"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

जेएनएमसी में ‘शियर लीवर वेव इलास्टोग्राफी’ शिविर संपन्न, सौ से अधिक रोगियों की जांच


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़ अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के रेडियो-डायग्नोसिस विभाग के डॉक्टरों ने जेएनएमसी में मुफ्त ‘शियर लीवर वेव इलास्टोग्राफी’ शिविर में सौ से अधिक रोगियों के लीवर की निशुल्क जाँच की गई। प्रो शगुफ्ता वहाब (अध्यक्ष, रेडियो-डायग्नोसिस  विभाग) ने कहा कि जेएनएमसी में 100 से अधिक रोगियों को कई बीमारियों के कारण जिगर की कठोरता का पता चलने के बाद आगे के उपचार के लिए सलाह दी गई। उन्होंने बताया कि एक नवम्बर से 5 नवम्बर तक रोजना रोगियों की जांच की गई।शिविर में डॉ रौनक, डॉ इसरा, डॉ अशरफ, डॉ सलीम, डॉ रुखसार और डॉ इरम ने शीयर लीवर वेव इलास्टोग्राफी परीक्षण किया।


प्रोफेसर मोहम्मद सज्जाद अतहर भौतिकी विभाग के नए अध्यक्ष नियुक्त

अलीगढ़, 5 नवंबरः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के भौतिकी विभाग के प्रोफेसर मोहम्मद सज्जाद अतहर को तीन वर्ष की अवधि के लिए विभाग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उन्होंने आज विभागाध्यक्ष पद का कार्यभार ग्रहण कर लिया।


प्रो सज्जाद अतहर उच्च ऊर्जा कण भौतिकी में विशेषज्ञता वाली संयुक्त राज्य अमेरिका के ऊर्जा विभाग की राष्ट्रीय प्रयोगशाला, विश्व प्रसिद्ध फर्मी नेशनल एक्सेलेरेटर लेबोरेटरी (फर्मिलैब) और टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (टीआईएफआर), मुंबई से जुड़े हुए हैं। वह संयुक्त राज्य अमेरिका में ‘न्यूट्रिनो भौतिकी’ पर श्वेत पत्र लाने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सहयोग स्नोमास न्यूट्रिनो सहयोग, ड्यून सहयोग, यूएसए; इंटरनेशनल यूनियन ऑफ प्योर एंड एप्लाइड फिजिक्स के न्यूट्रिनो पैनल और न्यूट्रिनो थ्योरी-एक्सपेरिमेंट बोर्ड के एक अंतरराष्ट्रीय सहयोग संगठन के सदस्य भी हैं।


प्रो सज्जाद अतहर ने पीयर रिव्यूड पत्रिकाओं में कई पत्र प्रकाशित किए हैं, जिनमें नोबल पुरस्कार विजेता प्रोफेसर तकाकी कजिता के साथ लिखे गए कई शोधपत्र शामिल हैं। इस के अतिरिक्त वह प्रशंसित शैक्षिक एवं सापेक्षिक कणों का वर्णन करने के लिए सैद्धांतिक ढांचे के साथ न्यूट्रिनो भौतिकी का परिचय देने वाली एक महत्वपूर्ण पुस्तक, ‘द फिजिक्स ऑफ न्यूट्रिनो इंटरेक्शन्स (कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस, जुलाई 2020)’ के सह-लेखक हैं।


उनके पास विश्वविद्यालय में 27 वर्षों से अधिक शिक्षण और अनुसंधान का व्यापक अनुभव है और उन्होंने समन्वयक, नवाचार परिषद और ऊष्मायन केंद्र, समन्वयक, राष्ट्रीय छात्र अनुसंधान सम्मेलन, अन्वेषन के लिए एएमयू शोध छात्रों का चयन और उप-समन्वयक, उत्कृष्टता के लिए संभावित विश्वविद्यालयों के लिए समिति जैसे कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है।


प्रोफेसर सज्जाद अतहर विश्वविद्यालय की अकादमिक कार्यक्रम समिति और हरित ऊर्जा परियोजना के सदस्य भी हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.