Breaking#बेटी के हत्यारो के खिलाफ कार्रवाई को 8दिनों से जेवर थाने के चक्कर काट रहे है परिजन

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ/जेवर: पिछले एक हफ्ते पहले उत्तर प्रदेश के जेवर कस्बे में अलावलपुर गांव के रहने वाले चरण सिंह की पुत्री आरती जो कि एक बीए की छात्रा है। और आरती पढ़ाई के साथ साथ अपने पिता के कामों में भी हाथ बटा कर अपना बेटी होने का धर्म निभा रही थी। जिसके चलते कुछ दिन पूर्व आरती अपने पिता के द्वारा घर पर एक परचून की दुकान पर बैठकर अपने पिता का हाथ बटाती है। हम आप को बता दें की 8 दिन पूर्व में गांव में रहने वाले तीन युवक शाम के समय शराब के नशे में धुत होकर दुकान पर आते हैं और दुकान पर खड़े होकर सामान मांगते हैं जिसके चलते आरती ने उन युवकों से यह कहा कि आप पर पहले के ₹200 उधार चल रहे हैं आप पहले उनका भुगतान कर दें उसके बाद नया उधार ले बस फिर क्या था उन लोगों को यह बात सुनकर उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और लड़की से गाली गलौज करते हुए यह कहने लगे कि हम तुझे देख लेंगे यह कहते हुए वह तीनों लोग वहां से चले गए कुछ घंटे बीत जाने के बाद वह तीनों युवक दोबारा से अपनी बुलेट पर सवार होते हुए तेज रफ्तार में आते हैं और दुकान के पास गैलरी मैं बैठी हुई आरती को जोर से गाड़ी से टक्कर मार कर उसे घायल कर देते हैं लड़की की चीख पुकार सुनकर लड़की के घरवाले और गांव के कुछ और लोग आ जाते हैं लड़की को इस अवस्था में देखकर जब लड़की के परिवार के लोग और गाँव के लोग जब उन तीनों युवकों को पकड़ लेते हैं तो उसमें से एक युवक फोन करके अपने और साथियों को बुला लेता है जिस पर कुछ ही समय के अंदर 50-60 लोग मौके पर पहुंच कर उन युवकों को बचाने के लिए आ जाते हैं और परिवार और गांव के लोगों से मार पीट करते हुए।

सरकारी आदेशों को ठेंगा दिखा रहा है Heritage International स्कूल, RTE एडमिशन देने में टालमटोली

उन तीनों लड़कों को छुड़ाकर ले जाते हैं जाते समय जब गांव वाले कुछ लोग उनके पीछे भागे तो साथ के लोग उन पर फायर कर देते हैं और फायर करते हुए यह बोलते हैं कि अभी तो तुम्हारी एक लड़की को मारा है अगर तुमने हमारी शिकायत की और हमारे पीछे आए तो तुम्हारे बाकी भी बचे बच्चों को हम ऐसे ही मार देंगे और यह कहते हुए वहां से फरार हो जाते हैं। जब इसकी सूचना परिवार के लोगों ने पुलिस में दी तो पुलिस काफी समय बीत जाने के बाद वहां पर पहुंचती है। और लडकी को अस्पताल में ले जाकर भर्ती करा देती हैं । जिनके चलते लड़की को समय से इलाज ना मिल पाने और काफी ज्यादा चोट आने के कारण लड़की की मृत्यु हो जाती है। जब इस बात की शिकायत लेकर परिवार थाने में अपनी लडकी की हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराती हैं तो थाने में हत्या का मामला दर्ज ना करते हुए वल्कि एक्सीडेंट की धारों में एफ आई आर दर्ज कर लेते हैं। और अब तक 8 दिन बीतने के बाद भी पुलिस आरोपी को पकड़ने में नाकाम होती दिख रही हैं ।

और जब लडकी के परिवार वाले पुलिस से आरोपी को गिरफ्तार करने की बात करते हैं तो जेवर थाने की पुलिस अपनी नाकाम इमेज को छुपाने के लिए उल्टा लड़की के परिवार से आरोपियों के कहां पर छुपे होने का और उनके एड्रेस व सही लोकेशन को देने की बात कह कर लडकी के परिवार चलता कर देते हैं । लडकी के परिवारवालों का रो रो कर बुरा हाल है और वह 8 दिन से लगातार थाने के चक्कर काट कर अपनी लड़की को इंसाफ दिलाने की मांग कर रहे हैं पर भाई साहब यह तो जेवर थाने की पुलिस है जिनके कान पर जूं तक नहीं रेंग रही हैं पर अपनी लडकी की हत्या से परेशान लड़की के परिवार वालों ने अब मीडिया से इंसाफ दिलाने की बात कही है।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें

Aligarh Media Group

www.aligarhmedia.com (उत्तर प्रदेश के अलीगढ जनपद का नंबर-१ हिंदी न्यूज़ पोर्टल) अपने इलाके की खबरे हमें व्हाट्सअप करे: +91-9219129243 E-mail: aligarhnews@gmail.com

error: Content is protected !!