जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

पीएम किसान सम्मान निधि के लिए 13 से 23 जून तक तहसीलों में लगेंगे शिविर| AligarhMedia

0

 


किसानों को योजना में डाटा संषोधन का अंतिम मौका

ई-केवाईसी नहीं तो योजना का लाभ नहीं- इन्द्र विक्रम सिंह, डीएम

 

अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ| जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने सभी किसान भाइयों को सूचित किया है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत कृषकों के समस्याओं के समाधान के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर वृहद शिविरों के बाद अब तहसील स्तर पर भी शिविर का आयोजन किया जायेगा, जिसमें ई-केवाईसी कराने का अन्तिम अवसर दिया जा रहा है। उन्होंने स्पष्अ किया कि ई-केवाईसी नहीं तो योजना का लाभ नहीं को ध्यान में रखते हुए सभी पात्र किसान 13 से 23 जून तहसील मुख्यालय पर आयोजित शिविर में ई-केवाईसी के साथ-साथ योजना से जुड़ी अन्य समस्याओं के समाधान प्रत्येक कार्यालय दिवस में करा सकते हैं। शिविर में जिसमें राजस्व कर्मी, जन सेवा केन्द्र प्रतिनिधि, इण्डिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक प्रतिनिधि, प्राविधिक सहायक सी एवं सहायक विकास अधिकारी (कृषि) समस्याओं के समाधान के लिए उपस्थित रहेंगे।


उप निदेशक कृषि यशराज सिंह ने 14वीं किस्त के लिए अनिवार्यता की जानकारी देते हुए बताया कि पीएम किसान पोर्टल पर भूमि का विवरण दर्ज होना,  किसानों का पीएम किसान पोर्टल पर ई-केवाईसी होना। बैंक खाते का आधार सीडिंग एवं एनपीसीआई (नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इण्डिया) से लिंक होना। उन्होंने किसान भाइयों से आव्हान किया कि  भूलेख अंकन कराने, ई-केवाईसी कराने अथवा बैंक खाते की आधार सीडिंग युक्त बैंक खाता पोस्ट ऑफिस के माध्यम से खुलवाने के लिये अपने आधार एवं खतौनी की नकल सहित अपने तहसील मुख्यालय पर आयोजित शिविर में उपस्थित होकर समस्या का समाधान अवश्य करायें।


जिला कृषि अधिकारी अभिनन्दन सिंह ने बताया कि कृषक भारत सरकार के पीएम किसान मोबाइल एप को डाउनलोड़ कर स्वयं भी फेसीयल ई-केवाईसी कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त अपने जनपद के उप कृषि निदेशक कार्यालय में जाकर भी फेसियल ई-केवाईसी करा सकते हैं। उन्होंने बताया कि यदि आपने जन सेवा केन्द्र के माध्यम से नया पंजीकरण कराया गया है एवं पंजीकरण किसी भी स्तर से निरस्त है, तो पुनः अपने अभिलेख अपडेट करायें। यदि आपको योजना का लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है तो अपने मोबाइल से पीएम किसान पोर्टल पर अथवा मोबाइल एप से स्टेटस भी चेक करा सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)