जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

नेशनल स्मॉल इण्डस्ट्रीज कॉरपोरेशन अलीगढ़ के सौजन्य से धर्म समाज महाविद्यालय में हुआ उद्यमी शिविर

0

अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ| धर्म समाज महाविद्यालय में ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सैल के तत्वाधान में नेशनल स्मॉल इण्डस्ट्रीज कॉरपोरेशन अलीगढ़ के सौजन्य से उद्यमी शिविर, बिज़नेस आइडिया-ट्रेनिंग, डाक्युमेंटेशर-सपोर्ट का आयोजन हुआ, जिसमें 200 छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। स्वागत उदबोधन प्राचार्य डा० मुकेश भारद्वाज ने किया, उन्होंने कहा कि उद्यमी बनने के लिए पूँजी निवेश के साथ साहस एवं धैर्य  की नितान्त जरूरत है अतः छात्र-छात्रायें सीढी दर सीठी चढ़े। एन एस आई सी के मैनेजर श्री मसूद अहमद ने बताया कि NSIC एक ट्रेनिंग, टैक्नीकल सपोर्ट के साथ-साथ उद्यमी बनने का सपना भी पूरा करता है। सूक्ष्म, लघु व मध्यम स्तर के उद्योगों का बढ़ावा होने से देश में जी.डी.पी बढ़ता है जो राष्ट्र की विकासशील अर्थव्यवस्था  को  विकसित अर्थव्यवस्था बनने में मददगार करता है।


MIKA  कारपोरेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर मुकेश जी ने सफल उद्यमी बनने के मूलमंत्र A से Z तक बताते हुए बिजनेस को गुणवत्तापूर्ण उत्पाद निर्माण के साथ ग्राहको-मुखी उद्देश्य पर बल दिया। मूलमंत्र -'अपने देश में अपना बिजनेस, अपना मुनाफा और अपनों का विकास' समझाया| मिस पावन कपूर (डायरेक्टर मीका) ने  बिजनेस के विभिन्न क्षेत्रों जैसे- कृषि एवं खाद्य पदार्थ, आयुर्वेदिक, पूजा सामग्री, वस्त्र एवं फैशन डिजाइन, इंटीरियर डेकोरेशन, कृषि एवं सेवा केंद्र खोलने आदि पर चर्चा की।


 श्री भुवन (रिसर्च हेड मीका) की ओर से करोडपति बनने के गुण, प्रोडक्ट, ब्रान्ड, पार्टनरशिप, हुनर, स्थान पर सही निर्णय लेना, शुभ कार्यों में सही कर्मों से लाभ कमाने जोखिम सहना, अनिश्चितता सहना, धैर्य वनाये रखना आदि गुणों पर प्रकाश डाला गया और बिज़नेस रिपोर्ट बनाना भी सिखाया ।  'उद्यमी शिवर' द्वारा कॉलेज के छात्र / छात्रों  को  उद्यमी  बनने की स्किल दी गयी व उन्हें सिखाया गया की कैसे  धैर्य व साहस जुटाकर एक सफल उद्यमी बना जा सकता है।  श्री देवेंद्र गौतम डिप्टी मैनेजर NSIC की ओर विभिन्न सरकारी योजनाओ के बारे में बताया गया। 


संचालन कार्यक्रम समन्वयक डॉ० मोनिका वार्ष्णेय द्वारा किया गया, इस कार्यक्रम के सफल आयोजन में ट्रेनिंग/प्लेसमेंट सदस्य डॉ सुरेंद्र पाल सिंह, डॉ0 स्वाती गुप्ता, डॉ0 वी० आर० सिंह, डॉ0 आशीष प्रकाश, डॉo प्रतीक अग्रवाल, डॉ जे0 के0 शर्मा, डॉ0 सिम्मी, डॉ0 अजय, डॉ0 सचिन, डॉ0 फहद, डॉ0 पवन, डॉ0 कुमुद, डॉ0 मिनाक्षी   की अग्रणी भूमिका रही। महाविद्यालय के छात्रों में लव वार्ष्णेय , विभोर गुप्ता , आर्ची गुप्ता  आदि भी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)