Video#भारतीय किसान यूनियन ने कानून की प्रतियां जलाकर क्रांति दिवस मनाने की घोषणा

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ: 5 जून को भारतीय किसान यूनियन स्वराज द्वारा संयुक्त किसान मोर्चा के समर्थन में राष्ट्रीय आह्वान पर केन्द्र सरकार द्वारा तीन कृषि बिल अध्यादेश लाने के एक वर्ष पूर्ण होने पर लगभग सात माह से निरन्तर विरोध के तहत आज़ राष्ट्रीय आह्वान पर सांसद विधायक आवासों पर काले कानून की प्रतियां जलाकर क्रांति दिवस मनाने की घोषणा पर भाकियू स्वराज द्वारा विधायक छर्रा व विधायक कोल के आवासों पर काले कानून की प्रतियां जलाई गई. जिस दौरान विधायक छर्रा के आवास पर काले कानून की प्रतियां जलानें हेतु व काले कानून वापसी की मांग के लिए समर्थन हेतु भाकियू स्वराज के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा व पदाधिकारी छर्रा विधायक आवास पर पहुंचे उस दौरान विधायक जी ने न तो भाकियू स्वराज के किसान भाईयों को बैठने को बोला सड़क पर ही खड़े होकर वार्तालाप किया. जब उनसे अनुरोध किया तो वह भड़क गए और वापिस जाने को कहने लगे तीखी नौकझोक शुरू कर दी कहा कि मैं 450 बीघा जमीन का मालिक हूं मुझे कोई परेशानी नहीं है जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने निवेदन किया कि विधायक जी आप यदि स्वयं खेती अपने हाथों से करते तो आपको किसानों के दर्द महसूस होता यदि कभी खेत में काम किया है तो उसके फोटो वीडियो हमें दें हम अपने सोशल मीडिया पर लगा कर किसान कहेंगे. काले कानून की प्रतियां जलानें से विधायक छर्रा भड़क गए और केन्द्र सरकार से काले कानून वापसी की मांग नहीं स्वीकारी और जाने के लिए बोला विधायक कोल आवास पर करीब डेढ घंटे तक घेराव कर काले कानून की प्रतियां जलाई गई वह नदारद थे. उनके आवास पर मौजूद लोगों से अनुरोध किया गया कि कोई प्रतिनिधि विधायक जी आकर किसानों की समस्याओं को सुन ले तपती धूप में डेढ़ घंटे तक घेराव करने के दौरान कोल विधायक आवास पर किसी ने न तो ऐसा कहा कि आप जनपद के किसान हैं कोरोना महामारी फैली हुई हैं.

छांव में कहीं बैठ कर घेराव कर लें लेकिन ऐसी भावना किसी विधायक कोल प्रतिनिधि की भी नहीं रहीं सीओ सिविल लाइन को एक आठ सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति को सम्बोधित दिया गया जिसमें काले कानून वापसी की मांग,एम एस पी पर कानून बनने की मांग, अलीगढ़ में एम्स की स्थापना हेतु मांग, काला दिवस पर किसानों पर दर्ज मुकदमों की वापसी की मांग, किसान संगठनों के राष्ट्रीय अध्यक्ष को सुरक्षा प्रदान करने की मांग,, किसान आंदोलन में शहीद किसान भाइयों के परिजनों को 2 करोड़ रुपए व सरकारी नौकरी की मांग, कासगंज में तैनात एडीशनल एसपी आदित्य वर्मा , के विरुद्ध जांच कराकर तत्काल प्रभाव से कानूनी कार्रवाई एवं भाकियू स्वराज के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मान कुलदीप पाण्डेय जी की जान की हिफाजत की मांग, आदि साथ ही आज़ किसानों की समस्याओं को लेकर जिला पशु चिकित्सा अधिकारी से समय लेने के बाबजूद जब उनके कार्यालय पहुंचे तो वह नदारद थे इस पर भाकियू स्वराज द्वारा धरना शुरू कर दिया गया क़रीब दो घंटे धरना देने पर उनके प्रतिनिधि डॉ मेघ सिंह जी ने आकर भाकियू स्वराज द्वारा किसानों की समस्या सुनीं व किसानों को आश्वासन दिया कि जनपद में किसानों को परेशानी नहीं होने देंगे.

#aligarh:वृक्षारोपण के साथ उनका रख-रखाव भी है अति आवश्यक: हरिकांत

इस वार्तालाप के दौरान जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा ने कहा कि आप जब समय लेने के बाद भाकियू स्वराज के पदाधिकारियों को समय नहीं दे रहे तो आम किसान भाइयों की सुनवाई क्या करेंगे इस पर उन्होंने आगामी समय में गलती स्वीकारी और कहा कि पशुपालन विभाग में किसानों के आने पर उनकी समस्याओं पर तुरंत सुनवाई की जाएगी क्रांति दिवस मनाने हेतु आज़ भाकियू स्वराज अलीगढ़ के ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय सचिव डॉ शैलेश यादव, प्रदेश सचिव डॉ अवधेश यादव, तहसील अध्यक्ष प्रवीण यादव, तहसील उपाध्यक्ष शिवकुमार जी, ब्लाक अध्यक्ष कुलदीप यादव, सुभाष यादव प्रमुख युवा सचिव, ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष सुनहरी यादव, मण्डल अध्यक्ष योगेंद्र सिंह, आदि सैकड़ों भाकियू स्वराज के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही.

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

You May Also Like

error: Content is protected !!