"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

प्रमुख सचिव ने डीएम-एसएसपी के साथ जेल का किया निरीक्षण, खान-पान व्यवस्था को भी देखा


बन्दियों को समय-समय पर दी जाए कानूनी अधिकारों की जानकारी

उत्कृष्ट कार्य पर बन्दियों को किया पुरस्कृत वहीं सर्दी के दृष्टिगत बुजुर्गों को दिया गीजर


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ| प्रमुख सचिव, कारागार विभाग उप्र शासन जनपद नोडल अधिकारी श्री राजेश कुमार सिंह ने जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के साथ शनिवार को जिला कारागार का निरीक्षण किया। जेल निरीक्षण के दौरान सामान्य व्यवस्थाएं सही पायीं गयीं। नोडल अधिकारी ने बन्दियों के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा व्यवस्था, बैरकों का रखरखाव, संचालित मैस के साथ ही सफाई व्यवस्था की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बन्दियों का हालचाल प्राप्त कर आवश्यकतानुसार उन्हें विधिक सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कैदियों को उनके कानूनी अधिकारों की जानकारी समय-समय पर अनिवार्य रूप से दी जाये। उन्होंने बैरक नम्बर 06 का मुआयना कर बन्दियों से उनके रहन-सहन, खान-पान एवं प्रदत्त सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। महिला कैदियों से संवाद करते हुए उनके रहने, खाने के साथ चिकित्सकीय सहायता के साथ ही बच्चों को दूध मिलने के बारे में जानकारी प्राप्त की जिस पर महिला बन्दियों ने बच्चों को दूध मिलने की पुष्टि की।


          प्रमुख सचिव ने महिला एवं पुलिस जेल में बेहतर साफ-सफाई पर प्रसन्नता व्यक्त की। अच्छा कार्य करने के लिये दुर्गेश को प्रथम एवं कंचन को द्वितीय पुरस्कार स्वरूप शील्ड प्रदान की। सर्दी के मौसम को दृष्टिगत बुजुर्ग बन्दियोें की सुविधा के लिये गीजर भेंट किया। महिला बन्दियों के साथ रह रहे नन्हे-मुन्ने बच्चों ने राष्ट्रगान एवं गायत्री मंत्र कंठस्थ सुनाया, जिस पर प्रसन्न होकर प्रमुख सचिव ने बच्चों को फल एवं मिष्ठान देकर पुरस्कृत भी किया। जेल अधीक्षक बृजेश कुमार ने बताया कि जेल में कैदियों द्वारा सीमेन्ट की पार्किंग बैंच बहुत ही कम लागत में अच्छे तरीके से बनाई जा रही हैं। अभी हाल ही में 85 बैंच नगर निगम बरेली को भेजी गयी हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.