जिले के किसान संगठनों ने बनाया संयुक्त किसान मोर्चा, 18 को महिला किसान दिवस मनाएंगे

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़, 15 जनवरी। किसान मजदूर एकता भवन में आयोजित एक बैठक में जिले के सक्रिय किसान संगठनों ने संयुक्त किसान मोर्चा का गठन किया। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के घटक संगठनों के अलावा भाकियू टिकैत, भाकियू अम्बावता, भाकियू भानू, भाकियू असली, राष्ट्रीय किसान मोर्चा, भारतीय किसान संगठन व बेरोजगार मजदूर किसान यूनियन के प्रतिनिधि शामिल रहे।  बैठक की अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान सभा के जिला अध्यक्ष राज सिंह ने की। बैठक में तीनों कृषि कानूनों की वापसी के लिए जिले में संघर्ष को तेज करने और किसान संगठनों की एकजुटता पर जोर दिया गया। शामिल किसान संगठनों ने जिला स्तर पर संयुक्त किसान मोर्चा का गठन कर एकताबद्ध होने का निर्णय लिया। मोर्चा की कार्यशैली के बारे में आम राय बनी कि मोर्चा का उद्देश्य आन्दोलन को शांतिपूर्वक अहिंसक तरीके से व्यापक किसान मजदूरों की एकता के साथ आगे बढ़ाना रहेगा। बैठक में संबोधित करते हुए किसान संगठनों के प्रतिनिधियों ने 50 दिनों से दिल्ली में डटे लाखों किसानों मजदूरों के संघर्ष को नमन किया। साथ ही 80 से ज्यादा किसानों के शहीद होने पर भी सरकार की हठधर्मिता को आड़े हाथों लिया और अपनी वचनबद्धता दोहरायी कि तीनों काले कानूनों की वापसी पर ही किसानों की घर वापसी होगी।

जनकल्याणकारी समारोह के रूप में मनाया जाएगा मायावती जी का जन्मदिन

सर्वसम्मति से बेरोजगार मजदूर किसान यूनियन के संयोजक शशिकान्त को मोर्चा का संयोजक बनाया गया। मोर्चा की संयोजन समिति में इनके अलावा भाकियू टिकैत के प्रदेश संगठन मंत्री एस पी सिंह, भाकियू अम्बावता के जिलाध्यक्ष विनोद सिंह, भाकियू भानु के जिलाध्यक्ष विनोद चौहान, भाकियू असली जिलाध्यक्ष वीरपाल सिंह, भाकियू महाशक्ति के संगठनमंत्री सुरेश चन्द्र गांधी, अ भा किसान सभा के जिला उपाध्यक्ष सूरजपाल उपाध्याय, अ भा किसान सभा दो के जिलाध्यक्ष मंगलसेन, राष्ट्रीय किसान मोर्चा के प्रदीप कुमार व भारतीय किसान संगठन के प्रदेश सचिव अजीत पाल सिंह राघव को शामिल किया गया। बैठक में निर्णय लिया कि मोर्चा को और व्यापक बनाने के लिए जिले में तीनों कृषि बिलों की वापसी के लिए संघर्षरत अन्य किसान-मजदूर संगठनों को भी आमंत्रित किया जायेगा। इसके अलावा समाज के वर्गों के लिए संघर्षरत प्रगतिशील न्यायपसंद व्यक्तियों व संगठनों से समर्थन की अपील की गई।
मोर्चा के आगामी कार्यक्रमों पर चर्चा के दौरान निर्णय लिया गया कि आगामी 18 जनवरी को कमलेश यादव के नेतृत्व में महिला किसान दिवस का आयोजन होगा। 26 जनवरी को किसानों की दिल्ली में भागीदारी के साथ ही जिले में भी किसान मजदूरों की एकजुटता का प्रदर्शन किया जाएगा। गणतंत्र दिवस पर जिले में किसानों मजदूरों के साझा कार्यक्रम की रूपरेखा 20 जनवरी को सभी संगठन मिलकर तय करेंगे। बैठक में राष्ट्रीय किसान मोर्चा के मंडल प्रभारी जनार्दन अनुरागी, बीएमकेयू के प्रो अशोक प्रकाश, भाकियू जिला उपाध्यक्ष विजय कुमार, इदरीश मोहम्मद, एस पी सिंह बघेल, भाकियू टिकैत के पूर्व जिलाध्यक्ष हरीराज सिंह, राजकुमार शर्मा, गोपीसिंह, लक्षमीराज सिंह, धर्मपाल सिंह भी शामिल रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com