"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

मासिक धर्म के दौरान लड़कियों और महिलाओं को साफ-सफाई का खास ध्यान रखना जरूरी: डॉ. चंचल वार्ष्णेय




अलीगढ मीडिया न्यूज़, अलीगढ़, 26 मई 2022। राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत 28 मई को अंतरराष्ट्रीय माहवारी स्वच्छता दिवस मनाए जाने के निर्देशों के अनुपालन में जनपद में सम्बंधित कार्यक्रम हेतु 28 मई को विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाएगी। इस दौरान रैली व कैम्पेन के माध्यम से किशोरियों को जागरूक किया जाएगा। इसके निर्देशन में मोहनलाल गौतम राजकीय महिला चिकित्सालय को इस आशय के साथ प्रेषित की अपने अधीन किशोर स्वास्थ्य काउंसलर को गतिविधियां करने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा निर्देश दिए गए हैं।


सीएमओ डॉ. नीरज त्यागी ने बताया कि जिले में रैलियों व कैम्पेन के माध्यम से किशोरियों को जागरूक कर पीआरआई, ग्राम प्रधान, एमएलए एवं अन्य स्थाई नीतियों के साथ जागरूक हेतु चर्चा की जाएगी। डॉ. त्यागी ने कहा कि राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय माहवारी स्वच्छता दिवस पर जनपद की पीएचसी, उपकेंद्र और हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर विशेष परामर्श सत्रों का आयोजन कर किशोरियों को परामर्श प्रदान करके सेनेटरी नैपकिन का भी वितरण किया जाएगा। 


राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी व अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. बीके राजपूत ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय माहवारी स्वच्छता दिवस पर महिला चिकित्सालय में रैली का आयोजन कर किशोर-किशोरियों को आयरन की टेबलेट के साथ-साथ अधिक से अधिक किशोर किशोरियों को आशा के माध्यम से बुलाकर स्वच्छता संबंधी जानकारी दी जाएगी। 


डीईआईसी मैनेजर मुनाजिर हुसैन ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर किशोर स्वास्थ्य काउंसलर के सहयोग से 28 मई 2022 को महिला चिकित्सालय में किशोर-किशोरियों के साथ रैली निकाली जाएगी। उन्होंने कहा इस दौरान ब्लॉक स्तर पर भी पीआरआई सदस्य, ग्राम प्रधान व आशा एवं स्थाई नेताओं के साथ मिलकर बैठक का आयोजन किया जाएगा।


किशोर स्वास्थ्य काउंसलर विनय यादव ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय माहवारी स्वच्छता दिवस पर किशोरियों को सेनेटरी पैड प्रदान किए जाएंगे इसके साथ ही इस दिवस पर किशोरियों को माहवारी स्वच्छता प्रबंध हेतु सार्वजनिक जागरूकता और साफ सफाई के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। 


महिला चिकित्सालय की गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. चंचल वार्ष्णेय ने कहा कि आज भी महिलाएं पीरियड्स को लेकर खुलकर बात नहीं करना चाहती और न ही इसके बारे में हाइजीन रखने को लेकर जागरूक होती हैं। उन्होंने बताया कि मासिक धर्म के दौरान लड़कियों और महिलाओं को साफ-सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए। ऐसा न होने पर कई बीमारियों का खतरा बना रहता है। कई बार ऐसा भी देखा गया है कि महिलाओं को इंफेक्शन हो जाता है और यह भी देखा गया है इससे बच्चेदानी के कैंसर का खतरा भी हो जाता है। 


--------

मासिक धर्म के प्रति 5 दिन महिलाओं के लिए काफी मुश्किल:

मासिक धर्म के 5 दिन महिलाओं के लिए काफी मुश्किल भरे दिन होते हैं। इन दिनों में तनाव, चिड़चिड़ापन, पेट दर्द, उल्टियां का भी सामना करना पड़ता है। इन सभी के प्रति लड़कियों और महिलाओं को जागरूक करने के लिए यह दिन मनाया जाता है।


-------

पीरियड्स के दौरान स्वच्छता क्यों हैं ज़रूरी? 

महिलाओं व किशोरियों में पीरियड्स की साइकिल आमतौर पर 4 से 5 दिन की होती है। इस दौरान महिलाओं को कई तरह के शारीरिक, हार्मोनल बदलावों से भी गुज़रना पड़ता है। जैसे कि कमर, पैरों और पेट में दर्द, उल्टी होना, सिर दर्द, चक्कर आना आदि जैसी दिक्कतें आती हैं। इस दौरान महिलाओं को अपने हाइजीन का खास ख्याल रखने की ज़रूरत होती है क्योंकि लापरवाही कई सारी बीमारियों को जन्म दे सकती है। यहां तक कि कई बार इंफेक्शन की वजह से महिलाओं को इनफर्टिलिटी संबंधी परेशानी भी हो सकती है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.