प्रधानमंत्री व सीएम के फोटो लगे रिफाइंड, चना, नमक के पैकेट वितरण पर रोक

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ/लखनऊ| उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में वितरण किए जा रहे सीएम व पीएम के फोटो लगे रिफाइंड, चना व नमक के पैकेट के वितरण पर आचार संहिता का ग्रहण लग गया है। आयोग के निर्देश पर प्रशासन ने जिले में इसके वितरण पर रोक लगा दी है। कोटेदारों को फोटो पर एक सफेद स्टीकर लगाकर राशन के पैकेट वितरण करने के निर्देष दिए गए हैं। वहीं, डीलरों को नए आवंटन में बिना फोटो लगे हुए चना, रिफाइंड व नमक के पैकेट दिए जा रहे हैं। जिले में कुल 6.64 लाख राशन कार्ड धारक हैं। इनमें 24 हजार अंत्योदय श्रेणी के हैं। वहीं, अन्य पात्र गृहस्थी के हैं। कोरोना काल के बाद से प्रदेश व राज्य सरकार की तरफ से हर महीने दो बार मुफ्त राशन वितरित किया जा रहा है। अब प्रदेश सरकार की तरफ से दिसंबर के बाद से मुफ्त राशन के साथ ही प्रति कार्ड एक किलो नमक, एक किलो रिफाइंड व एक किलो चना का वितरण किया जा रहा है। इन तीनों सामानों के पैकेट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ का फोटो लगा हुआ है। साथ ही सोच ईमानदार, काम दमदार की टैग लाइन भी लिखी है। अब जनवरी माह का राशन बांटा जा रहा है, लेकिन इसी बीच आचार संहिता लग गई है। ऐसे में प्रशासन ने आचार संहिता लगते ही इन पैकेटों के वितरण पर रोक लगा दी है।वही जिला पूर्ति अधिकारी शिवकांत पांडेय ने बताया कि राशन विक्रेताओं को आदेश दिए हैं कि किसी भी कीमत पर फोटो लगे पैकेट वितरित न किए जाएं। फोटो की जगह पर एक सादा पर्ची चस्पा की जाए। इसके बाद ही वितरण होना चाहिए। उन्होंने बताया कि यदि कोई फोटो लगे नमक, रिफाइंड, चना के पैकेट वितरित करता है तो उसके खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के मामले में कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि अब नए स्टाक में बिना फोटो लगे ही पैकेट आएंगे। ऐसे में आने वाले दिनों में स्टीकर भी नहीं लगाना होगा।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें
error: Content is protected !!