जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

साहित्यिक संस्था "नविश्ता ए 'दुबई द्वारा पटना में एक भब्य मुशायरा का आयोजन 2 जुलाई को

0


अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो दिल्ली| पटना के मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता साहित्यप्रेमी इण्डियन किडनी कोच श्री मुशीर आलम ने ये खबर साझा किया है कि साहित्यिक संस्था "नविश्ता ए 'दुबई द्वारा  पटना में एक  भब्य मुशायरा का आयोजन 2 जुलाई को किया जा रहा है समस्त कला एवं साहित्यप्रेमी से अनुरोध भी किया है के सम्मिलित होकर इस यादगार शाम का लुत्फ़ उठाएँ।


 दुबई (ई-मेल) पिछले साल बिहार की राजधानी पटना में सफल मुशायरा आयोजित करने के बाद अंतरराष्ट्रीय साहित्यिक संस्था "नविश्ता ए 'दुबई ने एक बार फिर पटना में मुशायरा कराने की घोषणा की है.  विस्तृत चर्चा में दुबई के  रूह ए रवां व महासचिव अहया उल इसलाम भोजपुरी ने कहा कि इस साल महफिल ए मुशायरा 2 जुलाई 2023 को पटना  स्थित रवींद्र भवन में होने वाला है.इस वर्ष मुशायरा का आयोजन मुंबई के "अंशाद" साहित्यिक संस्था के सहयोग से किया जा रहा है।  अहयाउल इसलाम भोजपुरी ने यह भी कहा कि नविश्ता ए ' और अंशाद के सहयोग से इसी वर्ष जनवरी में मुंबई में एक मुशायरा व कवि सम्मेलन आयोजित किया गया था, जो एक बड़ी सफलता थी। सफलता का सेहरा मुंबई स्थित नविश्ता ए ' के संस्थापक सदस्य माधवनूर सर बांधा । अहयाउल इसलाम भोजपुरी ने कहा कि पिछले साल आयोजित मुशायरे में कई प्रसिद्ध शायरों ने शिरकत की थी.  जिसमें शकील आजमी, शबीना अदीब, आलम खुर्शीद, अजहर इकबाल, अजम शाकरी के नाम शामिल है। 


 इन सभी शायरों को श्रोताओं ने बड़े जौक शौक से सुना।2 जुलाई 2023 को पटना स्थित रवींद्र भवन मे होने वाले मुशायरे में कई नामचीन शायरों को आमंत्रित किया जा रहा है, जिनमें शबीना अदीब, पॉपुलर मेरठी, जुबैर अली ताबिश, नदीम शाद, माधव नूर के नाम शामिल हैं। साथ ही कई नए और स्थानीय कवियों को भी मौका दिया जाएगा।  गौरतलब हो कि "नविश्ता ए दुबई की एक साहित्यिक संस्था है जो साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करके लोगों में प्रेम और भाईचारे के माहौल को बढ़ावा ही नहीं देती है बल्कि पूरी दुनिया में प्रेम और भाईचारे का संदेश फैलाती है।  उन्होंने मुशायरा में रुचि रखने वालों से दो जुलाई को होने वाले मुशायरे में शामिल होकर इसे सफल बनाने की अपील की है.

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)