जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

बालक-बालिकाओं के अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है NCPCR

0


*रजिस्ट्रार एनसीपीसीआर भारत सरकार सुश्री गोमती मनोचा ने बाल अधिकार संरक्षण शिविर का किया शुभारंभ*

*आकांक्षी ब्लॉक गंगीरी के रघुनन्दन इंटर कॉलेज, छर्रा में विभागीय योजनाओं का पात्रों को दिया गया लाभ*


*एनसीपीसीआर की बैंच बालक-बालिकाओं के अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध- सुश्री गोमती मनोचा, रजिस्ट्रार एनसीपीसीआर, भारत सरकार*


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़ 21 दिसम्बर 2023 (सू0वि0) रजिस्ट्रार राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग सुश्री गोमती मनोचा द्वारा आकांक्षी ब्लॉक गंगीरी के रघुनंदन इंटर कॉलेज छर्रा में बाल अधिकारों के संरक्षण विषयक आयोजित शिविर का दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग की बैंच संपूर्ण भारत में बालक-बालिकाओं के अधिकारों सुनिश्चित कराने के लिए कार्यक्रम आयोजित कराकर मौके पर ही स्थानीय विभागीय अधिकारियों के माध्यम से उनको लाभान्वित कराती है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को अलीगढ़ के गंगीरी आयोजित कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के माध्यम से लगभग 490 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनमें से 247 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया है और शेष प्रकरणों में फीडबैक उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

सुश्री मनोचा ने कहा कि भारत सरकार बालक-बालिकाओं के अधिकारों एवं उनको प्रदत्त की जाने वाले वाली सुविधाओं को सुनिश्चित कराने के प्रति संवेदनशील है। एनसीपीसीआर की बैंच इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित कर बालक-बालिकाओं की शिक्षा, स्वास्थ्य, घरेलू श्रम, स्वास्थ्य सुविधाएं, आधार कार्ड, बैंक खाता, उत्पीड़न, हिंसा, विद्यालयों से सम्बन्धित समस्याएं, दिव्यांगता, बाल श्रम, भिक्षावृत्ति जैसी शिकायतों का निस्तारण कराते हुए बच्चों को केन्द्र व प्रदेश सरकार की सभी लाभार्थीपरक योजनाओं से संतृप्त कराने के लिए प्रतिबद्ध है। कार्यक्रम में सुश्री मनोचा द्वारा विभिन्न स्टॉलों का निरीक्षण कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की गयी। एसपी ग्रामीण पलाश बंसल द्वारा बताया गया कि जिले में पॉक्सो एक्ट में 200 मामले पंजीकृत हुए हैं जिनमें से 196 में चार्जशीट दाखिल हो चुकी है, जबकि चाइल्ड मैरिज के 42 प्रकरण सामने आए हैं। 

मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना ने कहा कि रजिस्ट्रार एनसीपीसीआर भारत सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के तहत आकांक्षी ब्लॉक गंगीरी में बालक-बालिकाओं को विभिन्न प्रकार की शासकीय योजनाओं से आच्छादित करने के लिए अन्तर्विभागीय समन्वय से वृृहद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विभिन्न पटलों पर आए हुए आवेदनों एवं शिकायतों को मौके पर ही निस्तारित करने का प्रयास किया गया है जबकि शेष प्रकरणों को निस्तारण के लिए अधिकारियों को एक सप्ताह का समय दिया गया है। 


*विभिन्न विभागों के लाभान्वित:*

रघुनन्दन इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 17 दिव्यांग बच्चों के प्रमाण पत्र, 50 बालिकाओं को सेनेटरी नैपकिन, 10 टीबी मरीजों को पोषण पोटली, 50 बच्चों को चश्मा, 122 बच्चों की शुगर जांच एवं 15 बच्चों के आयुष्मान कार्ड बनाए गये। शिविर में 100 बच्चों द्वारा बैंक में खाता खालने के लिए भी आवेदन फार्म भरा। दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा 05-05 बच्चों को हियरिंग एड एवं ब्रेल किट एवं 01 बच्चे को व्हील चेयर वितरित की गयी। बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा 17 कुपोषित बच्चों को पोषण किट उपलब्ध कराई गयी। महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित स्पॉसरशिप योजना में 150 एवं बाल सेवा योजना में 50 आवेदन प्राप्त हुए। इसके साथ बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं एवं उनके अभिभावकों द्वारा श्रम विभाग, समाज कल्याण, बाल विकास जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी प्राप्त की।

इस अवसर पर प्रतिनिधि मण्डल में स्वास्थ्य सलाहकार सुशील कुमार एवं एलआरसी सपना यादव के साथ ही एडीएम वित्त मीनू राणा, पीडी भाल चन्द्र त्रिपाठी, सीएमओ डा0 नीरज त्यागी, जिला प्रोबेशन अधिकारी स्मिता सिंह, डीपीओ श्रेयश कुमार, समेत प्रोबेशन कार्यालय से दीपक झा, गौरव चंदेल, अनुराग सिंह, नीतू सारस्वत समेत अन्य विभागीय अधिकारी एवं बड़ी संख्या में लाभार्थी बच्चे व उनके अभिभावक उपस्थित रहे। 

--

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)