संस्कृत महाविद्यालय साधुआश्रम के प्राचार्य हत्याकांड में भजीजे को जेल

अलीगढ मीडिया डॉट, अलीगढ/हरदुआगंज: साधुआश्रम पर स्थित श्रीसर्वदानंद संस्कृत महाविद्यालय में हुए प्राचार्य हत्याकांड में उनके भतीजे रामपाल को पुलिस ने गिरफ्तार जेल भेजा है। वर्ष 2013 में हुए प्राचार्य डॉ हरवीर सिंह हत्याकांड में भतीजे रामपाल ने अधिवक्ता महान प्रताप, उनके भाई ग्वालरा के पूर्व प्रधान रविप्रताप उर्फ बिंका सहित सात को नामजद कराया था। जो जमानत पर हैं।
2015 में कुर्सी व सम्पत्ति को लेकर प्राचार्य के दो भाइयों के छिड़ी कानूनी जंग के बाद मामले में नया मोड़ आ गया था, जब बदायूं कोर्ट में मामला विचाराधीन होने के बीच ही भतीजे रामपाल ने अपने भाई के नाम अलीगढ़ कोर्ट से उत्तराधिकार प्रमाण पत्र लेकर कुर्सी व संपत्ति पर दावेदारी कर दी थी। वर्ष 2018 में विपक्षी भाई अलीगढ़ कोर्ट में साजिश की कहानी बयां करते हुए आपत्ति दायर की थी।

हरदुआगंज के रामघाट रोड पर मैटाडोर ने बाइक सवार को रौंदा, मौत

जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर रामपाल, उसके दो भाई पिता सहित हरदुआगंज के भवनगढ़ी निवासी नारायन सिंह, बच्चू सिंह व बरौठा के अभय चौहान के विरुद्ध सिविल लाइन थाने में मुकदमा दर्ज हुआ। डेढ़ साल की कानूनी जंग के बीच विपक्षी द्वारा कुर्सी व सम्पत्ति के लालच में हत्या के साक्ष्य कोर्ट में प्रस्तुत करने पर कोर्ट ने 27 अगस्त को कोर्ट ने सातों नामजदों के विरुद्ध गैरजमानती वारंट जारी किए। पुलिस ने मुख्य आरोपित रामपाल को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com