जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

अब एटा में भी ज्योति मौर्य जैसा मामला आया सामने, पत्नी को पढ़ा-लिखाया लेकिन पति को छोड़ अब डॉक्टर के साथ रहने की जिद

0


*एटा से भी सामने आया ज्योति मौर्य और अंकुर मौर्य जैसा मामला*

*पति ने पत्नी पढ़ा लिखा कर का काबिल बनाने के बाद मुकदमा लिखवाने का लगाया आरोप*

*युवक ने लड़की के साथ शादी में मिलने के बाद की थी लव मैरिज*

*शादी से पहले विदेश में रहकर करता था वेटर का काम*

*पति बोला मैंने अपने पैसे से कराई बीएससी नर्सिंग,एमएससी, और कई सीजीएल की तैयारी*

*पति बोला घर देर से लौटी तो पूछने पर मचाया बवाल*

*एमबीबीएस किए हुए लड़के के साथ जाने का भी पति ने अपनी पत्नी पर लगाया आरोप*

*आरोपी पत्नी ने पति सहित अन्य पर गंभीर धाराओं में लिखाया है मुकदमा*

*दर्ज मुकदमे में पति ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लगाई न्याय की गुहार*

*थाना मिरहची का मामला

*


अलीगढ़ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ/एटा: पति ने आरोप लगाया है कि उसने पीछा छुड़ाने के लिए दहेज उत्पीड़न का झूठा मुकदमा लिखा दिया है। पत्नी की शिकायत से वो बुरी तरह से परेशान है। 

आपको बताते चले कि ज्योति मौर्य प्रदेश और देश भर में चर्चाओं का विषय बनी हुई हैं। दोनों के विवाद की बातें सुनी जाती रहती हैं, लेकिन इससे मिलता जुलता मामला एटा में भी सामने आया है। यहां पर पति ने विदेश में वेटर का काम करके पत्नी को पढ़ाया-लिखाया और नर्सिंग का कोर्स कराया। इसके बाद आगे भी पढ़ाई जारी रखने की बात कही तो आगरा में एक संस्थान से कोचिंग कराई, लेकिन यहां पत्नी को एमबीबीएस युवक मिल गया तो पति से बेवफाई पर उतर आई।

 

थाना मिरहची क्षेत्र के गांव अखतौली निवासी प्रदीप कुमार का कहना है कि वर्ष 2019 में भाई की शादी में आई लड़की से मुलाकात हुई थी। दो साल तक हम दोनों लिव इन रिलेशन में रहे। वर्ष 2022 में दोनों पक्षों के परिजनों को समझा बुझाया गया। तब अर्चना निवासी कपरेटा थाना पिलुआ से शादी की थी। शादी से पहले ही अर्चना ने आगे की पढ़ाई करने की बात कही थी, तब से ही पूरा ध्यान उसकी पढ़ाई पर लगाया और रुपये भी खर्च किए गए।

उसने बताया कि बीएससी नर्सिंग का कोर्स कराने के बाद शादी के कुछ समय बाद ही आगरा में कोचिंग करने के लिए कहा गया तो एक कमरा दिलाकर पढ़ाई कराई। आरोप है कि करीब छह माह बाद व्यवहार में बदलाव आया तो एक दिन अचानक छिपकर देखा गया तो पत्नी दो युवकों के साथ कार में रात करीब 11 बजे लौटी, तब पूछा गया तो तमाम बुरा भला कहा और बर्वाद करने की धमकी दी। उसने कहा कि जिसके साथ आई हूं वह एमबीबीएस है। उसके साथ ही रहूंगी तेरी मेरी कोई बराबरी नहीं है।

 

दहेज उत्पीड़न का लिखाया मुकदमा

पीड़ित  पति का आरोप है कि मुझसे पीछा छुड़ाने के लिए दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया गया है। बाद में पांच लाख रुपये में फैसला किया। कुछ दिन साथ रही, लेकिन बाद में एमबीबीएस के साथ ही रहने की जिद्द करके चली गई। और मेरे साथ भी नहीं रहना चाहती है और तलाक भी नहीं देती। पुलिस से मिलकर 30 लाख रुपये की मांग की जा रही है। इधर लिखाए गए मुकदमा में पुलिस पांच लाख रुपये की मांग कर रही है

 

सीएम योगी से लगाई है पीड़ित ने न्याय की गुहार

जिस पति ने पढ़ा लिखाकर काबिल बनाया, उसका साथ छोड़ने वाली पत्नी को पाने के लिए सीएम से न्याय की गुहार लगाई है। सोशल मीडिया पर बयान भी जारी किए गए हैं और शिकायत भी मुख्यमंत्री को भेजी है। वहीं मामले में थाना  मिरहची के प्रभारी सुभाष बाबू ने बताया कि महिला की ओर से पति के खिलाफ पहले से मुकदमा दहेज उत्पीड़न का चल रहा है। पति पर गंभीर आरोप भी लगाए गए हैं। पति की कोई शिकायत अब तक नहीं आई है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)