प्रेरक प्रदेश बनाने के उद्देश्य से आयोजित हुई मिशन प्रेरणा संगोष्ठ

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़: बुधवार को विजडम पब्लिक स्कूल के एपीजे अब्दुल कलाम हाॅल में बेसिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत प्रेरक प्रदेश बनाने के उद्देश्य से मण्डलायुक्त जीएस प्रियदर्शी की अध्यक्षता में मिशन प्रेरणा संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम अध्यक्ष मण्डलायुक्त जीएस प्रियदर्शी एवं मुख्य अतिथि डीजी स्कूल शिक्षा विजय किरन आनन्द, जिलाधिकारी एटा द्वारा संयुक्त रूप से संगोष्ठी का मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया गया। तदोपरान्त सभी आगन्तुक अतिथियों का एडी बेसिक आईपी सोलंकी एवं मण्डल भर से आए बीएसए द्वारा पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत एवं सम्मान किया गया।
मण्डलायुक्त जीएस प्रियदर्शी ने मिशन प्रेरणा संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि लीडरशिप जितनी अच्छी होती है कार्य उतना ही बेहतर होता है। प्रदेश सरकार ने बेसिक शिक्षा विजय किरन आनन्द के रूप में जो लीडर दिया है, सरकार को ही नहीं वरन उन्हें भी विश्वास है कि उनके कुशल नेतृत्व में जिस तरह से सम्पूर्ण प्रदेश अभी हाल ही में ओडीएफ घोषित हुआ है ठीक उसी प्रकार से मिशन प्रेरणा भी अपने लक्ष्य को प्राप्त करेगा।

उन्होंने कहा कि महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरन आनन्द द्वारा प्रदेश में बेसिक शिक्षा सुधार हेतु अच्छी गति दी जा रही है। हम सभी का यह दायित्व है कि उनकी हर प्रकार से मदद की जाए, जिससे कि प्रदेश में शैक्षिक स्तर का सुधार तो हो ही, साथ ही ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले गरीब घर के बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो सके। अलीगढ़ मण्डल से मिशन प्रेरणा संगोष्ठी का शुभारंभ किया गया है, इसलिए अलीगढ़ मण्डल से ही प्रदेश में पहला ब्लाक प्रेरक एवं जनपद प्रेरक की घोषणा होनी चाहिए। शिक्षा व्यवस्था एवं आपरेशन कायाकल्प के सफल क्रियान्वयन हेतु बेसिक शिक्षा विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों द्वारा अपना नेतृत्व प्रदान कर सहयोग किया जाए। जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत, ग्राम पंचायत के संयुक्त सहयोग से आपरेशन कायाकल्प को सफल बनाया जाए। विद्यालय मंे नामांकन के सापेक्ष बच्चों की उपस्थित शतप्रतिशत कैसे हो सकती है, इस हेतु बेहतर प्रयास किए जाएं। निकाय क्षेत्र के स्कूलों पर भी ध्यान देते हुए ड्राॅप आउट बालक, बालिकाओं का नामांकन हर हाल में विद्यालय में कराया जाए। उन्होंने अस्थाई पंजीकरण एवं माता पिता रहित बच्चों की शिक्षा पर जोर देते हुए विद्यालयों को पाईप पेयजल योजना से जोड़ने तथा वैकल्पिक ऊर्जा का प्रयोग किए जाने की बात कही। डिजिटल लर्निंग एवं एप तभी सफल होगा जब विद्यालयों को डिजिटल कनेक्टिविटी से जोड़ा जाए। विद्यालयों में बच्चों के ठहराव के लिए उनसे रूचिकर वातावरण एवं खेल के सामान सहित पिकनिक, भ्रमण एवं एक्सपोजर विजिट भी कराए जाएं। अभिभावकों को शिक्षा की महत्ता एवं उपयोगिता बताते हुए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में शतप्रतिशत बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से सुनिश्चित कराया जाए।
