जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

एएमयू डीएसडब्ल्यू ने ‘तहरीक-ए-आजादी और उर्दू नस्र‘ पुस्तक का विमोचन किया

0


अलीगढ़ 26 अगस्तः प्रोफेसर अब्दुल अलीमडीन छात्र कल्याणअलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने आजादी का अमृत महोत्सव अभियान की पृष्ठभूमि में डिप्टी डीएसडब्ल्यूप्रोफेसर जियाउर रहमान सिद्दीकी (उर्दू विभाग) द्वारा लिखित पुस्तक तहरीक-ए-आजादी और उर्दू नस्र‘ (स्वतंत्रता आंदोलन और उर्दू गद्य) का विमोचन किया।

प्रोफेसर अलीम ने कहा कि यह पुस्तक 1857 के बाद से भारत की आजादी के संघर्ष के दौरान स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए विभिन्न आंदोलनों में उर्दू लेखकों के योगदान पर प्रकाश डालती है। उन्होंने कहा कि पुस्तक में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से शिक्षा प्राप्त विद्वानों और कवियों का विशेष विवरण प्रस्तुत किया गया है जिनमें मौलाना हसरत मोहानी का नाम विशेष रूप से महत्व है जिन्होंने इंकलाब जिंदाबाद‘ का नारा दिया था।

प्रोफेसर जियाउर रहमान सिद्दीकी 30 वर्षों से अधिक समय से उर्दू में शिक्षण और अनुसंधान में लगे हुए हैं और उन्होंने विभिन्न विषयों पर उर्दू में दो दर्जन से अधिक किताबें लिखी हैं।

पुस्तक-विमोचन समारोह के दौरान प्रोफेसर विभा शर्माडिप्टी डीएसडब्ल्यू के अलावा सहायक डीएस डब्यू डा अरशद इकबालडा कलीम जै़दी और डा जावेद आलम भी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)