"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

दुनिया के मजदूरों एक हो का नारा बुलन्द करें, कुर्बानियों की बदौलत ही 8 घंटे काम का अधिकार



अलीगढ मीडिया डॉट कॉम, अलीगढ| प्रदेश सरकार के मा0 मंत्रीगण, एवं मा0 स्थानीय विधायकगणों का काफिला देर सांय केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के दो बड़े प्रोजेक्ट राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय एवं डिफेंस इण्डस्ट्रियल कॉरिडोर पहुॅचा। मा0 मंत्रीगण ने सर्वप्रथम स्टेट यूनिवर्सिटी साइट का रूख किया और मौके पर चल रहे निर्माण कार्य को देखकर प्रसन्न मुद्रा में दिखे। उन्होंने इस अवसर पर यूनिवर्सिटी के मॉडल का अवलोकन किया और भवन निर्माण समेत शिक्षण सत्र के प्रारम्भ होने के विषय में अधिकारियों से आवश्यक जानकारी प्राप्त की।


                स्टेट यूनिवर्सिटी साइट का अवलोकन करने के पश्चात मा0 मंत्रीगण का काफिला  कुछ फासले पर ही बन रहे अलीगढ़ की शान डिफेंस कॉरिडोर पर पहुॅचा। डिफेंस कॉरिडोर में कराए जा रहे निर्माण कार्यों का जायजा लेते हुए मा0 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) समाज कल्याण, अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण श्री असीम अरूण ने सीधे एवं स्पष्ट शब्दों में डिफेंस कॉरिडोर में कराए जा रहे विभिन्न प्रकार के निर्माण कार्यों के लिये निर्धारित किये गये माइलस्टोन के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि परियोजना को लम्बित न रखा जाए, हमारे निरीक्षण परियोजना को गति प्रदान करना है। यदि कहीं कोई समस्या या बाधा है तो खुले मन से हमारे समक्ष रखें, सभी प्रकार की रूकावटों व समस्याओं को दूर किया जाएगा। अधिशासी अभियंता यूपीडा मनोज कुमार एवं सहायक अभियंता आर0के0 वर्मा ने बताया कि डिफेंस कॉरिडोर में ओवर हैण्ड टैंक, विद्युत सबस्टेशन बनकर तैयार हो गये हैं जबकि 6.80 किलोमीटर लम्बी बाउण्ड्रीवाल के साथ ही विद्युत लाइन शिफ्टिंग का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने आश्वस्त किया कि निर्धारित समयावधि में परियोजना को पूर्ण कर लिया जाएगा।


                भ्रमण कार्यक्रम के अन्त में मा0 मंत्रीगण द्वारा नगर निगम द्वारा संचालित आगरा रोड स्थित कान्हा गौशाला का भी निरीक्षण किया गया। मा0 मंत्रीगण द्वारा निर्देशित किया गया कि गौवंशों के भरण-पोषण में किसी प्रकार की कमी न होने दी जाए। वर्तमान में भीषण गर्मी का प्रकोप है, ऐसे में पानी एवं छाया का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि गौसेवा से बढ़कर कोई सेवा भी नहीं होती। इस दौरान मा0 मंत्रीगण एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा गौपूजन करते हुए गायों को गुड़ खिलाकर गौसेवा की गयी। गौशाला में 357 गाय संरक्षित हैं।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.