जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

#AMU| एनएसएस में मेरा भारत पोर्ट और डिजिटल साक्षरता पर कार्यक्रम आयोजित

0


अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ|  अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा कार्यक्रम अधिकारियों को ‘मेरा भारत पोर्टल और डिजिटल साक्षरता’ कार्यक्रम से परिचित कराने के लिए मार्गदर्शन-सह-अभिनंदन बैठक का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि, डॉ. मंजू सिंह, ओएसडी और राज्य संपर्क अधिकारी, एनएसएस सेल, उच्च शिक्षा विभाग,  उ.प्र. सरकार ने प्रतिभागियों के साथ बातचीत की और उन्हें डिजिटल साक्षरता के महत्व और छात्र पंजीकरण के लिए मेरा भारत पोर्टल के उपयोग के बारे में मार्गदर्शन प्रदान किया।


डॉ. सिंह ने भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए विकासात्मक कार्यक्रमों और योजनाओं में युवाओं की भागीदारी के महत्व पर जोर दिया और कार्यक्रम अधिकारियों से संसाधनों को सही दिशा में निर्देशित करने का आग्रह किया। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति और राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत अपनाए गए राष्ट्रवादी गतिविधियों में युवाओं की भागीदारी के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कार्यक्रम समन्वयक डॉ. अरशद हुसैन के मार्गदर्शन में एएमयू एनएसएस टीम की गतिविधियों की सराहना की। इस दौरान समस्त कार्यक्रम अधिकारी मौजूद रहे।


मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह मनाया गया

अलीगढ़ 27 मईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के सामुदायिक चिकित्सा विभाग के ग्रामीण स्वास्थ्य प्रशिक्षण केंद्र (आरएचटीसी) और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी), जवां द्वारा मनोचिकित्सा विभाग, एएमयू के सहयोग से प्रोफेसर सायरा मेहनाज, विभागाध्यक्ष, सामुदायिक चिकित्सा विभाग और डॉ. जितेंद्र कुमार के मार्गदर्शन में ‘मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह’ के उपलक्ष्य में एक चर्चा और स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया।


डॉ. अंकित सिंह (चिकित्सा अधिकारी, सीएचसी, जवां) ने कार्यक्रम का उद्घाटन किया।डॉ. शुभम उपाध्याय (जेआर 2) और डॉ. अमीर अय्यूब (जेआर 1) ने चर्चा के मुख्य विषय पर प्रकाश डाला और डॉ. शैलजा सिंह (एसआर) ने विभिन्न प्रकार के मानसिक स्वास्थ्य विकारों, उनके लक्षणों और उपचारों पर चर्चा की। डॉ. श्रेया अग्रवाल ने मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों के बारे में समाज में फैले मिथक पर बात की और आरएचटीसी, सीएचसी और जेएन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उपलब्ध उपचार सुविधाओं पर प्रकाश डाला।


बाद में, आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक शैक्षिक शिविर का आयोजन किया गया ताकि उन्हें मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों और रोगियों को सहायता प्रदान करने के तरीके के बारे में जागरूक किया जा सके।डॉ. शैलजा सिंह ने स्वास्थ्य प्रणाली के जमीनी स्तर पर आशा कार्यकर्ताओं के महत्व को बरकरार रखा और उन्हें सामान्य मानसिक स्वास्थ्य बीमारियों, उनके लक्षणों और विभिन्न केंद्रों पर उपलब्ध विभिन्न उपचार सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। डॉ. अबसार अहमद, डॉ. हरप्रिया एन., डॉ. शुभम उपाध्याय, डॉ. आदर्श मोहन, डॉ. अजिता, डॉ. चंद्रमौली मित्रा, डॉ. मोहम्मद बिलाल, डॉ. प्रभाकरन एस, डॉ. अमीर अय्यूब और डॉ. श्रेया अग्रवाल ने आशा कार्यकर्ताओं के लिए वार्ता और स्वास्थ्य शिविर आयोजित करने में मदद की।


रसायन विज्ञान विभाग के छज्ञत्रों का औद्योगिक भ्रमण

अलीगढ़, 27 मईः अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कम्युनिटी कॉलेज के बीएससी औद्योगिक रसायन विज्ञान छठे सेमेस्टर, और बी. वोक. पॉलिमर और कोटिंग प्रौद्योगिकी, चैथे सेमेस्टर, के छात्रों ने कोणार्क पॉलीट्यूब्स प्राइवेट लिमिटेड, गभाना, अलीगढ़ का दौरा किया।


उन्होंने प्रमुख पॉलिमर प्रसंस्करण तकनीकों का निरीक्षण किया जिसमें इंजेक्शन मोल्डिंगय पाइप जोड़ों का निर्माण, एक्सट्रूजन मोल्डिंगय विभिन्न आयामों के पाइप का निर्माण और रोटेशनल मोल्डिंगय पानी की टंकियों का निर्माण अदि शामिल थे। इसके अलावा, उन्होंने प्लास्टिक परीक्षण विधियों के बारे में सीखा, जिससे पॉलिमर उत्पादन में गुणवत्ता नियंत्रण की उनकी समझ बढ़ी।

इस दौरे का मार्गदर्शन औद्योगिक रसायन विभाग के डॉ. मोहम्मद शुएब अख्तर, डॉ. मोहम्मद अजफर शैदा और मोहम्मद तारिक ने किया, साथ ही सामुदायिक कॉलेज के डॉ. रिजवान हुसैन और डॉ. सईफा बानो भी इसमें शामिल रहीं। डॉ. शहाब अली असगर नामी और डॉ. मोहम्मद जैन खान ने इस शैक्षिक भ्रमण में सहयोग किया, जिससे छात्रों के लिए व्यावहारिक शिक्षा के प्रति प्रतिबद्धता को बल मिला।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)