"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

हंसनी की करेंट लगाने से हुयी मौत, वियोग में हंस ने इस तरह दी जान ...पढ़िए अनोखी प्रेम कहानी



अलीगढ मीडिया डॉट कॉम,कन्नौज| लैला मजनू और शीरी फरहाद के किस्से हमने खूब सुने  हैं। हमने ये भी सुना है कि दोनों जीते न मिल सके तो एक साथ मौत को गले लगा लिया। ऐसे ही सारस के बारे में कहा जाता है कि यह एक बार अपना जोड़ा बना लेते है तो जीते जी कभी अलग नही होते। अगर इनका एक साथी मर जाता है तो दूसरा साथी उसके वियोग में अपनी जान दे देता है। कन्नौज में सारस प्रेम की यह सच्चाई सामने आयी। यहां एक सारस की बिजली के करंट से मौत हुई तो साथी सारस ने रो रोकर उसके पास ही अपनी जान न्योछावर कर दी। 

    

एक दूसरे के गले मे गला डालकर मौत की नींद सो रहा यह जोड़ा उत्तर प्रदेश के राज्य पक्षी सारस का है। प्रेम और विश्वास किसे कहते हैं यह बात इनकी मौत से बयां होती है। एक दूसरे के साथ जीने मरने की भावना दर्शाती यह तस्वीर कन्नौज के हसेरन ब्लॉक अंतर्गत उदयपुर गांव से सामने आयी है। यहां देर शाम हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने पर एक सारस झुलसकर गिर गया था। थोड़ी देर में ही सारस की मौत हो गयी। यह देख उसके साथ उड़ रहा दूसरा सारस शव के पास ही बैठ गया और रोने लगा। रास्ते से गुजर रहे ग्रामीण भी यह अगाध प्रेम देख भावुक हो गये। आज सुबह ग्रामीणों ने देखा कि दूसरा सारस भी पहले साथी की गर्दन में गर्दन डाले मौत की नींद में सो रहा था। सुनी हुई बा को अपने सामने सच होता देख कई ग्रामीणों की आंखे भी हम हो गयीं। कुछ ग्रामीणों ने दोनों के शवों की यात्रा निकाल अंतिम संस्कार भी कर दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.