मण्डलायुक्त जी0एस0 प्रियदर्शी ने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने हेतु की बैठक

लीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ: कोरोना वायरस जैसे संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं निगरानी के लिये मण्डल स्तर पर गठित ‘‘आउटब्रेक रेस्पांस कमेट” की अध्यक्षता करते हुये मण्डलायुक्त जी0 एस0 प्रियदर्शी ने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त करने के लिये अभियान चलाकर हर सम्भव कोशिश कर रही है, अच्छी बात यह है कि इस अभियान में आम-जनमानस का पूर-पूरा सहयोग प्राप्त हो रहा है। उन्होंने कहा कि कल मा0 प्रधानमंत्री जी के आवाहन पर मण्डल भर के शहरी क्षेत्रों सहित ग्रामीण जनता ने जो एकजुटता दिखाई उससे विशवास जागा है कि कोरोना वायरस पर विजय हासिल होकर रहेगी।

मण्डलायुक्त ने अपील करते हुये कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये जारी जंग अभी और आगे जायेगी, जिसमें सभी जनमानस का सहयोग आपेक्षित है। उन्होंने अपील करते हुये कहा कि आम आदमी को किसी प्रकार की समस्या परेशानी नहीं होने दी जायेगी, आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को खोलने के निर्देश दिये गये हैं, कालाबाजारी किसी भी दशा में नहीं होने दी जायेगी, उन्होंने कहा कि रोजमर्रा की वस्तुओं की खरीद में यदि कहीं से किसी प्रकार की कालाबाजारी या न्यूनतम मूल्य से अधिक मूल्य पर खरीद की सूचना प्राप्त होती है तो वह तत्काल जिला प्रशासन के संज्ञान में लायें, दोषी के विरूद्व कठोर कार्यवाई अमल में लाई जायेगी। उन्होंने नागरिकों से अपील करते हुये यह भी कहा कि भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर ना जायें और स्वयं भी भीड़ एकत्रित न करें। यदि अत्यंत आवश्यक हो तभी अपने-अपने घरों से बाहर निकलें।

मण्डलायुक्त ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये समीक्षा बैठक में स्वास्थ्य, पुलिस, नगर निगम, पंचायतीराज विभाग, मेडिकल कालेज सहित अन्य संबंधित विभागों को निर्देशित किया कि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिये उनके द्वारा जो भी आवश्यक उपाय एवं गतिविधियॉ अमल में लाई जा रहीं हैं अथवा शासन को जो भी पत्राचार किया जा रहा है, उसकी सूचना उन्हें अवश्य उपलब्ध कराई जाये। मण्डलायुक्त ने कोरोना वायरस के विरूद्व किसी न किसी प्रकार से जंग कर रहे ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों कर्मचारियों के स्वास्थ्य की फिक्र करते हुये डॉ0 गीता प्रधान को निर्देशित किया गया कि वह ‘‘पर्सनल प्रोटैक्शन किट” (पीपीके) की व्यवस्था करायें ताकि कोरोना संक्रमण को रोकने की दिशा में कार्य रहे अधिकारियों कर्मचारियों को उपलब्ध कराया जा सके। उन्होंने पर्याप्त मात्रा में सैनेटाइज़र एवं मास्क की व्यवस्था करने सहित भविष्य की स्थित पर विजय प्राप्त करने के लिये मण्डल के सभी चिकित्सालयों में वैंटीलेटर की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये शासन को मॉग-पत्र भेजने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने कहा कि ऐसे परिवार जिनके सदस्य बाहरी मुल्कों से आये हैं और संदिग्ध हैं उनके मकानों के बाहर एहतियात के तौर पर पोस्टर लगाये जायें ताकि स्थानीय लोगों को उनके बारे में जानकारी हो, और वह उनसे मेल-जोल न बढ़ायें। उन्होंने कहा कि होम कोरेनटाइन की मानीटरिंग अन्यंत ही आवश्यक है। उन्हांने कहा कि ऐसे एनआरआई जो विदेशों में रहकर यहॉ आये हैं, उनका दायित्व बनता है कि वह स्वयं आगे आयें और अपने स्वास्थ्य की जॉच करायें। होम क्वारंटाइन का कोई भी ऑकडा स्वास्थ्य विभाग के पास उपलब्ध न होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि जनहित में शासन के पास धन की कोई कमी नहीं है। संदिग्ध व्यक्तियों की जॉच करते समय उनकी पिछली हिस्ट्री पर विशेष ध्यान दिया जाये।

पुलिस विभाग द्वारा बताया गया कि मण्डल भर के जनपदों की सीमाओं को सील किया गया है, हर आने जाने वाले की जॉच कराई जा रही है और आवश्यक पूॅछतॉछ के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है। उन्होंने बार्डर चैकिंग को बेहतर और प्रभावी बनाये जाने के निर्देश देते हुये कहा कि रेल परिवहन रोके जाने के बाद सड़क मार्ग ही बचता है जहॉ हम सभी को बेहतर और प्रभावी कार्य करने की आवश्यकता है। उन्हांने आइसोलेशन वार्ड एवं कोरनटाइन स्थान पर फोर्स तैनात करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने पुलिस विभाग को आईएमए एवं स्वास्थ्य विभाग से समन्वय स्थापित करने पर भी ज़ोर दिया।

आपूर्ति विभाग को निर्देशित किया गया कि वह सुनिश्चित करें कि आवश्यक खाद्य आपूर्ति वाली वस्तुयें न्यूनतम मूल्य से अधिक न बेची जायें तथा किसी भी प्रकार के अवैध भण्डारण पर भी पैनी निगाह रखी जाये। दिहाडी मजदूरों को खोज कर उन्हें श्रम विभाग तक पहुॅचाया जाये ताकि शासन की घोषणा के अनुरूप उन्हें आर्थिक सहायता सीधे उनके खातों में भिजवाई जा सके। नगर निगम, स्थानीय निकाय एवं पंचायतीराज विभाग को निर्देशित किया गया कि वह साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देते हुये वास्तविक रिपोर्टिंग एवं मानीटरिंग पर भी ध्यान दिया जाये। उन्होंने साफ किया अनावश्यक तौर पर यदि व्यक्ति अपने घरों से बाहर आ रहे हैं और ऐसा प्रतीत हो रहा है कि लॉक डाउन को प्रभावित किया जा रहा है तो उन्हें सर्वप्रथम संक्रमण के बारे में समझायें और अन्यथा की दशा में संबंधित के विरूद्व कार्यवाई भी की जाये बैठक में संयुक्त विकास आयुक्त, नगर आयुक्त, अपर निदेशक स्वास्थ्य, पुलिस अधीक्षक, रेलवे, आईएमए, जेएनएमसी, मण्डी एवं पंचायतीराज विभाग से अधिकारी उपस्थित रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com