जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

स्थान परिवर्तन एवं मृत्यु होने की दशा के प्रकरणों को सूचीबद्ध करते हुए रिकवरी बढ़ाई जाये :नरेन्द्र कश्यप

0



अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़ 22 अगस्त (सू0वि0)| मा0 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन विभाग उत्तर प्रदेश शासन नरेन्द्र कश्यप जी द्वारा सर्किट हाउस सभागार में पिछडा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग की मण्डलीय समीक्षा की गयी। बैठक में मा0 विधायक छर्रा ठा0 रवेन्द्रपाल सिंह, एमएलसी चौ0 ऋषिपाल सिंह, मा0 सदस्य अल्पसंख्यक आयोग अनीता जैन समेत विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। मा0 मंत्री जी ने कहा कि उन्हें हर्ष एवं अपार प्रसन्नता है कि उन्हें दिव्यांगजनों एवं पिछड़े वर्ग के लोगों के उत्थान के लिए कार्य करने का अवसर मिला है। मा0 प्रधानमंत्री जी एवं मा0 मुख्यमंत्री जी का सपना प्रत्येक पिछड़े एवं दिव्यांग के जीवन में उजाला लाना है। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा पिछड़े एवं दिव्यांगजनों को मुख्य धारा में लाने के लिए विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है, ऐसे में मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारियों का दायित्व है कि वह सरकार के कंधे से कंधा मिलाकर पात्र एवं जरूरतमंदों को लाभान्वित कर मा0 मोदी एवं योगी जी के सपने को सार्थक करें।


          जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी मनीष कुमार ने बताया कि पूर्वदशम एवं दशमोत्तर छात्रवृत्ति में मण्डल भर से 16382 छात्र-छात्राओं द्वारा आवेदन किया गया है जिनको विद्यालयों एवं शिक्षण संस्थानों द्वारा सत्यापित किया जा रहा है। ओ लेवल और सीसीसी में मण्डल में कुल 651 छात्र-छात्राओं को लाभान्वित किया जा रहा है जिसमें अलीगढ़ में 04 संस्थानों में 194, एटा के 02 संस्थानों में 240, कासगंज के 04 संस्थानों में 153 एवं हाथरस के 02 संस्थानों में 64 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। मा0 मंत्री जी ने निर्देश दिये कि आकस्मिक निरीक्षण कर लाभार्थियों की संख्या एवं उपस्थिति का मिलान करते हुए छात्र-छात्राओं की शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाए। वित्त एवं विकास निगम द्वारा वसूली योजना में कम रिकवरी किये जाने पर मा0 मंत्री जी ने नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि वसूली के मामलों में टालमटोली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। स्थान परिवर्तन एवं मृत्यु होने की दशा के प्रकरणों को सूचीबद्ध करते हुए रिकवरी बढ़ाई जाए। मा0 मंत्री जी ने जनपद अलीगढ़ के राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज चैण्डौला सुजानपुर एवं राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज खैर और एटा के जीजीआईसी जलेसर व शान्ती नगर एटा में बने छात्रावास में विद्यार्थियों की संख्या शून्य पाये जाने पर विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं का ब्यौरा तलब किया। उन्होंने कहा कि अन्यथा की स्थिति में छात्रावास के भवन का कौशल विकास मिशन या अन्य किसी योजना में सदुपयोग पर विचार विमर्श किया जाए। श्री वर्मा ने बताया कि मण्डल में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन एवं आईजीआरएस के प्राप्त सभी 6573 प्रकरणों को निस्तारित करा दिया गया है।


          उपनिदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण पारिशा मिश्रा ने बताया कि मण्डल में कुल 45959 पात्र लाभार्थियों को दिव्यांग पेंशन का लाभ दिया जा रहा है। मण्डल में 1314 प्राप्त नये आवेदनों में से 1292 का निरीक्षण करने के उपरान्त स्वीकृत कर दिया गया है। लाभार्थियों के आधार सीडिंग का कार्य प्रगति पर है। जनपद अलीगढ़ में कॉक्लियर इम्प्लांट सर्जरी के लिये 10 लाभार्थियों का चयन कर लिये गया है चिकित्सालय द्वारा तिथि निर्धारण के उपरान्त सर्जरी कराई जाएगी। मा0 मंत्री जी ने यूडीआईडी कार्ड की खराब प्रगति पर रोष प्रकट करते हुए निर्धारित लक्ष्य के अनुसार शत-प्रतिशत दिव्यांगों के यूडीआईडी कार्ड जारी करने के निर्देश दिये। मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल के जनपदवार निर्धारित लक्ष्य की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देश दिये कि टेण्डर प्रक्रिया पूर्ण कराते हुए लक्ष्य के अनुरूप दिव्यांगजनों को योजना से लाभान्वित कराया जाए।


------------                                                                        


बकाया वाहन स्वामी योजना का लाभ उठायें


अलीगढ़ 22 अगस्त (सू0वि0) संभागीय परिवहन अधिकारी हरिशंकर सिंह ने बताया है कि शासन द्वारा चलायी जा रही एकमुश्त समाधान योजना की समाप्ति में केवल 4 दिन ही शेष बचे हैं। इस योजना के अन्तर्गत 01 अप्रैल 2020 से पूर्व पंजीकृत वाहनों के स्वामी, जिन पर टैक्स बकाया है, को केवल बकाया टैक्स की धनराशि जमा करने की सुविधा दी गयी और बकाया कर पर लगने वाली शास्ति (पेनाल्टी) में शत-प्रतिशत छूट प्रदान की गयी है। इस योजना की अन्तिम तिथि दिनांक-26 अगस्त 2022 है। इस तिथि के बाद बकाया वाहन स्वामियों को बकाया कर  के साथ-साथ पूर्ण शास्ति (पेनाल्टी) भी जमा करनी होगी।  अलीगढ़ जनपद में 13155 व्यवसायिक वाहन बकाये में हैं, परन्तु इनमें से अभी तक केवल 455 बकाया वाहनों के स्वामियों के द्वारा ही आवेदन किया गया है तथा 369 बकाया वाहन स्वामियों द्वारा रू0 89.74 लाख शास्ति (पेनाल्टी) में शत-प्रतिशत छूट प्राप्त करके रू0 150.03 लाख रूपये बकाया कर जमा कराया जा चुका है।


          उन्होंने जनपद के समस्त बकाया वाहन स्वामी, जिनके वाहन का पंजीयन 01 अप्रैल 2020 से पूर्व का है, को सूचित किया है कि 26 अगस्त 2022 से पूर्व संभागीय परिवहन कार्यालय, अलीगढ़ में पेनाल्टी में शत-प्रतिशत छूट प्राप्त करने हेतु आवेदन करके रजिस्ट्रेशन करा लें। आवेदन करने के बाद बकाया धनराशि को एक माह के अन्दर एक बार में अथवा किश्तों में भी जमा कराये जाने की सुविधा दी गयी है। अतः समस्त बकाया वाहन स्वामियों को उक्त योजना का अधिक से अधिक लाभ उठायें।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)