"..किसी भी खबर पर आपत्ति के लिए हमें ई-मेल से शिकायत दर्ज करायें"

ईद-उल-अजहा| ज़िला मजिस्ट्रेट ने एसएसपी के साथ शाहजमाल में ईदगाह अधिकारियों के साथ की बैठक


अलीगढ़ मीडिया डॉट कॉम,अलीगढ|  जिला मजिस्ट्रेट इन्द्र विक्रम सिंह ने ईद-उल-अजहा पर्व पर कानून व्यवस्था एवं साम्प्रदायिक सौहार्द चुस्त दुरूस्त रखने के दृष्टिगत जनपद में आवश्यक व्यस्थायें सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि बक़रीद का पर्व हर्षाल्लास, आपसी मेलजोल, सांप्रदायिक सौहार्द एवं भाईचारे के साथ मनाया जाए। यदि कोई व्यक्ति किसी प्रकार से माहौल खराब करने की कोशिश करता है तो उसके विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि ईद-उल-अजहा के अवसर पर साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखते हुए बिजली एवं जलापूर्ति को निर्बाध बनाये रखा जाए। नमाज स्थलां, नमाजियों के आवागमन के मार्ग पर सफाई आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करा ली जाय। आवागमन के मार्गां पर आवारा पशु एवं जानवरां को धर पकड़ कर हटवाना सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि गैर परम्परागत रूप से ध्वनि विस्तारक यंत्रो का प्रयोग नियमानुसार ही सुनिश्चित कराया जाय। मस्जिदों व ईदगाह के आवागमन मार्गां एवं मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में विशेष सर्तकता व पुलिस प्रबन्ध किया जाए।

जिला मजिस्ट्रेट इन्द्र विक्रम सिंह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के साथ शाहजमाल ईदगाह परिसर में ईदगाह इंतजामिया के सदस्यों, क्षेत्रीय नागरिकों व पार्षद गणों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि क्षेत्र में साफ़ सफाई, प्रकाश एवं पेयजल सुनिश्चित करायेंगे। इसी प्रकार अधिशाषी अभियन्ता विद्युत आपूर्ति की निरंतरता सुनिश्चित किये जाने एवं अघोषित विद्युत कटौती पर विशेष ध्यान दिये जाने हेतु व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे। कानून व्यवस्था एवं साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये रखने हेतु अपर जिलाधिकारी नगर, नगर मजिस्ट्रेट तथा उप खण्डां में उप जिला मजिस्ट्रेट उत्तरदायी होंगे, जो अपने-अपने क्षेत्रों में उक्त सभी व्यवस्थाआें की उपलब्धतता सुनिश्चित करायेंगे। जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा सभी स्वास्थ्य केन्द्रो पर चिकित्सकों एवं अन्य आवश्यक स्टाफ की तैनाती सुनिश्चित करायेंगे और एम्बलेंस की व्यवस्था इस प्रकार सुनिश्चित करायेंगे कि आवश्यकता पड़ने पर कम से कम समय में उसका उपयोग हो सके। शरारती, असामाजिक एवं साम्प्रदायिक तत्वों पर सर्तक दृष्टि रखी जाए और सवंदेनशील एवं मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में विशेष चौकसी बरती जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि ईदगाह इंजामिया द्वारा जो भी सुझाव दिए गए हैं, उन पर गंभीरता से विचार विमर्श का अमल किया जाए। इसके साथ ही प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित गाइडलाइन का अनुपालन भी कराया जाए। त्योहार को शांतिपूर्वक मिलजुलकर मनाएं। युवाओं और बच्चों को समझाएं कि वह ऐसा कोई कार्य न करें जिससे माहौल खराब हो।

     वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने कहा कि कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त पुलिस बल की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। पुलिस अधिकारियों के साथ मजिस्ट्रेट भी तैनात किए गए हैं। मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रो में मस्जिद, ईदगाह सहित समस्त धार्मिक स्थलों पर भ्रमणशील रहकर धार्मिक स्थलों पर सीसीटीवी कैमरा की उपलब्धतता सुनिश्चित करेंगे साथ ही साथ यह भी सुनिश्चित करायेंगे कि धार्मिक स्थल एवं उसके आस पास कोई आपत्तिजनक पोस्टर स्लोगन न लिखा हो। 

महापौर मोहम्मद फुरकान ने शहर मुफ्ती की अपील को आगे बढाते हुये कहा कि हम सभी को बकरीद का त्योहार बडे अच्छे से मेल-मिलाप के साथ मनाना है। अफवाहांं पर ध्यान नहीं देना है। यदि कोई संदिग्ध व्यक्ति या सोशल मीडिया पर कोई भ्रामक पोष्ट नजर आती है तो तत्काल पुलिस प्रशासन के संज्ञान में लायें। कानून का पालन करें। ईद-उल-अजहा का त्योहार इंसानियत के पैगाम को आगे बढाने का त्योहार है। सार्वजनिक स्थानों एवं प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी न करें। कुर्बानी के उपरॉत अवशेषों को इधर-उधर न फेंका जाए। अमन-ओ-अमान एवं पुर-सुकून के साथ त्योहार को मनायें। नगर निगम द्वारा व्यापक स्तर पर तैयारियॉ की जा रहीं हैं। 

        पुलिस अधीक्षक नगर कुलदीप गुणावत ने कहा कि सभी आपसी सहयोग एवं भाईचारे के साथ मिलजुल कर त्यौहार को मनाएंगे। अराजकता किसी को नहीं करने दी जाएगी। आपसी संवाद को बनाए रखना चाहिए। व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए आपसी संवाद का होना बहुत जरूरी है। अव्यवस्था वहीं उत्पन्न होती है, जहां संवादहीनता की स्थिति पेश आती है।हम अधिकारियों के लिए पूरा शहर एक परिवार की भांति है, अफवाह एवं भ्रामकता पर कतई ध्यान ना दिया जाए। 

   नगर आयुक्त गौरांग राठी ने बताया कि बक़रीद का पावन पर्व हम सभी सामूहिक रूप से मिलजुल कर मनाएंगे। जुमा की नमाज बड़े अच्छे से सभी मस्जिदों में पढ़ी गई है। नगर निगम द्वारा पूरी तैयारियां की गई हैं और लगातार काम किए जा रहे हैं और जिन जगहों पर आप द्वारा बताया जा रहा है, साफ सफाई के साथ प्रकाश व्यवस्था एवं पेयजल की समस्या को दूर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए वाहन एवं सफाई कर्मचारी को टोलियों में लगाया गया है।



        बैठक में पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों अपर जिलाधिकारी नगर राकेश कुमार पटेल, नगर मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार वर्मा के साथ ही मोहम्मद हारुन, मोहम्मद शकील, गोरा बच्चन, हाजी चिराग, दुलारे नबी मोहम्मद, राशिद, मकसूद हुसैन, नदीम खान, आमिर खान, मोहम्मद बिलाल, नवेद इकबाल, मुस्तफा हुसैन, मोइनुद्दीन, हाजी उमर, हाजी कलीम उपस्थित रहे।

----------------------------------------------

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.