जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

डीएम की अध्यक्षता में विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए बैठक संपन्न

0


*योजना से कौशल का सम्मान होने के साथ ही कारीगर एवं शिल्पकार कौशल व वित्तीय रूप से होंगे मजबूत*

*स्वरोजगार स्थापना के लिए प्रशिक्षण के साथ ही 3 लाख रूपये तक का ऋण कराया जाएगा उपलब्ध*

*प्रशिक्षण पूर्ण होने पर टूलकिट खरीदने के लिए भी प्रदान किये जाएंगे 15 हजार रूपये*

*-इन्द्र विक्रम सिंह, डीएम अलीगढ़*


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ |देश भर के शिल्पकारों के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना आरम्भ की गयी है। इसके तहत पात्र लाभार्थियों को स्वरोजगार स्थापन के लिए प्रशिक्षण के साथ ही 3 लाख रूपये तक का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। मा0 प्रधानमंत्री जी की महत्वाकांक्षी योजना में विशेष बात यह है कि प्राप्त ऋण पर 05 फीसद का ब्याज लगेगा। 

जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने उक्त जानकारी कलैक्ट्रेट सभागार में दी, वह पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान

योजनान्तर्गत जिलास्तरीय क्रियान्वयन समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि योजना का उद््देश्य कौशल का सम्मान करने के साथ कारीगरों एवं शिल्पकारों को कौशल व वित्तीय रूप से मजबूत करना है। इसमें प्रशिक्षण पूर्ण होने पर टूलकिट खरीदने के लिए 15 हजार रूपये भी प्रदान किये जाएंगे। 

बैठक का संचालन करते हुए उपायुक्त उद्योग बीरेन्द्र कुमार ने बताया कि योजना में 17 सितम्बर से 1500 के सापेक्ष अब तक 7165 आवेदन पत्र प्राप्त हुये है। ग्रामीण क्षेत्र के 3769 एवं नगरीय क्षेत्र के 3396 आवेदन शामिल हैं। उन्होंने बताया कि नगरीय क्षेत्र में 1540 जबकि ग्रामीण क्षेत्र मंे अभी मात्र 33 आवेदन पत्रों का प्रथम चरण में सत्यापन हुआ है। नगरीय क्षेत्र में से 64 आवेदक अपात्र रहे हैं। जिलाधिकारी ने अवशेष आवेदन पत्रों को जल्द से जल्द सत्यापित करने के लिए नगर आयुक्त, डीपीआरओ समेत सभी अधिशासी अधिकारियों एवं बीडीओ को निर्देशित किया। 

बैठक में पाया गया कि दर्जी एवं राजमिस्त्री ट्रेड के लिए सर्वाधिक आवेदन पत्र प्राप्त हुये हैं। अन्य ट्रेडों मंे अपेक्षाकृत आवेदन पत्रांे की संख्या अत्यन्त कम है। ऐसे में सभी ट्रेडों से लाभान्वित किये जाने के उद्देश्य से समिति द्वारा निर्णय लिया गया कि दर्जी एवं राजमिस्त्री ट्रेड को छोडकर अन्य ट्रेडों से सम्बन्धित जिन आवेदन पत्रांे को प्रथम स्तर से सत्यापित किया जा चुका है, उन समस्त आवेदन पत्रांे को राज्य स्तरीय समिति को अग्रसारित किया जाये। निर्धारित लक्ष्य से अधिक आवेदन पत्र अग्रसारित किये जाने के सम्बन्ध में सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार से मार्गदर्शन प्राप्त कर करने के निर्देश दिये गये। 

बैठक एमएसएमई मंत्रालय द्वारा नामित सदस्य अनेकपाल सिंह, प्रधानाचार्य आईटीआई, जिला समन्वयक कौशल विकास मिशन, जिला अग्रणी बैंक प्रबन्धक, सहायक निदेशक सूचना संदीप कुमार समेत बृजेश यादव, राजमन विश्वकर्मा, छत्रपाल एवं रवि द्वारा प्रतिभाग किया गया। 

--

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)