तहसील खैर में हुआ समाधान दिवस, वीआरसी ऑपरेटर की कार्यशैली को भी परखा

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ| जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन तहसील सभागार खैर में किया गया । जिलाधिकारी ने तहसील दिवस पर समाधान दिवस रजिस्टर को देखकर निस्तारण आख्या की जांच की और कहा कि जो समस्याएं लंबित है उन्हें निस्तारण जल्द से जल्द कराया जाए। संपूर्ण समाधान दिवस में क्षेत्र से आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुनकर शीघ्र निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। उन्होंने राजस्व से सम्बन्धित मामलों पर कहा की मौके पर पुलिस एवं राजस्व टीम जाकर शासन द्वारा दिए गए निर्देश के क्रम में गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराया जाए। लेखपालों से कहा कि जो भी भूमि संबंधी मामले हैं उन्हें मौके पर जाकर ईमानदारी के साथ निस्तारण कराएं। उन्होंने कहा कि जो भी समस्याओं का निस्तारण कराया जाए वह गुणवत्तापूर्ण हो क्योंकि निस्तारण आख्या की समीक्षा शासन स्तर से की जा रही है। इसको देखते हुए निस्तारण की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। सम्पूर्ण समाधान दिवस में 80 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमे से 11 का मौके पर ही निस्तारण किया गया। संपूर्ण समाधान दिवस में कब्जा हटाने, रास्ता निकलवाने, खेत की पैमाइश करवाने, चकरोड़ों से अतिक्रमण हटाए जाने सहित आपसी विवाद संबंधी शिकायतें प्राप्त हुई।
डीएम ने कहा कि वर्तमान में मतदाता पुनरीक्षण का कार्य चल रहा है, जिन लोगों के मतदाता सूची में नाम नहीं है उनके फार्म भरवाकर नाम जुड़वाएं महिलाओं तथा 18 एवं 19 वर्ष आयु के लोगों के अधिक से अधिक मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।
संपूर्ण समाधान दिवस में मुख्य विकास अधिकारी अंकित खंडेलवाल, अपर जिलाधिकारी प्रशासन डी पी पाल, उप जिलाधिकारी के बी सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर आनन्द कुमार उपाध्याय, जिला विकास अधिकारी भरत कुमार मिश्रा, परियोजना निदेशक, जिला पंचायत राज अधिकारी, तहसीलदार खैर सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

वीआरसी का किया निरीक्षण
तहसील दिवस के उपरांत जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने खैर विधानसभा-71 में वीआरसी का कार्य देखा। निरीक्षण के दौरान वीआरसी केंद्र पर छह ऑपरेटर अभिषेक कुमार मनीष कुमार अमित कुमार आकाश कुमार शोएब एवं प्रिंस ऑनलाइन फीडिंग का कार्य करते हुए पाए गए।
उप जिला अधिकारी के बी सिंह ने बताया कि जो भी दावे आपत्तियां प्राप्त हो रही हैं, उन्हें लिखित रूप में वीआरसी को सौंपा जा रहा है। वीआरसी दावे आपत्तियां प्राप्त कर निरंतर फीडिंग का कार्य कर रहे हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने एसडीएम के बी सिंह को सख्त निर्देश दिए कि प्रत्येक वीआरसी ऑपरेटर की कार्यशैली पर कड़ी निगाह रखी जाए और ध्यान रखा जाए कि दावे आपत्तियों की फीडिंग का कार्य पूर्ण पारदर्शिता ईमानदारी के साथ संपादित किया जाए।

 

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें
error: Content is protected !!