#श्रीगणेश प्रतिमा की स्थापना और विसर्जन किस तरह करें,.. पढ़िए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ: अधिकतर लोग एक दूसरे की देखा देखी गणेश जी की प्रतिमा स्थापित कर रहे हैं। और 3 या 5 या 7 या 11 दिन की पूजा के उपरांत उनका विसर्जन भी करेंगे। विसर्जन केवल महाराष्ट्र में होता हैं। क्योंकि गणपति वहाँ एक मेहमान बनकर गये थे। वहाँ लाल बाग के राजा कार्तिकेय ने अपने भाई गणेश जी को अपने यहाँ बुलाया और कुछ दिन वहाँ रहने का आग्रह किया था जितने दिन गणेश जी वहां रहे उतने दिन माता लक्ष्मी और उनकी पत्नी रिद्धि व सिद्धि वहीं रही इनके रहने से लालबाग धन धान्य से परिपूर्ण हो गया।
कार्तिकेय जी ने उतने दिन का गणेश जी को लालबाग का राजा मानकर सम्मान दिया‚ यही पूजन गणपति उत्सव के रूप में मनाया जाने लगा। अब बात करें देश की अन्य स्थानों की तो गणेश जी हमारे घर के मालिक हैं।

#राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर बनेंगे अलीगढ़ का गौरव: मुख्यमंत्री

और घर के मालिक को कभी विदा नही करते। हम बड़े शौक से कहते हैं गणपति बाप्पा मोरया अगले बरस तू जल्दी आ इसका मतलब हमने एक वर्ष के लिए गणेश जी को जबरदस्ती पानी मे बहा दिया। पिछले कई वर्षों से देखने को मिल रहा है‚ कि विसर्जन भी ठीक प्रकार से नहीं हो पा रहा यह श्री गणेश प्रतिमा का अनादर ही तो है। पूजन के बाद श्री गणेश प्रतिमा की दुगर्ति होना कहां उचित हैॽ इसलिए गणेश जी की स्थापना अवश्य करें पर विसर्जन कभी न करे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें
error: Content is protected !!