70वां गणतंत्र दिवस# AMU में हुया ध्वजारोहण और राष्ट्रगान

एएमयू

अलीगढ मीडिया ब्यूरो,अलीगढ: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में 70 वां गणतंत्र दिवस समारोह श्रद्धा एवं उल्लास के साथ मनाया गया। स्ट्रेची हाल के समक्ष ध्वजारोहण और राष्ट्रगान तथा एन0सी0सी0 के छात्र व छात्राओं की परेड के बाद समारोह को संबोधित करते हुए कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि आज के इस गरिमापूर्ण अवसर पर हम अपने राष्ट्रीय ध्वज एवं भारत के संविघान के रचयिता भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का स्मरण करते है। उन्होंने कहा कि आज का दिन स्वाधीनता संग्राम के नायकों को याद करने का दिन है जिनके बलिदान एवं अंथक प्रयासों से हमें आजादी जैसी नैमत मिली। उन्होंने कि महात्मागांधी, जवाहर लाल नेहरू, मौलाना अबुल कलाम आजाद, सरदार पटेल, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस तथा अनगिनत लोगों ने इस स्वतंत्रता के लिए अपने जान-माल की कुर्बानी दी ताकि हम एक स्वतंत्र वातावरण में सुख और शांति का आभास कर सकें।
प्रोफेसर मंसूर ने कहा कि भारत धार्मिक सांस्कृतिक एवं भाषाई विविधता का देश है तथा इसकी सबसे बड़ी शक्ति अनेकता में एकता है। उन्होंने कहा कि देश का निर्माण करने वाले एवं भारतीय संविधान की रचना में अग्रणी भूमिका निभाने वाले महान व्यक्तियों ने धर्मनिर्पेक्षता एवं समरसता को संविधान का मौलिक आधार बनाया। और यही विविधता भारतीय गणतंत्र को विश्व पटल पर विशेष राज्य की पहचान देती है। जिसका आधार सर्वधर्मसंभव है।
प्रोफेसर मंसूर ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के संस्थापक सर सैयद अहमद खान ने विविधता में एकता तथा धार्मिक समरूपता के इसी मूल मंत्र को वर्षो पहले अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की विशिष्ठ संस्कृति की बुनियाद बनाया था और आज तक उसी परम्परा का निर्वाहन करते हुए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय धर्म, जाति अथवा किसी भी आधार पर व्यक्तियों के मध्य किसी प्रकार का अंतर नहीं करता। इसके द्वार सभी के लिए सदा खुले हैं तथा यहॉ के आवासीय चरित्र की प्रमुख विशेषता सहिष्णुता, सदभाव तथा गंगा-जमुनी संस्कृति है। उन्होंने कहा कि हमें हर हाल में इस संस्कृति की रक्षा करते हुए विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय विकास की मुख्य धारा के अनुरूप विकास पथ पर अग्रसर करना है।
प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि अमुवि की लाइफ साइंस, मेडीसिन तथा लॉ फैकल्टियों को पूर्व की भॉति देश के अग्रणी संस्थानों में स्थान प्राप्त हुआ है। जो हमारे लिए प्रसन्नता का विषय है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने अमुवि को उन पॉच विश्वविद्यालयों में शामिल किया है जिन्हें द्वितीय वर्ग की स्वायत्तता प्रदान की गई है। इसके साथ ही अमुवि को विशिष्ट संस्थान का दर्जा भी प्रदान किया गया है। जो गर्व का विषय है।
प्रोफेसर मंसूर ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के मेडीकल कालिज के डाक्टर तथा पैरा मेडीकल स्टाफ के प्रयत्नों से प्रदेश में बाल तथा मातृत्व मृत्युदर में कमी आई है तथा हाल ही में अमुवि डाक्टरों की टीम ने प्रयागराज में चल रहे महाकुम्भ में श्रद्धालुओं के लिए निःशुल्क कैम्प का आयेजन किया था जिसकी चहुंओर प्रशंसा हुई। इस अवसर पर अमुवि छात्रा सुश्री नायला अल्वी तथा छात्र श्री मतीन अशरफ ने गणतंत्र दिवस के महत्व पर विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में अमुवि सह-कुलपति प्रोफेसर एम0एच बेग भी उपस्थित थे। कुलसचिव श्री अब्दुल हमीद (आई0पी0एस0) ने ध्वजारोहण समारोह का संचालन किया।
कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने ईको कलब द्वारा आयोजित रन फॉर यूनिटी एण्ड ग्रीन कैम्पस तथा विश्वविद्यालय गेम्स कमेटी के हाईकिंग व मांउनटेयरिंग कलब द्वारा आयोजित हॉफ मैराथन के विजेताओं सहित अहमदी स्कूल के बच्चों को भी पुरूस्कृत किया।
हॉफ मैराथन ब्वायज वर्ग में मनोज कुमार, इरफान खान तथा एम0 सलमान ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरूस्कार प्राप्त किया जब कि गर्ल्स वर्ग में मोना अग्रवाल, शिवानी सिंह तथा मुमताज ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरूस्कार प्राप्त किया। इसके अतिरिक्त अहमदी स्कूल द्वारा आयोजित हॉफ मैराथन में ब्वायज वर्ग में सागर, मुहम्मद कैफ तथा अहमद खान ने और गर्ल्स वर्ग में प्रीति कुमारी, खुशबू तथा सिद्दीका फिरदौस ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तीसरा पुरूस्कार प्राप्त किया। मार्च पास्ट में शामिल एन0सी0सी0 की टीमों के श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए बैस्ट परेड ट्राफी कुलपति द्वारा आठवीं यू0पी0 एन0सी0सी0 बटालियन ए0एम0यू0 यूनिट को प्रदान की गई।
ध्वजारोहण समारोह के उपरांत कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने विश्वविद्यालय स्वास्थय केन्द्र में भर्ती मरीजों को फलाहार वितरित किये तथा एस0एस0 हॉल (नॉर्थ) एण्ड (साऊथ) में पौधरोपण किया।
इससे पूर्व प्रातः सात बजे अमुवि के एस0टी0एस0 स्कूल तथा अब्दुल्लाह हाल में प्रभात फेरी निकाली गई। जब कि विश्वविद्यालय के विभिन्न स्कूलों, कालिजों, आवासीय हालों, डीन कार्यालयों, मौलाना आजाद लाइब्रेरी, प्रशासनिक ब्लाक, प्रोक्टर कार्यालय, डी0एस0डब्ल्यू0 कार्यालय तथा अन्य स्थानों पर ध्वजारोहण व सांस्कृतिक, साहित्यक तथा खेल कूद आदि कार्यक्रम आयोजित किये गये।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें