जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

परिवहन विभाग में स्थानांतरण के नाम पर उगाही का खेल, शिकायत दर्ज कराई

0


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ़| अलीगढ़ डिपो तथा बुद्ध विहार डिपो में जारी भ्रष्टाचार जो जनसामान्य में सुर्खियों में है के प्रति पर्यावरण एवं पर्यटन विकास समिति के प्रबंधक सचिव रंजन राना ने मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई है कि जनपद अलीगढ़ में महानगर स्थित अलीगढ़ डिपो और बुद्ध विहार डिपो के चालक तथा परिचालकों के साथ हो रहे लगातार अन्याय एवं शोषण की सुर्खियां आमजन में फैल रही हैं और उत्तर प्रदेश सरकार की बदनामी हो रही है। रोड़वेज के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मिलीभगत से तीस चालीस चालकों तथा परिचालकों के स्थानांतरण की कार्यवाही शासन द्वारा जारी आदेश को बताकर की जा रही है और दुखदाई बात यह है कि स्थानांतरण रोकने के नाम पर पर्दे के पीछे अनैतिक रूप से मोटी रकम वसूली जा रही है।

जनसाधारण के अनुसार श्री रिजवान का स्थानांतरण अलीगढ़ से एटा डिपो, श्री पंकज कुमार पुत्र गोपी सिंह का स्थानांतरण अलीगढ़ से बुद्ध विहार डिपो, श्री नीटू पुत्र भगवत स्वरूप शर्मा का स्थानांतरण अलीगढ़ से बुद्ध विहार डिपो, श्री राजकुमार पुत्र चरन लाल का स्थानांतरण अलीगढ़ से एटा डिपो तथा मौहम्मद आरिफ पुत्र नन्ने खां का स्थानांतरण अलीगढ़ से एटा डिपो आदि की कार्यवाही हुई परंतु वसूली रुपी भ्रष्टाचार के चलते उक्त श्री रिजवान, श्री नीटू, श्री राजकुमार तथा श्री पंकज का स्थानांतरण रद्द कर पुनः अलीगढ़ डिपो से संबंध कर दिया गया है।

श्री राना ने परिवहन निगम के जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारियों से पूछते हुए कहा कि उक्त विभागीय कार्यवाही किस उच्च अधिकारियों द्वारा कार्यान्वित कराई जा रही हैं, पूर्ण रूप से जनता में मखौल उड़ाते हुए प्रचलित हो रही हैं। और यह भी कहा जा रहा है कि अलीगढ़ डिपो एवं बुद्ध विहार डिपो से संबंध 80 (अस्सी की संख्या में लगभग) चालकों व परिचालकों का मासिक वेतन भी विभाग पर समय पर पैदा नहीं हो रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)