जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

#Harduaganj: खेत से बोरिंग के पाईप उखाड़कर कराये चोरी मामले में SSP से मिला पीड़ित, कार्रवाई के निर्देश

0



-कोर्ट में विचाराधीन मुकदमे में समझौता कराने को लेकर प्रधानपति की ओछी हरकत

-पीड़ित किसान के बेटे ने दी थाने में तहरीर, दूसरे दिन भी देर शाम तक चली पुलिस की जाँच

-मंगलवार सुबह एसएसपी के पास पंहुचा पीड़ित किसान, मदद की लगायी गुहार 


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम ,अलीगढ़| जनपद के हरदुआगंज थाना इलाके में अजब-गजब मामला सामने आया है| थाना इलाके के उखलाना ग्राम पंचायत की प्रधान ललितेश देवी के पति धर्मेंद्र चौहान पर किसान के खेत में लगी बोरिंग को जेसीबी से उखाड़कर चोरी कराने का सनसनीखेज आरोप लगाया है| मामले की तहरीर पीड़ित किसान के बेटे ने पुलिस कंट्रोल रूम ११२ पर फ़ोन करके पुलिस को दी| सूचना पर पहुंची पीआरवी की टीम ने घटना का मुआयना किया| कोई कार्रवाई नहीं होने पर पीड़ित किसान के बेटे ने लिखित तहरीर हरदुआगंज थाने में दी है| लेकिन सोमवार को देर शाम तक पुलिस मामले की जाँच के नाम पर पीड़ित किसान और उसके बेटे को टरकाती रही| मंगलवार को पीड़ित किसान और उसका बेटा अपनी फरियाद लेकर एसएसपी कार्यालय पंहुचा|  एसएसपी ने मामले में मुक़दमा दर्ज कर कार्रवाई का भरोसा पीड़ित को दिया है| 


हरदुआगंज पुलिस को दी तहरीर में गांव सफेदपुरा के रहने वाले गजेन्द्र कुमार पुत्र प्रेमदेव सिंह ने आरोप लगाया है कि सोमवार को लगभग सुबह 11 बजे करीब वह कासिमपुर-साधुआश्रम रोड़ उखलाना गांव स्थित अपने खेत पर गया था तो वहां देखा कि खेत के एक कोने पर नलकूप बोरिंग को जेसीबी मशीन से खोदकर उसके लोहे के पाईपो को चोरी कर लिया है| शिकायत में आरोप लगाया गया है कि इस घटना को उखलाना ग्रामपंचायत प्रधानपति धर्मेन्द्र चौहान पुत्र वीरेंद्र सिह ने अंजाम दिया है| क्योकि प्रधान पति धर्मेंद्र चौहान इसी रोड पर चैहान ईट उद्योग नाम से भट्टा चलता है|  इसी भट्टे पर खड़ी होने वाली जीसीबी मशीनों से साजिश के तहत बीती रात्रि में बोरिंग को खुदकर उससे बोरिंग के लोहे के पाइपो को उखड़वाकर अपने गुर्गो से चोरी करावा दिया| इतना ही नहीं रात्रि में ही खेत में खड़ी गेहूं की फसल को जहरीली कीटनाशक दवा छिड़ककर बर्बाद कर दिया|

    शिकायतकर्ता गजेंद्र कुमार ने बताया कि प्रधान पति ने इससे पहले भी उसे अपने गुड़ो द्वारा 24/06/2022 को जान से मारने की नीयत से हमला करवाते हुए, बेरहमी से पीटा था. जिसका मुकद‌मा मा० CJM कोर्ट अलीगढ़ में विचाराधीन है| इसी मुकदमें में आरोपी प्रधानपति धर्मेन्द्र चौहान समझौता करने के लिए मुझपर और मेरे परिवार पर धमकी देते हुए दबाव बना रहा है| इसी के तहत प्रधानपति धर्मेन्द्र और उसके गुंडों ने दिनांक 16/12/2023 को मुकदमे की तारीक करते समय अपने अधिवक्ता सरदार मुकेश सैनी के विस्तर के निकट विद्युत संवत्र पर मुझे थेर लिया व जान से मारने की धमकी दी थी। इस मुकदमे को बापिस नहीं लेने से प्रधान पति धर्मेन्द्र चौहान उसे और उसके पिता, भाई को लगातार परेशान कर रहे है| शिकायतकर्ता का कहना है कि प्रधानी पद के गुरूर में यह अन्य लोगों को भी डरा धमकाकर उनके खिलाफ फर्जी मुकदमें दर्ज करवाते रहे है| पैसे और राजनीतिक रसूक के दम पर इलाका पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं कराती है|



....ग्राम पंचायत में शिकायतकर्ताओ को भी धमकी

ग्राम पंचायत उखलाना के प्रधानपति पर यह कोई पहला आरोप नहीं है| श्री ठाकुर बाबा ट्रस्ट से जुड़े  विकाश बाबू  ने भी जब पंचायत में आवारा घूम रहे गोबंशो के लिए बनायीं गयी गोशाला में व्याप्त अनियमितताओं कि शिकायत जिलाधिकारी से की तो प्रधानपति ने मोबाइल पर खुलेआम घर में घुसकर मारने की धमकी तक दी थी|


... एसएसपी से पीड़ित किसान ने की फरियाद 

सोमवार देर रात तक मामले में मुक़दमा दर्ज नहीं होने और लगातार मिल रही धमकियो से परेशान पीड़ित किसान और उसके बेटे ने एसएसपी अलीगढ कार्यालय पर जाकर फरियाद की|  एसएसपी को पीड़ित ने आप बीती बयां करते हुए बताया कि इलाका हल्का इंचार्ज ने सोमवार को देर शाम तक जाँच ने नाम पर उन्हें खेत से थाने और थाने से खेत तक घुमाया, परन्तु रिपोर्ट दर्ज नहीं की| अब मुझे व मेरे परिवार को प्रधानपति धर्मेन्द्र चौहान और उसके गुंडे कभी भी बड़ा नुकसान, हत्या आदि उपरोक्त ताजा घटना की तरह अंजाम दे सकते है| 

पीड़ित किसान प्रेमदेव का कहना है की जब  उसके बेटे ने पुलिस कंट्रोल रूम 112 पर दोपहर 12:40 PM बजे शिकायत कर दी थी, मौके पर पहुँची पुलिस टीम ने JCB को पहियों के निशान, खुदी हुई गि‌ट्टी व हिड्‌दी हुई कीटनाशक दवा को देखते हुए थाने में आकर प्रार्थनापन देकर मुकदमा दर्ज कराने की सलाह दी. जिस पर पाह थाने भी गए लेकिन चौकी इंचार्ज साधु आश्रम ने जाँच क़े नाम पर आरोपी को थाने बुला लिया, आरोपी ने थाने मे पुलिस की मौजूदगी मे भी गाली गलौच और जान से मारने की धमकी दीं| बाबजूद इसके सोमवार देर शाम तक पुलिस ने मुक़दमा दर्ज नहीं किया| मंगलवार सुबह  वह एसएसपी से मिले उन्होंने मुक़दमा दर्ज कर कार्रवाई का आश्वाशन दिया है|


एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)