महानिदेशक स्कूली शिक्षा विजय किरन आनन्द ने मिशन प्रेरणा संगोष्ठी को संबोधित करते हेतु बेसिक शिक्षा विभाग में मिशन प्रेरणा में आपरेशन कायाकल्प, क्वालिटी फ्रेमवर्क, सहयोगात्मक पर्यवेक्षण, निष्ठा कार्यक्रम, दीक्षा एप, मानव सम्पदा माड्यूल, प्रेरणा समीक्षा माड्यूल, एसएमसी गतिविधियां, कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय, पुस्तकालय, स्पोटर््स, विद्यालयों का संविलयन, इंगलिश मीडियम स्कूल आदि के बारे में जानकारी दी। महानिदेशक ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा पंचायतीराज विभाग, खण्ड विकास अधिकारियों, मुख्य विकास अधिकारियों, जिलाधिकारियों के सहयोग के माध्यम से मिशन प्रेरणा को हर हाल में सफल बनाने हेतु सार्थक प्रयास किए जाएं। प्रेरक ब्लाक, प्रेरक जनपद घोषित होने पर उस क्षेत्र के खण्ड शिक्षा अधिकारी, एआरपी आदि को राज्य स्तर पर कार्यक्रम के दौरान पुरस्कृत भी किया जाएगा। विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों, शिक्षकों, विद्यालय का रिपोर्ट कार्ड तैयार किया जाए, साथ ही कमजोर बच्चों के अधिगत में सुधार हेतु शिक्षकों द्वारा कमजोर बच्चों के परिवारीजनों से वार्ता कर शैक्षिक स्तर में सुधार पर बल दिया जाए।
महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने एआरपी को ब्रह्मास्त्र की संज्ञा देते हुए प्रतिमाह 30 विद्यालयों का निरीक्षण कर शैक्षिक सुधार में सहयोग करने की अपील की। एआरपी का यह दायित्व है कि स्कूल, ब्लाक एवं जनपद स्तरीय डैशबोर्ड को विकसित करने में अपनी भूमिका निभाएं, जिसके लिए एआरपी को टैबलेट, यात्रा भत्ता भी देय होगा। उन्होंने संगोष्ठी में मौजूद अलीगढ़ मण्डल के अधिकारियों से एआरपी के रिक्त पदों पर चयन की कार्यवाही अतिशीघ्र पूर्ण कर नियमित निरीक्षण करने का आह्वान किया। कक्षा 1 से 5 तक फाउण्डेशन लर्निंग, कक्षा 1 से 8 तक रिमेडियल टीचिंग हेतु हर हाल में मार्च 2020 तक माॅड्यूल विकसित कराया जाए। निष्ठा की ट्रेनिंग सभी जनपद मंे बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारियों की मदद से अतिशीघ्र पूर्ण कराई जाए। प्रशिक्षण के दौरान शिक्षक, शिक्षिकाओं का संबोधन कराते हुए एक-दूसरे की क्षमता वृद्धि हेतु बेहतर प्रयास किए जाएं। प्रत्येक विद्यालय में पुस्तकालय, खेल के सामान की उपलब्धता गुणवत्तापूर्ण तरीके से सुनिश्चित कराएं, साथ ही बच्चों में खेलकूंद की भावना, पुस्तकें पढ़ने एवं नये-नये आयाम रूचिकर हो सकें। आपरेशन कायाकल्प के तहत मार्च 2020 तक खण्ड विकास अधिकारियों, मुख्य विकास अधिकारियों, जिलाधिकारियों की मदद से विद्यालयों में समस्त प्रकार की अवस्थापना सुविधाएं पूर्ण कराई जाएं।
महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने कहा कि मानव सम्पदा पोर्टल पर शिक्षा विभाग के समस्त कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका आनलाईन करने के साथ ही समस्त प्रकार के अवकाश स्वीकृत होने चाहिए, मानव सम्पदा पोर्टल पर अवकाश स्वीकृत की एबज में किसी भी प्रकार के शोषण की शिकायत नहीं आनी चाहिए। शिक्षकों का एसीआर इस बार आनलाईन किया जाएगा, इसके साथ ही अच्छे शिक्षक, शिक्षिकाओं को बढ़ावा भी दिया जाएगा, जिससे कि अन्य शिक्षक उनसे प्रेरणा लेकर स्वयं को और अधिक निखारकर शैक्षिक स्तर में सुधार पर ध्यान दे सकें। सामुदायिक सहभागिता के माध्यम से नियमित एसएमसी की बैठक, पीटीएम, वार्षिकोत्सबों का आयोजन होना चाहिए। खण्ड शिक्षा अधिकारियों, एडीओ पंचायत, खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा संयुक्त रूप से अभियान के रूप में मार्च 2020 तक आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत कार्य पूर्ण कराया जाए। कार्य शुरू होने के उपरान्त प्रतिदिन सफल माॅनीटरिंग भी की जाए। आपरेशन कायाकल्प में लापरवाही बरतने वाले ग्राम प्रधानों को नोटिस एवं पंचायत सचिवों के खिलाफ प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। फरवरी से मार्च 2020 तक आउट आॅफ स्कूल बच्चों का अभियान चलाकर चिन्हांकन किया जाए। यूनीसेफ के विक्रम सिंह, राज्य परियोजना कार्यालय लखनऊ से आए विभिन्न अधिकारियों द्वारा मिशन प्रेरणा संगोष्ठी के दौरान तकनीकी पहलुओं पर प्रजेेेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी।

डीएम एटा सुखलाल भारती ने कहा कि महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनन्द के सफल नेतृत्व में शिक्षा विभाग निश्चय ही ऊंचा मुकाम हासिल करेगा। प्रदेश में प्राईमरी स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था में तो सुधार होगा ही साथ ही विद्यालयों में आपरेशन कायाकल्प के माध्यम से अवस्थापना सुविधाएं पूर्ण होंगी। शिक्षा में सुधार के माध्यम से ही हम अपने परिवार, समाज, जनपद, प्रदेश एवं देश का नाम रोशन कर सकते हैं। शिक्षकों का यह दायित्व है कि वे अपनी कार्यशैली से बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें, क्योंकि भारत का भविष्य बनाने में प्राईमरी स्कूलों का अहम रोल है। एआरपी द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग के समस्त माॅड्यूल विद्यालयों में क्रियान्वित कराए जाएं, बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कतई न होने दिया जाए। मानव सम्पदा पोर्टल पर कर्मचारियों की फीडिंग जनपद एटा में 98 प्रतिशत पूर्ण करने के साथ ही प्रदेश में छठवें स्थान पर है।
मुख्य विकास अधिकारी अनुनय झा ने कहा कि जनपद में आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत वृहद स्तर पर कार्य कराए जा रहे हैं, जो कार्य कम्पोजिट ग्राण्ट से नहीं हो सकते हैं, उन्हें जीपीडीपी से कराए जाने को लेकर प्राथमिकता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी के कुशल नेतृत्व में मार्च 2020 तक शतप्रतिशत विद्यालयों में आपरेशन कायाकल्प को अच्छा अंजाम दिया जाएगा। क्रिटिकल गैप की धनराशि से स्कूलों में कायाकल्प कराने हेतु पुरजोर प्रयास किए जा रहे हैं। इसके साथ ही कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में भी शिक्षा की गुणवत्ता पर प्रमुखता से जोर दिया जा रहा है। संगोष्ठी में मण्डल भर के मुख्य विकास अधिकारियों, जिला बेसिक शिक्षाधिकारियों द्वारा अपने-अपने जनपद की बेसिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत मिशन प्रेरणा को सफल बनाने के उद्देश्य से किए गए कार्याें से अवगत कराया गया। संगोष्ठी का सफल संचालन एडी बेसिक आईपी सोलंकी ने किया।
मिशन प्रेरणा संगोष्ठी के अवसर पर अलीगढ़ मण्डल के समस्त मुख्य विकास अधिकारी, उपनिदेशक पंचायत अलीगढ़, प्राचार्य डायट, जिला विकास अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी पंचायत, परियोजना कार्यालय लखनऊ के राजीव नयन गुप्ता, अजीम, रंजीत सिंह, डा0 सभा सिद्दीकी, अंकित, दिव्या, आरएन सिंह, अलीगढ़ मण्डल के समस्त जिला समन्वयक, एआरपी आदि मौजूद रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com