पं0 दीन दयाल उपाध्याय जी की 105वीं जयन्ती के पर अलीगढ में प्रदेश जल शक्ति मंत्री ने क्या कहा, पढ़िए

Election अलीगढ

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़: प्रखर राष्ट्रवादी एवं अन्त्योदय की भावना में विश्वास रखने वाले पं0 दीन दयाल उपाध्याय जी की 105वीं जयन्ती के अवसर पर जनपद पधारे प्रदेश के मा0 जल शक्ति मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह द्वारा सर्वप्रथम पूर्ण विधि-विधान एवं पूजा अर्चना के पश्चात नौरंगाबाद में जी.टी. रोड पर पं0 दीन दयाल की स्मृति में बनाये गये श्री राम कृपा निवास द्वार का फीता काटकर लोकार्पण किया। इस अवसर पर प्रदेश के मा0 वित्त एवं चिकित्सा शिक्षा राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह, मा0 सांसद श्री सतीश गौतम, मा0 विधायक श्री अनिल पाराशर, श्री संजीव राजा, एमएलसी डा0 मानवेन्द्र प्रताप सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती विजय सिंह एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

जी.टी. रोड पर द्वार के लोकार्पण के पश्चात मा0 मंत्री जी का काफिला श्री राम बैैंक्वेट हॉल की तरफ बढ़ा जहां उन्होंने सर्वप्रथम पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित एवं पुष्प अर्पित कर अपनी भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। इसके पश्चात संघ, जनसंघ एवं भाजपा की गौरव यात्रा के साथ ही पं0 दीन दयाल उपाध्याय के जीवन मूल्यों पर लगाई गयी चित्र प्रदर्शनी का बड़ी ही आत्मीयता से अवलोकन किया। मा0 विधायक कोल श्री अनिल पाराशर द्वारा मंच पर मुख्य अतिथि प्रदेश के मा0 मंत्री एवं राज्य मंत्री के साथ अन्य जनप्रतिनिधियों का स्वागत व सम्मान किया गया।

प्रदेश के मा0 जलशक्ति मंत्री ने पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के प्रति अपने श्रद्धा भाव व्यक्त करते हुये कहा कि वह वास्तविक रूप से भारत मॉ के सच्चे सपुत्र थे और ऐसा व्यक्तित्व रोज-रोज पैदा नहीं होता। उन्होंने सबसे पहले अपने आदर्श स्वयं पर ही कठोरता से लागू किये और बाद में उनका प्रचार किया। उन्होंने हर हाथ को काम देने का अधिकार और हर खेत को पानी का अधिकार देने के साथ-साथ विकास का लाभ समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुॅचाने की बात कही और आज हमारी सरकार ने यह करके दिखा दिया है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री बाबूजी श्री कल्याण सिंह जी के सुशासन को याद करते हुए कहा कि मा0 कल्याण सिंह जी के पश्चात प्रदेश में पहली ऐसी सरकार का गठन आप लोगों द्वारा किया गया है जो पूरी ईमानदारी एवं पारदर्शिता से कार्य कर रही है। उन्होंने भारत के गौरवशाली इतिहास से युवाओं को परिचित कराते हुए कहा कि विश्व का पहला विश्वविद्यालय तक्षशिला, सबसे पुराना धर्म सनातन धर्म, योग, पुरानी पुस्तक वेद एवं उपनिषद है। आज पंडित जी के एकात्म मानववाद पर दुनियां भर में शोध हो रहा है। उन्होंने कहा कि हजारों वर्ष पहले इसी बृज के लाल श्री कृष्ण ने कुरूक्षेत्र में गीता का उपदेश दिया और कलयुग में जब दुनियां पंूजीवाद एवं सामंतवाद से त्रस्त थी तब एक बार फिर नगला चन्द्रभान के बृज के ही सुपुत्र ने दुनियां को एकात्म मानववाद का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि महात्मा गॉधी जी ने ग्रामोदय, बिनोवा भावे जी ने सर्वोदय एवं पंडित जी ने अन्त्योदय का नारा दिया, इन सभी को समावेशित करते हुए हमारे मा0 प्रधानमंत्री जी राष्ट्रोदय की भावना से कार्य करते हुए इन महापुरूषों के सपनों को साकार कर रहे हैं। उन्होंने भव्य कार्यक्रम के आयोजन के लिए मा0 विधायक श्री पाराशर जी को धन्यवाद देते हुए कहा कि पंडित जी के जीवन मूल्यों से युवाओं एवं जनमानस को अवगत कराने के लिए प्रतिवर्ष उनकी जयंती का आयोजन करना एक सराहनीय कदम है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के मा0 राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह ने अपने सम्बोधन की शुरूआत करते हुए कहा कि चरैवैती-चरैवैती, चलते रहो-चलते रहो। उन्होंने कहा कि आज हमारा संगठन एवं सरकार पंडित दीन दयाल जी द्वारा दिखाये गये अन्त्योदय की भावना से कार्य कर रही है। पंडित जी का मानना था कि सत्ता ऐसे व्यक्ति के हाथों में होनी चाहिए जो उसका प्रयोग अपने लाभ के लिए न कर विकास की राह में अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के उत्थान में करे। हमारी सरकार जनसंघ से लेकर आज तक इसी विचारधारा से कार्य कर रही है। उनके विचार आज के समय में भी प्रेरणादायी हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में बिना किसी भेदभाव के सबका साथ-सबका विकास पर चलते हुए जरूरतमंद पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित किया है।

