जनता से वित्तपोषित, UPI, PhonePe, और PayTM: 9219129243

आयुक्त अलीगढ़ मण्डल अलीगढ़ एवं आईजी ने किया मतदान केंद्रों का निरीक्षण

0


अलीगढ मीडिया न्यूज़ ब्यूरो, अलीगढ: लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए आयुक्त अलीगढ़ मंडल अलीगढ़ चैत्रा वी. एवं आईजी शलभ माथुर द्वारा छर्रा विधानसभा में नगला मानसिंह के बूथ न. 265, 266. 267, 268, 269, 270 व प्राथमिक विद्यालय अली नगर में स्थापित मतदेय स्थलों का जायजा लिया। 

     आयुक्त एवं आई जी ने इगलास विधानसभा क्षेत्र में प्राथमिक विद्यालय जारोठ के बूथ संख्या 294,  295 व प्राथमिक विद्यालय ताहरपुर  मतदान केंद्र में स्थापित 316 और 317 मतदेय स्थलों का भ्रमण कर निरीक्षण किया गया। इस दौरान अधिकारियों ने स्थानीय नागरिकों से संवाद करते हुए निर्भीक होकर मताधिकार का प्रयोग करने की अपील की। मण्डलायुक्त ने निरीक्षण के दौरान ग्रामीणों से संवाद करते हुए वोटर पर्ची प्राप्त होने के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की।

इस अवसर पर अपर नगर मजिस्ट्रेट एवं एआरओ संजय मिश्रा एवं उपलाधिकारी व एआरओ इगलास महिमा भी साथ रहे।



राष्ट्रीय लोक आदालत का आयोजन 13 जुलाई को

अलीगढ़ 04 मई 2024 (सू0वि0): माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं उ०प्र० राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार एवं जिला न्यायाधीश, अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संजीव कुमार के दिशा निर्देशन में 13 जुलाई शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन जिला न्यायालय, अलीगढ, बाह्य स्थित न्यायालयों में एवं तहसील स्तर पर किया जाना है। राष्ट्रीय लोक अदालत में न्यायालयों व विभागों में लम्बित विभिन्न प्रकृति के मामलों (जैसे फौजदारी के शमनीय वाद, धारा 138 एनआईएक्ट, धन वसूली वाद, मोटर दुर्घटना प्रतिकर वाद, श्रम वाद, विद्युत अधिनियम एवं जलकर से सम्बन्धित वाद, पारिवारिक एवं वैवाहिक वाद, भूमि अर्जन वाद, सेवा सम्बन्धित वाद अन्य दीवानी वाद, अन्य प्रकृति के वाद जो न्यायालयों में छोटे-छोटें प्रकृति के मामलें लम्बित हो) तथा उक्त के अतिरिक्त पारिवारिक, वैवाहिक विवादों के प्रीलिटिगेशन मामलों तथा प्रीलिटिगेशन स्तर पर विभिन्न बैंको, वित्तीय संस्थाओं एवं विभागों में लम्बित व प्रीलिटिगेशन स्तर के मामलों का भी निस्तारण आपसी सुलह समझौता के आधार पर किया जाना है।

अपर जिला जज एवं पूर्णकालिक सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नितिन श्रीवास्तव ने उक्त जानकारी देते हुए वादकारीगण से अपेक्षा की है कि यदि वे अपने मामले का निस्तारण 13 जुलाई को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में कराने के इच्छुक हो तो वह अपना प्रार्थना पत्र सम्बन्धित न्यायालय व कार्यालय में नियत तिथि से पूर्व प्रेषित कर राष्ट्रीय लोक अदालत का लाभ उठायें। 

---

                                                                                     


   

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)