उत्तर प्रदेश में जीका वायरस को लेकर निगरानी कमेटियां सतर्क, बांटी जाएंगी 20 लाख दवा किट

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, उत्तर प्रदेश: जीका वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी को देखते हुए सतर्कता और बढ़ा दी गई है। 80 हजार निगरानी कमेटियां बुखार से पीड़ित रोगियों को चिन्हित करने के काम में जुटी हुई हैं। सभी 13 छावनी परिषद के क्षेत्रों में सघन जांच अभियान चलाकर जीका वायरस से संक्रमित रोगियों को चिन्हित किया जाएगा। निगरानी कमेटी की मदद से करीब 20 लाख दवा की किट बुखार से पीड़ित मरीजों को बांटी जाएंगी।उधर, पहला रोगी एयरफोर्स कर्मी था, ऐसे में प्रदेश में सभी 13 छावनी परिषद के क्षेत्रों में जीका वायरस की जांच शुरू करने के लिए टीमों का गठन किया जा रहा है। जिन 13 छावनी परिषद के क्षेत्रों में सघन जांच अभियान शुरू किया जाएगा उनमें कानपुर, लखनऊ, मेरठ, वाराणसी, प्रयागराज, अयोध्या, मथुरा, शाहजहांपुर, झांसी, बबीना, सीतापुर, बरेली व आगरा शामिल हैं।अस्पतालों में बुखार से पीड़ित मरीजों के भी सैंपल लेकर जीका वायरस की जांच कराई जा रही है। करीब 20 लाख दवा की जो किट बांटी जा रही हैं उनमें बुखार व विटामिन की गोली हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य महानिदेशक डा. वेदब्रत सिंह का कहना है कि बचाव के सभी उपाए किए जा रहे हैं। मालूम हो कि जीका वायरस भी डेंगू के लिए जिम्मेदार मच्छर एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से होता है।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें
error: Content is protected !!