"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

यूपी के अलीगढ में खूनी संघर्ष, चोरी के आरोपियों ने बाप-बेटी को उतारा मौत के घाट, 5 गिरफ़्तार

  


अलीगढ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ़| लोधा थाना क्षेत्र का मूसेपुर गांव रविवार सुबह-सुबह गोलियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। यहां दो पड़ोसियों के बीच विवाद में एक पक्ष द्वारा की गई फायरिंग में दो लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग घायल हैं| जिन्हें जिला अस्पताल व मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। घटना की जानकारी पर अलीगढ़ एसएसपी व तमाम पुलिस फोर्स गांव मूसेपुर पहुंच गया। मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना के मूल में 1 दिन पहले एक पक्ष द्वारा दूसरे पक्ष पर चोरी करने का आरोप लगाया गया था। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया था जिनको बाद में छोड़ दिया गया। 


जानकारी के मुताविक आज रविवार को उसी घटना का परिणाम सामने आया। मामले में पुलिस की लापरवाही साफ नजर आ रही है। दरअसल मूसेपुर गांव में 1 दिन पहले लाखन सिंह ने पड़ोसियों के ऊपर दुकान में चोरी करने का आरोप लगाया था और पुलिस को सूचना दी थी। जिस पर लोधा पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया था। आरोप है कि पुलिस ने बाद में उनको छोड़ दिया। जिसके बाद आज सुबह उसी का बदला के चलते दूसरे पक्ष के लोगों के द्वारा लाखन सिंह पक्ष पर फायरिंग की गई। जिसमें 2 लोगों लाखन सिंह की बेटी राधा और उसके भाई भूरी सिंह की मौत हो गई। घायलों को अस्पताल भेजा गया है।


...घटना में घायल की जुबानी पूरी कहानी 

पीड़ित लाखन सिंह ने बताया कि कल हमारी दुकान लूट ली थी ५००००० रुपये का सामान लूटने की हमने रिपोर्ट की| पुलिस उन को उठाकर ले गई थी और उठा लेने के बाद में पुलिस ने उनको छोड़ दिया। आज सुबह हममें गोली मार दी। हमारी बेटी और भाई की हत्या कर दी। पुलिस के सामने गोली चली है। 2 लोगों की मौत हो गई भूरी सिंह की उम्र 62 साल की थी। यह मूसेपुर गांव का मामला है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.