प्रोफेसर मोहम्मद शमीम जेएन मेडीकल कालिज के सेंटर फॉर इमरजेंसी मेडिसिन समन्वयक नियुक्त

0


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ| प्रोफेसर मोहम्मद शमीम को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में नव स्थापित सेंटर फॉर इमरजेंसी मेडिसिन का समन्वयक नियुक्त किया गया है। वह नए केंद्र का नेतृत्व करेंगे जिसमें समर्पित चिकित्सक, सर्जन, हड्डी रोग विशेषज्ञ, श्वसन और छाती रोग विशेषज्ञ, एनेस्थेसियोलॉजिस्ट, नर्स, आपातकालीन चिकित्सा तकनीशियन, ईसीजी तकनीशियन, ड्रेसर और अन्य स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं। जो कि ऐसे रोगियों को चिकित्सा उपलब्ध कराएगा जिन्हें तत्काल चिकित्सा देने की आवश्यकता है।


प्रोफेसर शमीम ने कोविड-19 के दौरान ‘कोवेक्सीन वैक्सीन ट्रायल‘ और ‘नेशनल कोविड 19 रजिस्ट्री’ के प्रमुख अन्वेषक के रूप में महत्वपूर्ण सेवाओं सहित विभिन्न क्षमताओं में काम किया है।


वह ‘म्यूकोर्मिकोसिस-ए केस कंट्रोल स्टडी’ और ‘रिकवरी ट्रायल-आईसीएमआर-ऑक्सफोर्ड’ ट्रायल के अन्य जोखिम भरे कार्य के बीच ‘ऑफ नोट’ के प्रधान अन्वेषक भी रहे हैं। प्रो शमीम टीबी और श्वसन रोग विभाग के अध्यक्ष भी रहे चुके हैं। वह 2005 से टीबी और श्वसन रोग विभाग में एक शिक्षक और परामर्शदाता के रूप में काम कर रहे हैं। वह 2016 में प्रोफेसर के पद पर पदोन्नत हुए। प्रो शमीम सीओपीडी, अस्थमा और इंटरवेंशनल पल्मोनोलॉजी के विशेषज्ञ हैं और उनके पीयर रिव्यू जर्नल्स में 97 से अधिक पेपर प्रकाशित हुए हैं।


------------------


हिन्दी विभाग में ‘वैश्विक परिप्रेक्ष्य में हिंदी अनुवाद की उपयोगिता’ विषय पर ज्ञान पाठ्यक्रम


अलीगढ़, 14 जुलाईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के वीमेन्स कॉलेज के हिंदी सेक्शन द्वारा आयोजित ‘वैश्विक परिप्रेक्ष्य में हिंदी अनुवाद की उपयोगिता’ विषय पर ग्लोबल इनिशिएटिव ऑफ एकेडमिक नेटवर्क्स (ज्ञान) का पांच दिवसीय पाठ्यक्रम 25-29 जुलाई आयोजित किया जाएगा। जिसमें शोधकर्ता, दूतावास के अधिकारी, सरकारी कर्मचारी, निजी और सार्वजनिक बैंकों के सदस्य, पत्रकार, मानव संसाधन अधिकारी, स्नातक और स्नातकोत्तर छात्र, शिक्षक और हिंदी अकादमियों के सदस्य हिंदी अनुवाद के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करेंगे।


ज्ञान के स्थानीय समन्वयक प्रो. एम.जे. वारसी ने कहा कि इस पाठ्यक्रम के लिए रिसोर्स पर्सन विदेशी विशेषज्ञ डॉ. प्रेम लता विष्णु (यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन, एन आर्बर, यूएसए) हैं और अन्य विशेषज्ञ प्रो. पीसी टंडन (हिंदी विभाग, दिल्ली विश्वविद्यालय) प्रो. शंभूनाथ तिवारी (हिंदी विभाग, एएमयू), प्रो. राशिद निहाल (अंग्रेजी विभाग, एएमयू) और डॉ. ज्योति चावला (अनुवाद अध्ययन स्कूल, अग्नू, नई दिल्ली) शामिल हैं।



------------------------


प्रोफेसर एमयू रब्बानी एएमयू कोर्ट मेम्बर नियुक्त


अलीगढ़, 14 जुलाईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेएन मेडिकल कॉलेज के कार्डियोलॉजी विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर एम यू रब्बानी को वरिष्ठता के आधार पर विश्वविद्यालय कोर्ट का सदस्य नियुक्त किया गया है। उनका कार्यकाल विभागाध्यक्ष बने रहने तक होगा। प्रोफेसर रब्बानी कार्डियोलोजी विभाग के संस्थापक अध्यक्ष हैं।


-----------------------------


पीएमआरएफ पुरस्कार के लिए समिति का गठन


अलीगढ़, 14 जुलाईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में प्रधानमंत्री रिसर्च फेलो (पीएमआरएफ) को पुरस्कृत करने के लिए एक समिति का गठन किया गया है।


इसमें कृषि विज्ञान, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी, जीवन विज्ञान, चिकित्सा और विज्ञान के संकायों के डीन के साथ अध्यक्ष के रूप में एएमयू सहकुलपति शामिल हैं। प्रोफेसर अफीफुल्ला खान (ओएसडी, विकास); प्रोफेसर आसिम जफर (कंप्यूटर विज्ञान विभाग) और मोइनुद्दीन (जैव रसायन विभाग, चिकित्सा संकाय) सदस्य के रूप में शामिल हैं।


रजिस्ट्रार कार्यालय, डवलपमेंट सेक्शन के अनुसार अनुशंसित उम्मीदवारों की सूची पीएमआरएफ पोर्टल पर पीएमआरएफ-एएमयू समन्वयक द्वारा अनुसूची के अनुसार अपलोड की जाएगी।


