जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

धर्म समाज कॉलेज के ऑडिटोरियम में आयोजित होगा, तरुणी सम्मेलन कार्यक्रम

0


फोटो- अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम

अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम - राष्ट्र के सर्वांगीण विकास के लिए महिलाओं को    योग्य,संस्कारवान, व चरित्रवान नागरिक बनाने के लिए महिला सम्वयन समिति महानगर हरिगढ़, तरुणी सम्मेलन का आयोजन करने जा रही है मंगलवार 27 फरवरी को प्रातः 11:00 बजे से धर्म समाज कॉलेज के ऑडिटोरियम में यह सम्मेलन किया जाएगा। 

 

सभ्यता व संस्कृति को बनाए रखने वाली तरुणियां हैं राष्ट्र का भविष्य

सम्मेलन समिति की डॉ अंशु सक्सेना ने रविवार को रामघाट रोड पर स्थित आभा होटल में संबोधित करते हुए बताया कि हमारी सभ्यता व संस्कृति को बनाए रखने वाली तरुनिया राष्ट्र का भविष्य है। उन्होंने कहा तरुनिया आज की विषम परिस्थितियों में भी राष्ट्र का विकास हेतु अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दे सके,इस उद्देश्य से हमारे द्वारा निरंतर प्रयास किया जा रहा है। तरुनियों की मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि संस्कार एवं संस्कृति को आगे बढ़ने का कार्य परिवार की माता बहनों द्वारा किया जा रहा है। राष्ट्र के बेहतर विकास के लिए एक अच्छा नागरिक बनाना चाहिए और प्रत्येक तरुणी को सामाजिक आर्थिक एवं आध्यात्मिक रूप से आत्मनिर्भर बनना चाहिए ।  

         कार्यक्रम संयोजिका डॉ प्रतिभा सारस्वत ने बताया की आधुनिक भारत में पीढ़ी दर पीढ़ी तरुनियों का योगदान बढ़ता जा रहा है। इसके साथ-साथ तरुनियों को देश के संस्कृति एवं संस्कारों का समावेश होना अनिवार्य है, जिससे कि देश एक बेमिसाल कामयाबी हासिल कर सके। 



सम्मेलन में 15 वर्ष से 30 वर्ष तक की तरुणिया शामिल हो सकेंगी

महिला समव्यन समिति की डॉक्टर निशा ने बताया कि तरुणियों में सामाजिक,आध्यात्मिक,आर्थिक, संस्कृतिक चेतना का विकास किया जाए। क्योंकि तरुणिया ही देश का भविष्य है, भारत की कुल आबादी में से 65% आबादी युवाओं की है। तो यह युवा शक्ति हमारे देश को के परम वैभव तक पहुंचने में सफल रहे, इसी उद्देश्य से हम एक प्रयास करने जा रहे हैं। जिसमें हम सभी तरुणियों के आगमन की अपेक्षा करते हैं इस सम्मेलन में 15 वर्ष से 30 वर्ष तक की तरुणिया शामिल हो सकती हैं। जिसके लिए हमने डिग्री इंटर के सभी कॉलेजों में संपर्क किया है, हमें आशा है कि तरुणिया भारी संख्या में सम्मेलन में सम्मिलित होगीं।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)