खेत-खलिहान से सड़क पर संघर्ष में साथ महिला किसानों ने सभाएं की, रैली निकाली

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़: खेती-किसानी और किसान आंदोलन में महिलाओं की भागीदारी को प्रदर्शित करने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने विश्व महिला दिवस मनाने का निर्णय लिया। संयुक्त किसान मोर्चा के इसी राष्ट्रीय आह्वान पर जिले में भी महिला किसान दिवस पर किसान संगठनों ने गांवों में सभाएं की। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले बेरोजगार मजदूर किसान यूनियन व राष्ट्रीय किसान मोर्चा के संयुक्त तत्वावधान में कमलेश यादव के नेतृत्व में हाजीपुर में सभा एवं प्रतिरोध मार्च का आयोजन किया गया। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाएं खेत-खलिहान से लेकर सड़क तक संघर्ष में साथ है। दिल्ली मोर्चो पर आज 40 हजार से ज्यादा महिलाओं ने जुटकर 8 मार्च के इतिहास को दोहराया है। महिला दिवस जो सरकारी व स्वयंसेवी संस्थाओं के कार्यक्रमों और फ्री बस सेवा की रस्म अदायगी तक सीमित था। किसान आंदोलन ने उसे फिर से देश की करोड़ों कामकाजी किसान मजदूर महिलाओं के संघर्ष का दिन बनाया है।
ट्रेक्टर चलाने, फसल काटने, हथोड़ा चलाने वाले हाथ अब बलात्कारियों के खिलाफ एकजुट होने लगे हैं। उन्होंने महिलाओं से अपनी लड़ाई अपने बूते लड़ने का आह्वान किया। उन्होंने मौजूदा सरकारों को बलात्कारियों की संरक्षक और महिला विरोधी घोषित किया।

महिला दिवस पर सुपर फैमिना अवॉर्ड्स से नवाजीं गयीं अलीगढ़ कि बेटी सोनिया मित्तल

सभा के दौरान महिला युवा किसान राखी गौतम को शाल भेंटकर सम्मानित किया।यह सम्मान उन्हें जिले में आयोजित गणतंत्र दिवस पर 22 किमी लम्बी ट्रेक्टर परेड की अगुवाई करने के वास्ते दिया गया। राखी गौतम को सम्मानित करते हुए बताया गया कि उसने दो ही दिन की ट्रेनिंग से परेड में ट्रेक्टर चलाने का साहस किया।
सभा के पश्चात हाजीपुर से चिरौलिया गांव से महिलाओं ने वाहन रैली निकाली। रैली के दौरान महिलाओं ने तीनों कृषि बिलों की वापसी और महिला पर बढ़ रहे अत्याचारों के दोषियों को सजा देने की मांग को लेकर नारेबाजी की।  सभा एवं प्रतिरोध रैली में सरोज देवी, पिती देवी, कुसुम देवी, सुन्दरी देवी, मिश्री देवी, मीना देवी, शिवानी, संध्या, नीरज कुमारी, लक्ष्मी, नीशू आदि ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।
उधर बरला थानान्तर्गत सुनहरा में भारतीय किसान यूनियन की महिला कार्यकर्ताओं के नेतृत्व में महिला दिवस मनाया गया। इस अवसर पर आयोजित सभा की अध्यक्षता महिला किसान सोनदेवी ने की।

पंचायत चुनाव को लेकर बहुजन समाज पार्टी की हुयी विशेष बैठक, प्रत्याशियों से मांगे आवदेन

सभा में मुख्य वक्ता बतौर महिला किसान नेता विमलेश देवी ने कहा कि अब किसान आन्दोलन की कमान महिलाओं ने बराबरी के साथ संभाल ली है। सरकार ने जल्द तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिए तो लाखों की संख्या में महिलाएं परिवार सहित दिल्ली में मोर्चा संभालेंगी। उन्होंने महिलाओं से गाजीपुर बार्डर पर जाने की अपील की। जब हम माएं अपने कलेजे के टुकड़ों को देश की सीमाओं की रक्षा के लिए खुशी खुशी भेज सकती है तो अपनी रोजी रोटी इस खेती को बचाने के संघर्ष में खुद की जान की बाजी लगाने से पीछे नहीं हटेंगी।
सभा में रामकली देवी, सुशीला देवी, भूरी देवी, जयश्री देवी, चन्द्रवती देवी, रुमाली देवी, सुमन देवी, रामबेटी, बाला देवी, मालती देवी, ऊर्मिला देवी, शशीबाला देवी, सुनीता देवी, अनीता देवी, सीता देवी आदि महिला किसान शामिल रही।
सभा के दौरान मौके पर आये पुलिस उपनिरीक्षक राजवीर सिंह को मुख्यमंत्री के नाम क्षेत्रीय समस्याओं के समाधान के लिए ज्ञापन दिया गया।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

error: Content is protected !!