---------------------------


एएमयू के बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग में आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन पर पांच दिवसीय मैनेजमेंट डवलपमेंट कार्यक्रम का समापन


अलीगढ़, 14 जुलाईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन विभाग द्वारा आयोजित ‘आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन’ पर पांच दिवसीय ऑनलाइन प्रबंधन विकास कार्यक्रम (एमडीपी) में शैक्षणिक संस्थानों और कॉर्पाेरेट जगत के विशेषज्ञों ने महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई जो आपूर्ति श्रृंखला उत्कृष्टता को बढ़ावा देती है।


समापन सत्र में फैकल्टी ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज एंड रिसर्च की डीन प्रो. सलमा अहमद ने कार्यक्रम की रिपोर्ट प्रस्तुत की और आपूर्ति श्रृंखला के सभी तत्वों के बीच समन्वय की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इस एमडीपी का अनुभव निश्चित रूप से प्रतिभागियों के करियर में मदद करेगा।


मुख्य वक्ता, प्रो सुनील शर्मा ने कहा कि इस कार्यक्रम ने प्रतिभागियों को जटिल और तेजी से बदलते व्यवसाय और कॉर्पाेरेट वातावरण पर सटीक जानकारी उपलब्ध कराई है क्योंकि अब कंपनियां न केवल परिवर्तन का प्रबंधन करती हैं बल्कि प्रतिस्पर्धात्मक लाभ हासिल करने के लिए अपनी आपूर्ति श्रृंखला प्रणालियों का लाभ उठाती हैं।


व्यवसाय प्रशासन विभाग के अध्यक्ष प्रो. जमाल अहमद फारूकी ने कहा कि शोध से पता चलता है कि कोविड महामारी के दौरान आपूर्ति श्रृंखला अधिक लचीली, बेहतर, एकीकृत और सहयोगी नेटवर्क बन गई है।


डॉ. आसिफ अख्तर ने धन्यवाद दिया, जबकि समापन सत्र का संचालन डॉ. जरीन हुसैन फारूक ने किया।


एमडीपी के एक अलग सत्र में, असद रिज़वी (उपाध्यक्ष, आपूर्ति श्रृंखला प्रभाग, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स और ईवी, मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड), तस्मीम सैला (वरिष्ठ प्रबंधक, कंट्री क्वालिटी, यूनिलीवर बांग्लादेश लिमिटेड), डॉ राहुल वी अल्टेकर (निदेशक, आपूर्ति श्रृंखला समाधान, एसएपी इंडिया, मुंबई), दीपक जोशी (मुख्य अधिकारी, आपरेशन्स, हमदर्द, नई दिल्ली), पुनीत शर्मा (महाप्रबंधक, कॉर्पाेरेट सेवाएं, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, मुंबई) ), प्रो. कनाल के. गांगुली (आईआईएम काशीपुर), डॉ रघुवेंद्र राव (आईसीएफएआई फाउंडेशन फॉर हायर एजुकेशन, बैंगलोर), डॉ नफीस फैजी (सामुदायिक चिकित्सा विभाग, जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज) और डॉ सलीम मोहम्मद खान (सामुदायिक चिकित्सा विभाग, जेएनएमसी) ने अपने विचार साझा किए।


एएमयू और उसके केंद्र, जामिया हमदर्द (नई दिल्ली), जामिया मिलिया इस्लामिया (नई दिल्ली), इंटीग्रल यूनिवर्सिटी (लखनऊ), आईएमटी (गाजियाबाद), जीडी गोयनका विश्वविद्यालय (गुरूग्राम), प्रेसीडेंसी बिजनेस स्कूल और वेलिंगटन इंस्टीट्यूट (बैंगलोर), हरकोर्ट बटलर तकनीकी विश्वविद्यालय (कानपुर), आईआईटी (धनबाद), स्कूल ऑफ मैनेजमेंट साइंसेज (वाराणसी), एडिलेड विश्वविद्यालय (ऑस्ट्रेलिया), किंग अब्दुलअज़ीज़ विश्वविद्यालय (जेद्दा, केएसए), दारुल उलूम (रियाद, केएसए) और सऊदी इलेक्ट्रॉनिक विश्वविद्यालय (रियाद, सऊदी अरब) से 90 से अधिक शोध विद्वान, फैकल्टी मेम्बर्स और विभिन्न संस्थनों के पदाधिकारियों ने एमडीपी में भाग लिया।


-------------------


हेक्साव्यू द्वारा एएमयू छात्रों का चयन


अलीगढ़, 14 जुलाईः नोएडा स्थित हेक्साव्यू टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेडएच कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के प्रशिक्षण और प्लेसमेंट कार्यालय द्वारा हाल ही में आयोजित ऑनलाइन भर्ती अभियान में चार एएमयू छात्रों को आकर्षक वेतन पर अपने यहां नियुक्ति प्रदान की है।


जेडएचसीईटी के प्रशिक्षण और प्लेसमेंट अधिकारी मोहम्मद फरहान सईद ने कहा कि चयनित छात्रों में फैज आलम (बी.टेक कंप्यूटर), अयान खान (बी.टेक कंप्यूटर), अरशिद बशीर (बी.टेक कंप्यूटर) और अफजल गनी (एमसीए) शामिल हैं।


 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)
...अपने इलाके की खबरों/वीडियो/फोटो अलीगढ मीडिया पर प्रकाशन हेतु व्हाट्सअप या ई-मेल करें:aligarhnews@gmail.com

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top