जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

अलीगढ़। बूस्टर डोज के लिए रविवार को चलेगा माह अभियान

0


- सभी टीकाकरण केंद्रों पर नि:शुल्क लगवाएं बूस्टर डोज 

- अब तक कुल 87 हजार से अधिक लोगों को लगाई जा चुकी है बूस्टर डोज 

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़। आजादी के अमृत महोत्सव माह अभियान के अंतर्गत 7 अगस्त को माह अभियान में शुरू होने वाले कोविड रोधी के एहतियाती डोज के लिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के सभी चिकित्सा स्वास्थ्य इकाइयों पर 18 से 59 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को निःशुल्क बूस्टर डोज लगाने का अभियान चलाया जाएगा। जिले में अब तक कुल 87 हजार से अधिक लोगों को बूस्टर डोज लगाई जा चुकी है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नीरज त्यागी ने बताया कि 18 से 59 वर्ष के बूस्टर डोज के लिए 15 जुलाई से लोगों को नि:शुल्क टीका लगाया जा रहा है, लेकिन 7 अगस्त को इस माह अभियान के तहत सभी पात्र लोगों को बूस्टर डोज लगाई जानी है। उन्होंने कहा - कि यह टीका उतना ही सुरक्षित है, जितना कि कोरोना संक्रमण से लड़ने में मददगार साबित है। उन्होंने सभी जनपद वासियों से अपील की है, कि इस महाअभियान में ज्यादा से ज्यादा टीका लगाकर खुद व अपने परिवार को सुरक्षित कर लें। कोरोना से बचाव के लिए सभी पात्र लोग एहतियाती डोज अवश्य लगवाएं।


जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. एमके माथुर ने कहा कि बताया कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के करीब 87 हजार से अधिक लोगों को कोरोना टीका की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं। लक्ष्य के मुताबिक 19.81 लाख लोगों को प्रकाशन डोज लगाई जानी है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से लगातार समुदाय में आशा कार्यकर्ता की मदद से लोगों को वैक्सीन की एहतियाती डोज लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह डोज सभी टीकाकरण केन्द्रों पर उपलब्ध है। ऐसे लाभार्थी जिन्हें टीका की दूसरी डोज लगाए हुए छह महीने का समय पूर्ण हो गया हो, तो वह भी नि:शुल्क बूस्टर डोज लगवा सकते हैं।


उप जिला प्रतिरक्षण अधिकारी शरद गुप्ता ने बताया कि सात अगस्त से शुरू होने वाले इस माह अभियान के दौरान शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के सभी सीएचसी एवं पीएचसी व (एफएलडब्लू) यानि हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के अतिरिक्त जिला चिकित्सालय, महिला चिकित्सालय व डीडीयू अस्पताल में टीकाकरण होगा।  


यूनिसेफ के डीएमसी शादाब अहमद ने कहा कि यूनिसेफ की टीम वैक्सीनेशन के लिए जागरूकता फैलाने का कार्य कर रही है। इसके लिए समुदाय स्तर पर मीटिंग करके स्वास्थ्य विभाग व यूनिसेफ के सहयोग से लोगों को वैक्सीन की महत्वता के बारे में समझाया जा रहा है।


एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)