#AMU: जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की 50 सीटें बढ़ेंगी

मा0 सांसद श्री सतीश गौतम ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत अब निश्चित रूप से विकास के रास्ते पर है और योगी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश से अब घूसखोरी तथा भ्रष्टाचार का खात्मा हो गया है। प्रदेश में किसानों को राहत पहुॅचाने वाली किसान सम्मान निधि योजना से जरूरत के समय किसानों को किश्त के रूप में 6000 रूपये प्रदान किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के मा0 जल शक्ति मंत्री द्वारा संगठन में युवा मोर्चा से लेकर देश एवं प्रदेश स्तर पर महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन किया गया है। उनके असम प्रभारी रहते हुए पहली बार असम में सरकार का गठन किया गया। आज देश एवं प्रदेश पं0 दीन दयाल जी द्वारा दिखाए गये रास्ते पर आगे बढ़ रहा है।

मा0 विधायक कोल श्री अनिल पाराशर ने कहा कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के आदर्शो पर चलते हुये समाज के कल्याण के लिए पूर्ण पारदर्शिता एवं ईमानदारी से कार्य किया गया है। मा0 कल्याण सिंह जी के सुशासन के पश्चात लूटने वाली सरकारों को आपने 2017 में जबाव दिया है। सभी क्षेत्रों में पारदर्शितापूर्ण नियुक्ति प्रणाली लागू की गयी है, जिससे लाखों की संख्या में युवाओं की भ्रष्टाचारमुक्त नियुक्ति हुई है। उन्होंने कहा कि पंडित जी एकात्म मानववाद के प्रणेता, प्रखर राष्ट्रवादी एवं अन्त्योदय की भावना रखने वाले थे। उनके जीवन एवं सिद्धातों से न केवल प्रत्येक राजनैतिक दल को बल्कि हर व्यक्ति को प्रेरणा लेनी चाहिए।

कार्यक्रम में राज्य महिला आयोग की मा0 सदस्या श्रीमती रामसखी कठेरिया, मा0 विधायक शहर श्री संजीव राजा, एमएलसी डा0 मानवेन्द्र प्रताप सिंह, ठा0 जयवीर सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती विजय सिंह, ब्लॉक प्रमुख लोधा हरेन्द्र सिंह, ठा0 श्यौराज सिंह, ठा0 गोपाल सिंह, शकुन्तला भारती समेत अन्य जनप्रतिनिध उपस्थित रहे।

...हमारी खबरों को अपने फेसबुक पेज, ट्यूटर & WhatsAap Gruop के जरिये दोस्तों को शेयर जरूर करें