जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

फर्जी CBI कर्मचारी को किया गया गिरफ्तार, फर्जी दस्तावेज बरामद

0

 


स्वयं को सीबीआई कर्मचारी के तौर पर पेश करने वाले एक परनामधारी को सीबीआई ने  गिरफ्तार किया  एवं तलाशी के दौरान,  सीबीआई का नकली  पहचान पत्र, जाली नोटिस आदि सहित फ़र्जी  दस्तावेज़ बरामद किया

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, नई दिल्ली | सीबीआई कर्मचारी के तौर पर पेश करने वाले एक परनामधारी (Impersonator) को  सीबीआई ने  गिरफ़्तार किया, जिसके विरुद्ध सीबीआई ने मामला दर्ज किया था।  सीबीआई कर्मचारी  के तौर पर स्वयं को  परनामधारित करने  एवं  जबरन वसूली व  जालसाजी आदि के कुछ आरोपों  पर जिला मेरठ (उत्तर प्रदेश) निवासी रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के एक सिपाही  के विरुद्ध मामला दर्ज किया। आरोपी,  जुलाई 2022 के दौरान सीबीआई में प्रतिनियुक्ति पर आया था एवं  उसे मार्च, 2023 में समय से पूर्व उसके मूल संगठन आरपीएफ में वापस भेज दिया गया था। यह आरोप है  कि सीबीआई से वापस जाने  के पश्चात, उसने स्वयं  को सीबीआई (मुख्यालय), दिल्ली में कार्यरत  सीबीआई कर्मचारी   के रूप में परनामधारित करने के लिए नकली  सीबीआई पहचान पत्र का प्रयोग  किया एवं  मुजफ्फरनगर के  व्यापारी को एक मामले में कथित तौर पर सी.बी.आई. द्वारा जारी फ़र्जी  नोटिस देने हेतु  नया मंडी पुलिस स्टेशन, मुजफ्फरनगर, (उत्तर प्रदेश) की सहायता ली।

आगे यह आरोप है  कि उक्त सीबीआई मामले में राहत दिलाने के लिए आरोपी ने व्यवसायी से धनराशि  की मांग की। यह भी आरोप है  कि आरोपी  ने व्यवसायी को भूमि विवाद मामले में किसी अन्य व्यक्ति के साथ समझौता करने की धमकी दी, जिस पर उनके मध्य  मुकदमा चल रहा था। दिल्ली एवं  मेरठ में आरोपियों   के परिसरों में तलाशी ली गई, जिसमें जाली दस्तावेज बरामद हुए, जिनमें  सीबीआई का नकली पहचान पत्र, एक आपराधिक मामले में कथित तौर पर सीबीआई द्वारा जारी सीआरपीसी की धारा 91 के तहत जाली नोटिस व  अन्य आपत्तिजनक दस्तावेज सहित फ़र्जी दस्तावेज़ बरामद हुए। इसके अलावा   जिला मेरठ में उक्त एक अन्य व्यक्ति के आवासीय परिसर में तलाशी के दौरान आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद किए गए। आरोपी को  सीएमएम, आरएडीसी, नई दिल्ली की अदालत में आज  पेश किया जा रहा है। इस मामले में जाँच जारी है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)