जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

घर-घर दस्तक देकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया, जिलाधिकारी ने लिया जायजा

0


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ|  भारत निर्वाचन आयोग की विशेष पहल के निर्देशन पर दिव्यांग एवं 85 प्लस बुजुर्ग मतदाताओं को घर-घर जाकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया गया। इसके लिए शुक्रवार को प्रातः से ही पोलिंग पार्टियों को कलैक्ट्रेट से रवाना किया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी विशाख जी0 ने भ्रमण कर मतदान का जायजा लिया।



आपको बता दें कि भारत निर्वाचन आयोग की मंशा है कि प्रत्येक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके, इसलिए दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं को घर से मताधिकार का प्रयोग करने के लिए कार्मिकों द्वारा उनके घर-घर दस्तक देकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी विशाख जी0 ने बरौली विधान सभा में पोस्टल बैलेट के माध्यम से कराए जा रहे मतदान कार्य का स्थलीय निरीक्षण करते हुए बताया कि निर्वाचन आयोग ने मतपत्र सुविधा से वोटिंग की यह सुविधा 40 फीसदी दिव्यांगता वाले दिव्यांगजन एवं 85 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गो को,  बूथ तक जाने में असमर्थ हैं, के लिए शुरू की है। उन्होंने कहा कि बुजुर्गों और दिव्यांगों को घर पर मतदान की सुविधा देना आयोग की उनके प्रति देखभाल और सम्मान की अभिव्यक्ति है।



अपर जिलाधिकारी न्यायिक एवं प्रभारी अधिकारी मतपत्र अखिलेश यादव ने बताया कि 15-लोकसभा संसदीय क्षेत्र के लिए 266 दिव्यांग एवं 85 प्लस बुजुर्ग मतदाताओं को मतपत्र के माध्यम से मतदान के लिए चिन्हित किया गया है। मतदान कराने के लिए 01 वीडियोग्राफर, सुरक्षा कर्मी एवं 02 मतदान अधिकारियों एवं 01 माइक्रो ऑब्जर्बर की 05 सदस्यीय 29 टीम लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 252 मतदाताओं से मतदान करा लिया गया है, शेष बचे 14 मतदाताओं को मताधिकार का प्रयोग कराने के लिए एक और अवसर प्रदान करते हुए शनिवार को पोलिंग पार्टियां भेजी जाएंगी। एडीएम न्यायिक ने विधानसभावार जानकारी देते हुए बताया कि कोल में 42 के सापेक्ष 40, शहर में 45 के सापेक्ष 42, बरौली में 45 के सापेक्ष 43, अतरौली में 53 के सापेक्ष 49 एवं खैर में 81 के सापेक्ष 78 मतदाताओं ने मतदान किया।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)