जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

चण्डौस ब्लॉक के वृहद गौ-संरक्षण केंद्र ओगर नगला राजू का निरीक्षण

0


डीएम ने वृहद गौ-संरक्षण केंद्र ओगर नगला राजू एवं तहसील गभाना का किया निरीक्षण


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ : जिलाधिकारी विशाख जी0 द्वारा चण्डौस ब्लॉक के वृहद गौ-संरक्षण केंद्र ओगर नगला राजू का निरीक्षण किया गया। डीएम ने चिकित्सा, उपचार एवं टैगिंग के लिए आइसोलेशन वाटिका तैयार किए जाने के निर्देश देते हुए एसएफसी पूलिंग से अतिरिक्त शेड बनाए जाने के निर्देश दिये। गोबर से उत्पाद बनाए जाने के लिए स्वयं सहायता समूहों को जोड़ने एवं बायोगैस प्लांट से उत्पन्न गैस का समुचित उपयोग किए जाने के भी निर्देश दिये। डीएम ने मुख्यमंत्री सहभागिता योजना में अधिक से अधिक गौवंश वितरित कर लाभार्थियों को सुपुर्द करने के निर्देश दिये। 

 निरीक्षण के दौरान वृहद गौ-संरक्षण केंद्र में 732 गौवंश संरक्षित पाए गये। चारागाह की भूमि पर 105 बीघा में जई एवं 15 बीघा में नैपीयर घास उगागर गौवंश को उपलब्ध कराया जाना बताया गया। भूसा एवं दाना पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। सीवीओ डा0 दिनेश तौमर ने बताया कि गौशाला में दो नए टिनशेड निर्माण के लिए स्वीकृत हैं, जिससे गौ-संरक्षण केंद्र की क्षमता 1000 की हो जाएगी। सहभागिता योजना में गौशाला से 63 लाभार्थियों को 138 गौवंश प्रदान किए गये हैं। 


गभाना तहसील निरीक्षण :

 जिलाधिकारी विशाख जी0 ने गभाना तहसील के निरीक्षण के दौरान पूछताछ केंद्र, मतदाता पंजीकरण केंद्र, नजारात, भूलेख कम्प्यूटर कक्ष, रजिस्ट्रार कानूनगो कक्ष, कार्यालय उप निबंधकपूर्ति निरीक्षक कार्यालय का भ्रमण कर अधिकारियों व कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कार्यालयों में रजिस्टर व्यवस्थित होने चाहिए एवं सफाई व्यवस्था को और बेहतर किया जाये। डीएम ने प्रभारी तहसीलदार को निर्देशित किया कि जाति, आय, मूलनिवास प्रमाण पत्र लंबित न रहें। पूछताछ केंद्र पर रोटेशन के आधार पर कर्मचारी की तैनाती अनिवार्य रूप से करने के निर्देश दिये ताकि आंगतुकों को इधर-उधर भटकना न पड़े। 

 जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान वीआरसी से 23 जनवरी 2024 के बाद मतदाता सूची में नाम जोड़े जाने के लिए लंबित आवेदन पत्रों के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश दिये। तहसील आए किसान से खतौनी के एवज में लिए जा रहे शुल्क के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने पत्रावलियों का उचित रखरखाव समेत परिसर व कार्यालयों में समुचित साफ-सफाई रखने के निर्देश दिये। उन्होंने एसडीएम को निर्देशित किया कि कर्मचारियों की समय से उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। इस दौरान उन्होंने तहसील के पटलों के साथ ही सब रजिस्ट्रार एवं आपूर्ति कार्यालय का भी निरीक्षण किया।  

------

                                                              

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)