करते हुए नगर निगम को निर्देश दिए कि वह अपने तत्वाधान में शहर के गरीब परिवारों को सामूहिक विवाह में शामिल करें और उनका अलग से कार्यक्रम बनाएं। उन्होंने 09 फरवरी को होने वाले सामूहिक विवाह में अधिक से अधिक जोड़ों को सम्मिलित करने के निर्देश दिये। उन्होंने अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सभी विशेषज्ञों के साथ बैठक कर सही उपाय खोजने के लिए निर्देशित किया उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिए कि जिन क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है उन क्षेत्रों में वह विद्युत विभाग से समन्वय कर के विद्युत पोलों को यथाशीघ्र हटवाएं। उन्होंने कहा कि मेडीकल रोड, मैरिस रोड, सेन्टर पॉइन्ट, दोदपुर आदि क्षेत्रों में किए जाने वाले विकास कार्यो को यथाशीघ्र पूर्ण कराएं जिससे किसी भी आम नागरिक को परेशानी का सामना न करना पड़े।
बैठक में कर करेत्तर, भू राजस्व, स्वास्थ्य, पंचायत, उद्योग, आईजीआरएस, 14 वां वित्त आयोग, छात्रवृत्ति, कल्याण सेक्टर की पेंशन योजनाओं, नगर निगम द्वारा लगाई जा रही स्ट्रीट लाईट, प्रधानमंत्री आवास शहरी व ग्रामीण, नये नलकूपों का निर्माण तथा खराब नलकूपों को ठीक करने, सड़कों का निर्माण, अमृत योजना, बेसिक शिक्षा, सौभाग्य योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कुपोषण मुक्त गॉव आदि अनेक योजनाओं पर विस्तृत चर्चा की गयी।इस अवसर पर मण्डल के सभी जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी एवं मण्डलीय अधिकारी उपस्थित थे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक, ट्यूटर के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *